Covid-19 Update

2,05,383
मामले (हिमाचल)
2,00,943
मरीज ठीक हुए
3,502
मौत
31,470,893
मामले (भारत)
195,725,739
मामले (दुनिया)
×

HPBOSE ने घोषित किया 10वीं का परीक्षा परिणाम, 99.7 फीसदी रहा रिजल्ट

कोर्ट के आदेशों के अनुसार अस्थायी समय के लिए स्थगित किया रिजल्ट

HPBOSE ने घोषित किया 10वीं का परीक्षा परिणाम, 99.7 फीसदी रहा रिजल्ट

- Advertisement -

धर्मशाला।  हिमाचल प्रदेश स्‍कूल शिक्षा बोर्ड ने आज 10वीं का रिजल्ट घोषित कर दिया है। सोमवार सुबह से ही रिजल्ट निकाले जाने को लेकर उठापटक चल रही थी। लेकिन शाम होते होते शिक्षा बोर्ड 10वीं का परिक्षा परिणाम घोषित कर दिया। विद्यार्थी अपना परिक्षा परिणाम देखने के लिए बोर्ड की वेबसाइट https://www.hpbose.org/ पर जाकर अपना रोलनंबर डालकर रिजल्ट देख पाएंगे। इस बार रिजल्ट 99.7 फीसदी रहा है। 10वीं के 116784 छात्रों में से 116286 को उत्तीर्ण घोषित किया गया है।

बता दें कि इस वर्ष 10वीं कक्षा में 1,31,902 परीक्षार्थी हैं, जिनमें से 1,16,973 नियमित व 14,929 एसओएस से संबंधित हैं। शिक्षा बोर्ड ने परिणाम तैयार करने के लिए आंतरिक मूल्यांकन आधारित फॉर्मूला अपनाया है। लेकिन बोर्ड द्वारा उन सभी छात्र-छात्राओं को वैकल्पिक परीक्षा का अवसर दिया जाएगा, जो रिजल्ट से असंतुष्ट होंगे। ऐसे विद्यार्थी परीक्षा दे सकते हैं, जिसके लिए बोर्ड अधिकारियों से बातचीत करके पूरी जानकारी ली जा सकती है।


ये भी पढे़ं – आईटीबीपी कांस्टेबल भर्ती 2021 : आज से आवेदन कर सकते हैं उम्मीदवार

बता दें कि पहले आज सुबह रिजल्ट निकाले जाना था। पर हाईकोर्ट के निर्देंशों के बाद दसवीं कक्षा के रिजल्ट (10th class result) पर रोक लग गई । बोर्ड की ओर से दसवीं कक्षा का रिजल्ट को अस्थायी समय के लिए स्थगित कर दिया।  इसके पीछे कारण यह है कि हिमाचल हाईकोर्ट में अंक सूची तैयार करने के प्रारूप को लेकर याचिका दायर की गई है। उसी के चलते शिक्षा बोर्ड ने रिजल्ट को लेकर कोर्ट के आदेशों के अनुसार अस्थायी समय के लिए स्थगित कर दिया।

क्या बोले बोर्ड अध्यक्ष डॉ. सुरेश कुमार सोनी

बोर्ड के अध्यक्ष डॉ. सुरेश कुमार सोनी ने बताया कि अभी मेरिट जारी नहीं की जा रहा है। अगर कोई छात्र रिजल्ट से संतुष्ट नहीं होगा तो उसे अगस्त और सितंबर में अंक सुधारने अवसर दिया जाएगा। अध्यक्ष ने कहा कि एक छात्र ने हाईकोर्ट में याचिका दायर की थी। छात्र ने कहा कि कोविड के चलते वह परीक्षा नहीं दे पाया है। इससे उसे रिजल्ट में नुकसान होगा। बोर्ड अध्यक्ष ने कहा कि ऐसा नहीं है। वहीं, कोविड के चलते जो छात्र परीक्षा नहीं दे पाए गए हैं। उन्हें भी बोर्ड मौका देगा। 12 जुलाई को 10वीं कक्षा का हिंदी और 12वीं का अंग्रेजी पेपर लिया जाएगा। जो छात्र कोविड के चलते परीक्षा में भाग नहीं ले सके थे व परीक्षा दें सकेंगे। पर छात्रों को वैध प्रमाण पत्र देना होगा।

हिमाचल और देश-दुनिया की ताजा अपडेट के लिए join करें हिमाचल अभी अभी का Whats App Group 

 

 

- Advertisement -

Facebook Join us on Facebook Twitter Join us on Twitter Instagram Join us on Instagram Youtube Join us on Youtube

हिमाचल अभी अभी बुलेटिन

Download Himachal Abhi Abhi App Himachal Abhi Abhi IOS App Himachal Abhi Abhi Android App

टेक्नोलॉजी / गैजेट्स / ऑटो

Himachal Abhi Abhi E-Paper


विशेष




सब्सक्राइब करें Himachal Abhi Abhi अलर्ट
Logo - Himachal Abhi Abhi

पाएं दिनभर की बड़ी ख़बरें अपने डेस्कटॉप पर

अभी नहीं ठीक है