Covid-19 Update

3,08, 944
मामले (हिमाचल)
302, 438
मरीज ठीक हुए
4167
मौत
44,298,864
मामले (भारत)
598,393,278
मामले (दुनिया)

हिमाचल के IIT मंडी ने ओवरऑल कैटेगरी में 39 स्थानों की बनाई बढ़त

इंजीनियरिंग में 20वां, ओवरऑल में 43वां, अनुसंधान कैटेगरी में 39वां स्थान किया हासिल

हिमाचल के IIT मंडी ने ओवरऑल कैटेगरी में 39 स्थानों की बनाई बढ़त

- Advertisement -

मंडी। भारत सरकार के शिक्षा मंत्री धर्मेंद्र प्रधान (Dharmendra Pradhan) द्वारा शुक्रवार को घोषित एनआईआरएफ 2022 रैंकिंग में आईआईटी संस्थान मंडी (IIT Mandi) को इंजीनियरिंग कैटेगरी में 20वां स्थान, अनुसंधान कैटेगरी में 39वां और ओवरऑल कैटेगरी में 43वां स्थान प्राप्त हुआ है। भारतीय प्रौद्योगिकी संस्थान मंडी को भारत सरकार के शिक्षा मंत्रालय के तहत राष्ट्रीय संस्थागत रैंकिंग फ्रेमवर्क (एनआईआरएफ) द्वारा संचालित भारतीय रैंकिंग 2022 के अनुसार 60.43 स्कोर के साथ सभी इंजीनियरिंग संस्थानों में 20वां स्थान प्राप्त हुआ है। भारतीय प्रौद्योगिकी संस्थान मंडी ने ओवरऑल कैटेगरी में 39 स्थानों की शानदार बढ़त बनाई है और पिछले वर्ष 82वें स्थान से बहुत बेहतर 43वें स्थान पर आ गया है।

यह भी पढ़ें:हिमाचल में नहीं होगी पैराग्लाइडिंग और रिवर राफ्टिंग, पर्यटन विभाग ने लगाई रोक

एनआईआरएफ रैंकिंग 2022 (NIRF 2022 Rankings) में इंजीनियरिंग कैटेगरी (Engineering Category) में आईआईटी मंडी ने 20वां स्थान और अनुसंधान कैटेगरी में 39 वां स्थान प्राप्त किया है। एनआईआरएफ रैंकिंग 2022 के परिणामों की घोषणा करते हुए भारत सरकार के शिक्षा मंत्री धर्मेंद्र प्रधान ने कहा, ‘‘सभी सीएफटीआई, मान्य विश्वविद्यालयों और निजी संस्थानों को तीन फ्रेमवर्क के तहत काम करना चाहिए 1) मान्यता, 2) रैंकिंग, 3) मूल्यांकन। उन्होंने कहा, ‘‘अगले साल से नवाचार और उद्यमिता को एआरआईआईए के मानकों में से एक के रूप में शामिल किया जाएगा ताकि दोहरापन नहीं हो‘‘। रैंकिंग के बारे में आईआईटी मंडी के निदेशक प्रो. लक्ष्मीधर बेहरा ने कहा कि आईआईटी मंडी ने एनआईआरएफ रैंकिंग 2022 में बेहतर प्रदर्शन किया है जो कि खुशी की बात है। हमारे उच्च कोटि के शिक्षकों और छात्रों के अथक प्रयासों और अनुसंधान, शिक्षण और अन्य मानकों पर उनके योगदान से ही यह संभव हो पाया है। हम आगे भी हमारे शोध के बल पर आईआईटी मंडी को पूरे देश के साथ-साथ हिमाचल प्रदेश के लिए अहम् बनाए रखने के लिए कार्य करते रहेंगे।

बता दें कि आईआईटी मंडी ने पिछले वर्ष की तुलना में बेहतर एनआईआरएफ रैंकिंग दर्ज की है। संस्थान की 2021 में ‘ओवरऑल‘ रैंकिंग 82 थी जो 2022 में 43 हो गई है। ‘इंजीनियरिंग‘ में 2021 में रैंक 41 था जो 2022 में 20 हो गया है और 2021 में ‘रिसर्च‘ कैटेगरी में कोई रैंक नहीं था जो 2022 में 39 हो गया है। राष्ट्रीय संस्थान रैंकिंग फ्रेमवर्क (एनआईआरएफ) उच्च शिक्षण संस्थानों की रैंकिंग की स्वदेशी व्यवस्था है जो पूरे देश के संस्थानों की रैंकिंग करने की पद्धति तैयार करता है।

एनआईआरएफ रैंकिंग 2022 में ‘रिसर्च’ कैटेगरी के तहत विशिष्ट मानकों पर स्कोर –

ग्रेजुएशन के आउटकम – 77.55
अध्यापन, अध्ययन और संसाधन – 75.76
आउटरीच और समावेशिता – 67.16
अनुसंधान और प्रोफेशनल प्रैक्टिस – 44.05
परसेप्शन – 22.57

हिमाचल और देश-दुनिया की ताजा अपडेट के लिए join करें हिमाचल अभी अभी का Whats App Group… 

 

- Advertisement -

Facebook Join us on Facebook Twitter Join us on Twitter Instagram Join us on Instagram Youtube Join us on Youtube

हिमाचल अभी अभी बुलेटिन

Download Himachal Abhi Abhi App Himachal Abhi Abhi IOS App Himachal Abhi Abhi Android App


विशेष \ लाइफ मंत्रा


Himachal Abhi Abhi E-Paper



---------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------
सब्सक्राइब करें Himachal Abhi Abhi अलर्ट
Logo - Himachal Abhi Abhi

पाएं दिनभर की बड़ी ख़बरें अपने डेस्कटॉप पर

अभी नहीं ठीक है