Covid-19 Update

2,21,604
मामले (हिमाचल)
2,16,608
मरीज ठीक हुए
3,709
मौत
34,093,291
मामले (भारत)
241,684,022
मामले (दुनिया)

ये हैं भारत का Most Dangerous Area : यहां दफन हैं कई इमारतों की कहानियां

सूर्यास्त से पहले ही वापस चले जाते हैं घूमने आए लोग

ये हैं भारत का Most Dangerous Area : यहां दफन हैं कई इमारतों की कहानियां

- Advertisement -

मुंबई। दुनिया में कितने ही अजूबे और रहस्यमयी जगह हैं जिनके राज अभा तक भी लोग नहीं जान पाए हैं। ऐसी ही एक खास जगह है कलावंती दुर्ग (Kalavanti Durg)। ऐसे लोगों की कोई कमी नहीं है जो खतरनाक ट्रैकिंग और दुर्गम पर्यटन स्थलों पर जाना पसंद करते है और ये जगह भी ऐसी ही खतरनाक जगहों में से एक है। महाराष्ट्र के माथेरान और पनवेल के बीच स्थित कलावंती दुर्ग भी किसी आश्चर्य से कम नहीं है। यह इंडिया का मोस्ट डेंजेरस एरिया (Most Dangerous Area) माना जाता है जहां कई इमारतों की कहानियां दफन हैं।

यह भी पढ़ें: ये है दुनिया की सबसे खतरनाक जगह, इंसान ही नहीं जानवरों के जाने पर भी पाबंदी

लगभग 2300 फीट ऊंचे इस दुर्ग पर चढ़ना बेहद रिस्की है। इस किले पर चढ़ने के लिए चट्टानों को काटकर सीढ़ियां बनाई गई हैं। इन सीढ़ियों पर ना तो रस्सियां है और ना ही कोई रेलिंग। और सबसे बड़ी समस्या है जोर से चक्कर आना। कलावंती दुर्ग को प्रबलगढ़ के किले के नाम से जाना जाता है। यह हॉन्टेड प्लेस भी कहलाता है क्योंकि यहां न तो कोई जल्दी आता है और जो आया वो सूर्यास्त से पहले ही चला जाता है। मीलों दूर तक फैला सन्नाटा दर और भय का कारण बना हुआ है। यहां के खंडहर मानो चीख चीख के अपने अतीत को बयान कर रहे हों और जब रात हो जाए तो यही चीखें सनसनाती हवा के साथ चारों और गूंजती हैं जहां एक एक कदम रहस्मयी दुनिया की ओर ले जाता है।

 

पहले इस किले को मुरंजन और प्रभागढ़ के नाम से भी जाना जाता था बाद में शिवाजी महाराज ने इसका नाम बदल कर कलावंती दुर्ग रख दिया। इस किले की ऊंचाई इतनी है कि यहां से देखने पर चंदेरी, करनाल, इर्शल और माथेरान किले साफ़ दिखाई देते हैं। मुंबई शहर को भी इस किले के ऊपर से देखा जा सकता है।

हिमाचल और देश-दुनिया की ताजा अपडेट के लिए join करें हिमाचल अभी अभी का Whats App Group

- Advertisement -

Facebook Join us on Facebook Twitter Join us on Twitter Instagram Join us on Instagram Youtube Join us on Youtube

हिमाचल अभी अभी बुलेटिन

Download Himachal Abhi Abhi App Himachal Abhi Abhi IOS App Himachal Abhi Abhi Android App


विशेष \ लाइफ मंत्रा


Himachal Abhi Abhi E-Paper



सब्सक्राइब करें Himachal Abhi Abhi अलर्ट
Logo - Himachal Abhi Abhi

पाएं दिनभर की बड़ी ख़बरें अपने डेस्कटॉप पर

अभी नहीं ठीक है