Covid-19 Update

3,05, 383
मामले (हिमाचल)
2,96, 287
मरीज ठीक हुए
4157
मौत
44,170,795
मामले (भारत)
590,362,339
मामले (दुनिया)

हिमाचल में बारिश का कहर: नाहन में दो मंजिला घर जमींदोज, शिमला में कई घर खाली करवाए

हिमाचल में बारिश का कहर: नाहन में दो मंजिला घर जमींदोज, शिमला में कई घर खाली करवाए

- Advertisement -

नाहन शिमला। हिमाचल में बारिश (Rain) ने कई लोगों को बेघर कर दिया है। रविवार को हुई भारी बारिश से शिमला, नाहन और हमीरपुर जिला में दो मकान गिर गए। सिरमौर (Sirmaur) जिला के राजगढ़ उपमंडल के अंतर्गत ग्राम पंचायत सैर जगास के गांव कोटली में दो मंजिला मकान (House) गिर गया। जब यह हादसा हुआ, उस समय पूरा परिवार रसोई घर में खाना खा रहा था। यह रसोई घर से अलग बनाई थी। इसी के चलते उनकी जान बच गई। वहीं निचली मंजिल में बंधे पशुओं को नहीं बचाया जा सका। मकान के मलबे में दबने से तीन मवेशियों की मौत हो गई। पीड़ित प्रदीप कुमार ने बताया कि उन्हें लाखों का नुकसान हुआ है। वहीं पूरा परिवार खुले आसमान तले आ गया है। उन्होंने जिला प्रशासन से मदद की गुहार लगाई है।

यह भी पढ़ें:हिमाचल: ऊफान पर बह रही ब्यास, एनएच-3 तक पहुंचा पानी; वाहनों की आवाजाही बंद

वहीं राजधानी शिमला (Shimla) मे भी तीन दिन से जमकर बारिश हो रही है। जिससे शहर में जगह जगह पेड़ गिरने ओर लैंडस्लाइड (Landslide) की घटनाएं सामने आ रही है। शहर के लोअर कृष्णा नगर में पेड़ घरों के लिए खतरा बने हुए हैं। एक पेड़ को गिरा दिया गया है और अभी भी तीन पेड़ गिरने की कगार पर हैं, जोकि कभी भी गिर सकते है। इसके अलावा मलबा और पत्थर भी गिर रहे है। जिला प्रशासन ने पेड़ों और भूस्खलन को देखते हुए एक घर को खाली करवा दिया है। रविवार को नायब तहसीलदार मौके पर पहुंचे और स्थिति का जायजा लिया। उन्होंने कुछ घरों को खाली करवाने के आदेश भी दिए हैं। हालांकि लोग घर खाली नहीं कर रहे है और जिला प्रशासन से घरों के लिए खतरा बने हुए पेड़ों को काटने की गुहार लगा रहे हैं। वहीं शिमला टूट नालागढ़ रोड़ पर भी भारी भूस्खलन हुआ है। भूस्खलन के मलबे में कई वाहन दब गए हैं। बताया जा रहा है कि इस सड़क पर वाहनों की आवाजाही भी पूरी तरह से बंद हो गई है।

 

हमीरपुर में गिरा कच्चा मकान

इसी तरह से हमीरपुर (Hamirpur) जिला के अमरोहा गांव में एक कच्चा मकान गिर गया। रविवार को अमरोहा गांव के मुन्नी लाल का घर भारी बारिश के चलते ताश की पत्तों की तरह धराशाई हो गया। उन्होंने बताया कि घर का सामान भी अंदर मलबे के नीचे दब गया हैए जिसके लाखों का नुकसान हुआ है। गनीमत यह रही कि कोई जानी नुकसान नहीं हुआ।

 

हिमाचल और देश-दुनिया के ताजा अपडेट के लिए like करे हिमाचल अभी अभी का facebook page

 

 

हिमाचल और देश-दुनिया की ताजा अपडेट के लिए join करें हिमाचल अभी अभी का Whats App Group… 

 

- Advertisement -

Facebook Join us on Facebook Twitter Join us on Twitter Instagram Join us on Instagram Youtube Join us on Youtube

हिमाचल अभी अभी बुलेटिन

Download Himachal Abhi Abhi App Himachal Abhi Abhi IOS App Himachal Abhi Abhi Android App


विशेष \ लाइफ मंत्रा


Himachal Abhi Abhi E-Paper



---------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------
सब्सक्राइब करें Himachal Abhi Abhi अलर्ट
Logo - Himachal Abhi Abhi

पाएं दिनभर की बड़ी ख़बरें अपने डेस्कटॉप पर

अभी नहीं ठीक है