Covid-19 Update

2, 84, 982
मामले (हिमाचल)
2, 80, 760
मरीज ठीक हुए
4117*
मौत
43,128,786
मामले (भारत)
525,038,134
मामले (दुनिया)

ब्रेकिंगः देवभूमि क्षत्रिय संगठन के अध्‍यक्ष रुमित ठाकुर सहित तीन गिरफ्तार, देर रात हुई कार्रवाई

तीनों को शोघी से किया गिरफ्तार , आंदोलन में हिंसा व बवाल का आरोप

ब्रेकिंगः देवभूमि क्षत्रिय संगठन के अध्‍यक्ष रुमित ठाकुर सहित तीन गिरफ्तार, देर रात हुई कार्रवाई

- Advertisement -

हिमाचल प्रदेश में सामान्य वर्ग आयोग के कानूनी मान्यता देने को लेकर शिमला में हुए हंगामे के बाद पुलिस ने बड़ी कार्रवाई की है। पुलिस ने देर रात देवभूमि क्षत्रिय संगठन के अध्‍यक्ष रुमित सिंह ठाकुर व उनके दो साथियों को गिरफ्तार किया है। इन तीनों को शोघी से गिरफ्तार किया गया है। शिमला पुलिस ने गिरफ्तारी की पुष्टि की है। बुधवार को राजधानी शिमला में देवभूमि क्षत्रिय संगठन व देवभूमि सवर्ण मोर्चा पर उपद्रव मचाने पब्लिक प्रॉपर्टी को नुकसान पहुंचाने को लेकर पुलिस ने यह कार्रवाई की है।

यह भी पढ़ें- सवर्ण आयोगः रूमित ठाकुर का 2022 चुनाव लड़ने का ऐलान, कार्यकर्ताओं ने कहा ना, बिखरे

जानकारी के अनुसार रुमित ठाकुर के साथ उनके दो साथियों मदन ठाकुर व दीपक चौहान को भी पुलिस ने रात एक बजे के करीब गिरफ्तार किया है। ये सभी शोधी के करीब एक होटल में ठहरे हुए थे। इस दौरान रुमित फेसबुक पर लाइव और आए और पुलिस को रूमित की लोकेशन की जानकारी मिल गई और पुलिस ने रूमित को उसके साथियों के साथ धर दबोचा। बताया जा रहा है इन तीनों को बालूगंज थाना में रखा गया है और दोपहर तक इन्हें कोर्ट में पेश किया जाएगा। पुलिस ने इन पर दो अलग अलग मामले दर्ज किए हैं।


देवभूमि क्षत्रिय संगठन व देवभूमि सवर्ण मोर्चा पर उपद्रव मचाने पब्लिक प्रॉपर्टी को नुकसान पहुंचाने सहित अन्य धाराओं में दो मामले दर्ज किए गए है। इसमें हत्या के प्रयास की धारा 307 भी लगाई गई है। दरअसल शिमला-कालका हाईवे पर तारा देवी में प्रदर्शनकारियों ने पुलिस पर पथराव किया था, जिसमें एएसपी (ASP) समेत कई जवान चोटिल हुए। इस पर बालूगंज पुलिस ने धारा 147, 148, 149, 341, 353, 332, 307 और 147, 148, 149, 341, 188 IPC & 3 के तहत दो मामले दर्ज किए हैं। प्रदर्शनकारियों के खिलाफ सार्वजनिक संपत्ति को नुकसान पहुंचाने का मामला भी बनाया गया है। प्रदर्शनकारियों ने सरकारी तामझाम को ध्वस्त कर दिया था। धारा 144 लागू होने के बावजूद शहर में प्रदर्शन के दौरान पांच घंटे अराजकता जैसा माहौल रहा।

 

हिमाचल और देश-दुनिया के ताजा अपडेट के लिए like करे हिमाचल अभी अभी का facebook page

- Advertisement -

Facebook Join us on Facebook Twitter Join us on Twitter Instagram Join us on Instagram Youtube Join us on Youtube

हिमाचल अभी अभी बुलेटिन

Download Himachal Abhi Abhi App Himachal Abhi Abhi IOS App Himachal Abhi Abhi Android App


विशेष \ लाइफ मंत्रा


Himachal Abhi Abhi E-Paper



सब्सक्राइब करें Himachal Abhi Abhi अलर्ट
Logo - Himachal Abhi Abhi

पाएं दिनभर की बड़ी ख़बरें अपने डेस्कटॉप पर

अभी नहीं ठीक है