Covid-19 Update

2, 85, 014
मामले (हिमाचल)
2, 80, 820
मरीज ठीक हुए
4117*
मौत
43,142,192
मामले (भारत)
529,039,594
मामले (दुनिया)

शिलाई में भ्रष्टाचार की जांच करने पहुंची एडीसी सिरमौर की टीम, विधायक ने सौंपी फाइलें

विधायक हर्षवर्धन चौहान ने दफ़्तरों में छिपाई भ्रष्टाचार की फ़ाइल कमेटी के पास खुद पहुंचाई

शिलाई में भ्रष्टाचार की जांच करने पहुंची एडीसी सिरमौर की टीम, विधायक ने सौंपी फाइलें

- Advertisement -

शिलाई। हिमाचल के सिरमौर ज़िला के विकासखंड शिलाई (Shillai) में कथित भ्रष्टाचार की जांच करने के लिए एडीसी सिरमौर (ADC Sirmaur) सोनाक्षी सिंह तोमर की अध्यक्षता में एक विशेष टीम मंगलवार को शिलाई पहुंची। इस दौरान शिलाई ब्लॉक में कथित भ्रष्टाचार के कच्चे चिट्ठे लेकर विधायक हर्षवर्धन चौहान भी जांच टीम के साथ मौजूद रहे। समूचे हिमाचल प्रदेश में कथित भ्रष्टाचार को लेकर बदनाम हो चुके शिलाई विकास खंड में अनियमित्तताओ की जांच अब शुरू हो गई है। एडीसी सिरमौर सोनाक्षी सिंह तोमर की अध्यक्षता में एक विशेष टीम को डीसी सिरमौर (Sirmaur) द्वारा मामले की जांच का ज़िम्मा सौंपा गया है। मंगलवार को जांच दल ने शिलाई पहुंच कर स्थानीय विधायक की मौजूदगी में कथित भ्रष्टाचार की जांच को लेकर रूपरेखा तैयार की। इस दौरान शिलाई विकास खंड कार्यालय के दफ़्तर से विधायक हर्ष वर्धन चौहान (MLA Harsh Vardhan Chauhan) को ख़ुद ही सेकडों शिकायतों की फ़ाइल निकालकर एडीसी सिरमौर के पास लानी पड़ी।

यह भी पढ़ें: डीजीपी संजय कुंडू बोले, जहरीली शराब केस के सभी आरोपी जेल में

 

विधायक हर्ष वर्धन चौहान ने बताया की सीएम जयराम से शिकायत के बाद शिलाई ब्लॉक में चल रहे भ्रष्टाचार (Corruption) की जांच की जा रही है। उन्होंने बताया कि ब्लॉक कर्मचारीयों के द्वारा मनरेगा में भ्रष्टाचार की फ़ाइल को छुपाया जा रहा था जिसके बाद मजबूरन उन्हें ख़ुद सैंकडों फ़ाइल निकालकर जांच कमेटी के समक्ष रखनी पड़ी। उन्होंने बताया कि स्थानीय प्रधान परिषद स्वयं भी इन बातों को लेकर चिंता व्यक्त कर चुका है। उन्होंने उम्मीद जताई है कि जांच कमेटी द्वारा निष्पक्षता के साथ हर पहलू को जांचा जाएगा और शिलाई विकास खंड में चल रहे भ्रष्टाचार पर लगाम लगाने की दिशा में कार्य किया जाएगा।

विकास खंड शिलाई में कथित भ्रष्टाचार की जांच कर रहे विशेष दल की अध्यक्षा और सिरमौर की अतिरिक्त उपायुक्त सोनाक्षी सिंह तोमर ने बताया की विधायक शिलाई द्वारा प्रस्तुत लिखित शिकायत के आधार पर विभिन्न बिंदुओ के अनुसार निरीक्षण की रूप रेखा तैयार की गई है। काग़ज़ों को जांचने के बाद विभिन्न विकासकार्यों का मौक़े पर जाकर भी निरीक्षण किया जाएगा। उन्होंने स्पष्ट तौर पर बताया की अगर जांच के दौरान कोई ख़ामियां सामने आती है तो ज़िम्मेवार लोगों पर नियमानुसार कार्रवाई अमल में लाई जाएगी।

हिमाचल और देश-दुनिया की ताजा अपडेट के लिए join करें हिमाचल अभी अभी का Whats App Group

 

 

- Advertisement -

Facebook Join us on Facebook Twitter Join us on Twitter Instagram Join us on Instagram Youtube Join us on Youtube

हिमाचल अभी अभी बुलेटिन

Download Himachal Abhi Abhi App Himachal Abhi Abhi IOS App Himachal Abhi Abhi Android App


विशेष \ लाइफ मंत्रा


Himachal Abhi Abhi E-Paper



सब्सक्राइब करें Himachal Abhi Abhi अलर्ट
Logo - Himachal Abhi Abhi

पाएं दिनभर की बड़ी ख़बरें अपने डेस्कटॉप पर

अभी नहीं ठीक है