Covid-19 Update

2, 84, 982
मामले (हिमाचल)
2, 80, 760
मरीज ठीक हुए
4117*
मौत
43,131,822
मामले (भारत)
525,904,563
मामले (दुनिया)

क्या आपकी नाक बार-बार होती हैं बंद, तो अलर्ट हो जाएं

नाक कैंसर के होते हैं ये संकेत, जल्दी से करवाएं इलाज

क्या आपकी नाक बार-बार होती हैं बंद, तो अलर्ट हो जाएं

- Advertisement -

सर्दियों में या मौसम बदलने पर एक ओर नाक (Nose) का बंद हो जाना सामान्य बात है। आम तौर पर दो-चार दिन बाद नाक अपने आप खुल जाती है। हालांकि अगर इसके बाद भी एक ओर की नाक बंद रहे तो आपके लिए खतरे की बात हो सकती है। मेडिकल एक्सपर्ट (Medical Expert) के मुताबिक, यह लक्षण आपमें नाक के कैंसर का संकेत हो सकता है, जिसे नासोफेरींजल कैंसर भी कहते हैं।

यह भी पढ़ें:हमें क्यों आती हैं हिचकियां, जानें कारण और रोकने के उपाय

साइलेंट किलर होता है नॉज कैंसर

दि सन की रिपोर्ट के मुताबिक, नाक में कैंसर (Nose Cancer) होना एक प्रकार का साइलेंट किलर होता है। जिसका पहले आसानी से पता नहीं चलता। जब तक इंसान को पता चलता है, तब तक बहुत देर हो चुकी होती है और वह मौत के मुंह में पहुंच जाता है। हालांकि अगर थोड़ी सजगता बरतें तो शरीर के कुछ खास लक्षणों के जरिए जान सकते हैं कि आपको यह बीमारी है या नहीं। वे लक्षण (Symptom) क्या हैं, आज हम आपको बताते हैं।

 

नाक के पीछे होता है यह कैंसर

नाक का कैंसर, जिसे नासॉफिरिन्जियल कैंसर भी कहा जाता है। नासॉफिरिन्क्स को प्रभावित करता है। यह नाक के पीछे ग्रसनी (गले) का ऊपरी भाग होता है। ब्रिटेन में हर साल लगभग 260 लोगों में नासॉफिरिन्जियल कैंसर का पता चलता है। अधिकतर मामलों में लोग कैंसर के इन लक्षणों को शुरुआत में पहचान नहीं पाते और बीमारी अगले स्टेज में प्रवेश कर जाती है।

दुनिया में एक दुर्लभ बीमारी

डॉक्टरों (Doctors) के मुताबिक यह नाक या साइनस कैंसर से अलग है। यह एक दुर्लभ कैंसर है, जो आपकी नाक और साइनस के पीछे की जगह को प्रभावित करता है। विशेषज्ञों का कहना है कि नाक का बंद होना इस दुर्लभ बीमारी का एक बड़ा लक्षण हो सकता है।

 

नाक के कैंसर के लक्षण

  • गर्दन (Neck) में बनी कोई गांठ, जो 3 सप्ताह के बाद भी दूर नहीं होती है।
  • किसी एक कान के सुनने की क्षमता कम हो जाना
  • बलगम से भरी हुई नाक
  • टिटनस हो जाना
  • नाक से खून आना
  • सिर में दर्द होना
  • धुंधला या दो-दो तस्वीर दिखना
  • चेहरे के निचले हिस्से का सुन्न हो जाना
  • निगलने में समस्या होना
  • आवाज का कर्कश हो जाना
  • अनजाने में वजन कम हो जाना

इन लक्षणों को भी न करें नजरअंदाज

डॉक्टरों के मुताबिक इस दुर्लभ कैंसर में नाक अवरुद्ध होने के अलावा कुछ ओर भी लक्षण हो सकते हैं, जिन पर ध्यान देने की जरूरत होती है। इनमें गर्दन के किनारे दर्द रहित गांठ के साथ-साथ कान में सुनने की क्षमता में कमी आना भी शामिल है। इसके अलावा लार या कफ में खून आना, नाक से खून आना, बार.बार सिरदर्द या कान में दर्द होना और मरीजों को देखने में धुंधलापन के लक्षण भी इसके संकेत हो सकते हैं।

 

सबसे ज्यादा जोखिम किसे है

डॉक्टरों के मुताबिक कुछ आनुवंशिक कारकों की वजह से नाक का कैंसर हो सकता है। महिला.पुरुषों की बात करें तो महिलाओं की तुलना में पुरुषों को यह बीमारी होने की आशंका तीन गुना ज्यादा तक होती है। महिलाओं के इस बीमारी के इस बीमारी से बचाव का कारण उनमें एस्ट्रोजन का हाई लेवल हो सकता है। अगर आपको इनमें से कोई भी लक्षण दिखाई तो किसी कैंसर स्पेशलिस्ट डॉक्टर को दिखाने में देर न करें और उन्हें विस्तार से वे सारे लक्षण भी बताएं, जो आपने महसूस किए हैं। आपकी यह सजगता आपको बड़े खतरे में पड़ने से बचा सकती है।

हिमाचल और देश-दुनिया की ताजा अपडेट के लिए join करें हिमाचल अभी अभी का Whats App Group… 

 

- Advertisement -

Facebook Join us on Facebook Twitter Join us on Twitter Instagram Join us on Instagram Youtube Join us on Youtube

हिमाचल अभी अभी बुलेटिन

Download Himachal Abhi Abhi App Himachal Abhi Abhi IOS App Himachal Abhi Abhi Android App


विशेष \ लाइफ मंत्रा


Himachal Abhi Abhi E-Paper



सब्सक्राइब करें Himachal Abhi Abhi अलर्ट
Logo - Himachal Abhi Abhi

पाएं दिनभर की बड़ी ख़बरें अपने डेस्कटॉप पर

अभी नहीं ठीक है