Covid-19 Update

2,00,328
मामले (हिमाचल)
1,94,235
मरीज ठीक हुए
3,426
मौत
29,881,965
मामले (भारत)
178,960,779
मामले (दुनिया)
×

ये हैं दुनिया के सबसे खतरनाक जानवर, इनसे नहीं बच पाया कोई

कुछ जानवर ऐसे जिनको देख भी नहीं सकते हैं

ये हैं दुनिया के सबसे खतरनाक जानवर, इनसे नहीं बच पाया कोई

- Advertisement -

बहुत सारे लोगों को जानवरों से प्यार होता है और वे उन्हें घरों में भी पालते हैं। लेकिन जंगली जानवरों से सभी डरते हैं। अगर कोई आप से पूछे कि सबसे खतरनाक जानवर कौन सा है तो आप शेर, भालू या हाथी का नाम ले देंगे। पर क्या आप जानते हैं कि इस धरती पर कई जानवर इनसे भी खतरनाक होते हैं। इनमें से कई तो ऐसे हैं जिनको हम देख भी नहीं सकते। आज हम आप को दुनिया के सबसे खतरनाक जानवरों( Dangerous animals) के बारे में बताते हैं, जो बेशक देखने में छोटे लगे पर, है बड़े ही खतरनाक।

कोन स्नेल( Cone snail): वैसे तो दिखने में बिल्कुल असहाय और भोला सा जानवर है। पर इसे देख अगर आपने इसे हाथ लगा लिया तो आपके हाथ पैर चलेंगे ही नहीं क्योंकि आप पैरालाइज( Paralyze) हो जाओगे। इस का स्पर्श एक ऐसा जहर इंजेक्ट करता है जिसका एंट्रीवेनम यानी जहर का तोड़ विज्ञान के पास भी उपलब्ध नहीं है। ये आपके शरीर की नसों के आपस में जुड़े संपर्क को तोड़ देता है और इसी वजह से इंसान पैरालाइज हो जाता है। कोन स्नैल छोटे-छोटे जानवरो को आसानी से पैरालाइज कर उसके बाद ये अपने शिकार को जिंदा निगल जाते हैं।


ब्लू रिंग्ड ऑक्टोपस( Blue ringed octopus): नीले रंग से सजे इस जानवर को देख अक्सर लोग इससे खतरा महसूस नहीं करते। लेकिन यह जानवर आपकी सोच से भी 100 गुना ज्यादा खतरनाक है। 160 फीट नीचे पानी में रहने वाला यह ऑक्टोपस बस कुछ ही मिनटों में 26 लोगों को मौत के घाट उतार सकता है। एक पेंसिल के आकार का यह जानवर अकसर पानी के अंदर कचरे में झाड़ियों में और पत्थरों में छिपा रहता है। वैसे तो यह आम ऑक्टोपस के रंग में नजर आता है लेकिन इसे खतरा महसूस होने पर ये अलर्ट हो जाता है, तब उसके शरीर पर ब्लू रंग की रिंग दिखाई देने लगते हैं। ब्लू रिंग दिखाई देने का मतलब है कि ये जहर छोड़ने के लिए पूरी तरह से तैयार है। अगर आप अनजाने में किसी भी तरह से इस के संपर्क में आ गए तो आप से ज्यादा बदनसीब इंसान इस दुनिया में कोई नहीं होगा।

स्टोन फिश( Stone fish): इस दुनिया में 1200 से भी ज्यादा मछलियां जहरीली होती हैं लेकिन इन सबमें सबसे डेंजरस होती है स्टोन फिश। स्टोन फिश के पीठ पर 13 स्पेंस होते हैं तथा हर एक स्पेंस में जहर भरा होता है। स्टोन फिश रेत में छिपकर अपने शिकार का इंतजार करती हैं इसी वजह से इसकी इंसान के संपर्क में आने की संभावनाएं बढ़ जाती हैं किसी भी इंसान इस फिश पर पैर रख दिया तो उस इंसान के लिए जिंदगी का सबसे बड़ा दर्दनाक अनुभव होगा क्योंकि स्पेंस द्वारा जहर शरीर में पहुंच जाएगा तथा शहर का प्रभाव बढ़ने से मौत भी हो सकती है। मछली खुद कुछ पाने में काफी माहिर है पत्थर में बड़ी खूबी छुपने के कारन ही इसे स्टोन फिश कहा जाता है।

बॉक्स जेलीफिश( Box jellyfish):इस दुनिया में 2000 से भी ज्यादा प्रकार की जेली फिश पाई जाती हैं जिसमें से 70 प्रकार की प्रजातियां ही आप को नुकसान पहुंचा सकती हैं इन सबमें सबसे खतरनाक होती है बॉक्स जेलीफिश। अगर आप पानी में तैर रहे हो और आपको बहुत जेलीफिश ने काट लिया तो ये मुमकिन है कि किनारे तक पहुंचने से पहले ही आप की मौत हो जाए। इतनी तेजी से ये जहर आपके शरीर में फैलता है इसके काटने से पेट दर्द उल्टी आंख सिरदर्द जी मचलना और धड़कन तेज होना जैसे लक्षण हो सकते हैं। कई लोग से गुजरे हैं वह कहते हैं कि इससे दर्द से अच्छा तो मौत ही भली है बॉक्स जेलीफिश में 43 प्रजातियां होती है इसमें शामिल ब्लैक वीडियोस जेली फिश ने काट लिया तो आपके बचने की उम्मीद कुछ प्रतिशत ही रह जाती है सिर्फ फिलिपिंस में ही बॉक्स जेलीफिश की वजह से सलाना 20 से 40 लोग मरते हैं।
स्पाइडर( Spider):- इंसानों में सबसे ज्यादा डर सांप और मकड़ियों का होता है क्योंकि यह दोनों ही जानवर जहरीले होते हैं मकड़ियों के 40000 प्रजाति इस दुनिया में पाई जाती हैं। जिसमें से 30 प्रजातियां इंसान की जान ले सकती हैं स्पाइडर में बना जहर में कुदरत ने सिर्फ छोटे जानवरों को मारने के लिए भी बनाया होता है जिससे इन छोटे जानवर कीट को खा कर यह स्पाइडर जिंदा रहता किसी स्पाइडर के काटने की वजह से इंसान की मौत हो गई तो ज्यादातर एलर्जिक रिएक्शन की वजह से इंसान मरता है बाकी लोग इससे मरते नहीं है।

हिमाचल और देश-दुनिया की ताजा अपडेट के लिए join करें हिमाचल अभी अभी का Whats App Group

- Advertisement -

Facebook Join us on Facebook Twitter Join us on Twitter Instagram Join us on Instagram Youtube Join us on Youtube

हिमाचल अभी अभी बुलेटिन

Download Himachal Abhi Abhi App Himachal Abhi Abhi IOS App Himachal Abhi Abhi Android App

टेक्नोलॉजी / गैजेट्स / ऑटो

Himachal Abhi Abhi E-Paper


विशेष




सब्सक्राइब करें Himachal Abhi Abhi अलर्ट
Logo - Himachal Abhi Abhi

पाएं दिनभर की बड़ी ख़बरें अपने डेस्कटॉप पर

अभी नहीं ठीक है