Covid-19 Update

2, 43, 365
मामले (हिमाचल)
2, 28, 454
मरीज ठीक हुए
3874*
मौत
37,380,253
मामले (भारत)
328,826,023
मामले (दुनिया)

यहां दुश्मनों पर बरसाए जाते हैं अंडे, गोली-बारूद से नहीं होती लड़ाई

आटे और अंडों के साथ लड़ते हैं लोग

यहां दुश्मनों पर बरसाए जाते हैं अंडे, गोली-बारूद से नहीं होती लड़ाई

- Advertisement -

आपने कई तरह की मारपीट, लड़ाई व युद्ध के बारे में सुना होगा, लेकिन क्या आप जानते हैं दुनिया में एक जगह ऐसी भी है जहां लड़ने के लिए हथियारों का इस्तेमाल नहीं किया जाता है। यकीन कर पाना मुश्किल है, लेकिन यही सच है। स्पेन (Spain) में ये प्रथा सदियों से चलती आ रही है। यहां लोग अपने विरोधी दल के साथ आटे और अंडों से लड़ते हैं।

बता दें कि स्पेन के एलिकांटे प्रांत के इबी शहर में साल 1856 से हर साल 28 दिसंबर को एक फेस्टिवल (Festival) मनाया जाता है। ये फेस्टिवल एल्स एनफरिनैट्स फेस्टिवल (Els Enfarinats Festival) के नाम से जाना जाता है। फेस्टिवल के दौरान एक तख्तापलट का मंचन किया जाता है, जिसमें विरोधी दल के लोग एक दूसरे के साथ आटे और अंडों के साथ लड़ते हैं। हर साल 28 दिसंबर को ये एक तरह का मजाक किया जाता है। गौरतलब है कि जर्मनी (Germany) और कुछ अन्य देशों में हर साल 1 अप्रैल को मजाक करने, प्रैंक करने और मजे लेने का रिवाज है।

यह भी पढ़ें-हिमकर संक्रांति बन रहे गई शुभ योग, यहां पढ़े इसकी तिथि व शुभ मुहूर्त

 

रिपोर्ट्स के अनुसार, यह फेस्टिवल उस मनहूस दिन की याद दिलाता है जब राजा हेरोद ने बेथलेहम में बच्चों को मारने का आदेश दिया था। बाइबल (Bible) के अनुसार, यह आदेश इस उम्मीद में दिया गया था कि इस तरह ईसा मसीह को पकड़ा जा सकता है। वहीं, ऐसे बेतुके आदेशों का अनुपालन नहीं करने वालों को सजा दी जाती है, जुर्माना लगाया जाता है और यहां तक कि जेल भी हो सकती है। आटे से लबालब लोग सुबह 9 बजे चर्च के चौक पर इकट्ठा होते हैं और हर साल नए न्याय की मांग करते हैं। विपक्ष ऐसे कानूनों को स्वीकार नहीं करता और फिर इसी बात पर लड़ाई शुरू हो जाती है। जिसके बाद विरोधी एक-दूसरे पर अंडे फेंकना शुरू कर देते हैं और फिर शाम को मौज-मस्ती के साथ फेस्टिवल खत्म हो जाता है। फेस्टिवल खत्म होने के बाद सब सफाई करते हैं और फिर अपने-अपने घर चले जाते हैं।

हिमाचल और देश-दुनिया की ताजा अपडेट के लिए join करें हिमाचल अभी अभी का Whats App Group

- Advertisement -

Facebook Join us on Facebook Twitter Join us on Twitter Instagram Join us on Instagram Youtube Join us on Youtube

हिमाचल अभी अभी बुलेटिन

Download Himachal Abhi Abhi App Himachal Abhi Abhi IOS App Himachal Abhi Abhi Android App


विशेष \ लाइफ मंत्रा


Himachal Abhi Abhi E-Paper



सब्सक्राइब करें Himachal Abhi Abhi अलर्ट
Logo - Himachal Abhi Abhi

पाएं दिनभर की बड़ी ख़बरें अपने डेस्कटॉप पर

अभी नहीं ठीक है