Covid-19 Update

2,16,906
मामले (हिमाचल)
2,11,694
मरीज ठीक हुए
3,634
मौत
33,477,459
मामले (भारत)
229,144,868
मामले (दुनिया)

किस देवता को चढ़ता है कौन सा प्रसाद , यहां पढ़े

फल, मिठाई, बताशे, मेवे आदि हम भगवान के चढ़ाते

किस देवता को चढ़ता है कौन सा प्रसाद , यहां पढ़े

- Advertisement -

हिन्दू धर्म में मंदिर में या किसी देवी या देवता की मूर्ति के समक्ष प्रसाद चढ़ाने की प्राचीनकाल से ही परंपरा रही है। हम प्रतिदिन पूजा पाठ करते हैं। पूजा -पाठ के दौरान हम अपने इष्ट को प्रसाद भी अर्पित करते हैं। इनमें फल, मिठाई, बताशे, मेवे आदि हम भगवान के चढ़ाते हैं। हमें इस बात की जानकारी नहीं होती कि किस देवी या देवता को कौन सा प्रसाद चढ़ाना चाहिए। ताकि हमारी मनोकामना जल्द पूरी हो। तो हम आप की ये दुविधा समाप्त करते हैं और आप को बताते हैं कि किस देवता को कौन सा प्रसाद चढ़ाना चाहिए।

यह भी पढ़ें:ये हैं सोयाबीन के दानों से बनी बप्पा की इको-फ्रेंडली मूर्ति- कीमत कितनी ,जानना चाहेंगे

 

 

भगवान गणेश प्रथम पूज्य गणपति की पूजा में मोदक या लड्डू का प्रसाद सबसे उत्तम माना गया है। गणपति को चढ़ाए जाने वाला मोदक प्रसाद कई तरह का बनता है। वैसे आप चाहें तो गणपति को मोतीचूर का लड्डू भी चढ़ा सकते हैं क्योंकि गणपति को यह अत्यंत प्रिय है।

मां दुर्गा हर घर में मां दुर्गा की पूजा होती है। शक्ति की साधना करते समय माता दुर्गा को खीर, मालपुए, मीठा हलुआ, नारियल और मिठाई चढ़ाना चाहिए। शुक्रवार के दिन माता की पूजा करने के बाद प्रसाद में हलवा चढ़ाने शीघ्र ही देवी कृपा मिलती है और मनोकामनाएं पूरी होती हैं।

भगवान शिवः भोले भंडारी को भांग और पंचामृत का प्रसाद बहुत पसंद है। ऐसे में शिव की पूजा में दूध, दही, शहद, शक्कर, घी, जलधारा से स्नान कराने के बाद प्रसाद में भांग अवश्य चढ़ाएं।

मां सरस्वती ज्ञान की देवी माता सरस्वती की पूजा में दूध, पंचामृत, दही, मक्खन, सफेद तिल के लड्डू तथा धान का प्रसाद विशेष रूप से चढ़ाया जाता है। माता को यह प्रसाद चढ़ाने पर शिक्षा आदि के क्षेत्र में सफलता मिलती है।

भगवान विष्णु भगवान विष्णु की पूजा में खीर या सूजी का हलवा प्रसाद में चढ़ाया जाना चाहिए। प्रसाद में तुलसी अवश्य डालें और लोगों में वितरित करें। गुरुवार के दिर लक्ष्मी नारायण मंदिर में जाकर इस प्रसाद को चढ़ाने से शीघ्र ही मनोकामना पूरी होती है।

हनुमान जीः हनुमान जी को प्रसाद में हलुआ, पंचमेवा, बूंदी, गुड़ से बने लड्डू, मीठा पान चढ़ाने से वे शीघ्र प्रसन्न होकर अपने साधक पर कृपा बरसाते हैं। मंगलवार के दिन हनुमानजी को चोला चढ़ाकर इस प्रसाद को चढ़ाने से शीघ्र ही मनोकामनाएं पूरी होती है।

हिमाचल और देश-दुनिया की ताजा अपडेट के लिए join करें हिमाचल अभी अभी का Whats App Group 

 

 

- Advertisement -

Facebook Join us on Facebook Twitter Join us on Twitter Instagram Join us on Instagram Youtube Join us on Youtube

हिमाचल अभी अभी बुलेटिन

Download Himachal Abhi Abhi App Himachal Abhi Abhi IOS App Himachal Abhi Abhi Android App


विशेष \ लाइफ मंत्रा


Himachal Abhi Abhi E-Paper



सब्सक्राइब करें Himachal Abhi Abhi अलर्ट
Logo - Himachal Abhi Abhi

पाएं दिनभर की बड़ी ख़बरें अपने डेस्कटॉप पर

अभी नहीं ठीक है