Covid-19 Update

2, 54, 410
मामले (हिमाचल)
2, 34, 850
मरीज ठीक हुए
3899*
मौत
38,218,773
मामले (भारत)
340,535,968
मामले (दुनिया)

मनाली में विंटर कार्निवाल शुरू, झांकियों के माध्यम से कोविड संक्रमण से बचाव का संदेश

जय राम ठाकुर ने दीप प्रज्वलित कर सांस्कृतिक कार्यक्रमों का किया शुभारम्भ

मनाली में विंटर कार्निवाल शुरू, झांकियों के माध्यम से कोविड संक्रमण से बचाव का संदेश

- Advertisement -

मनाली। हिमाचल की पर्यटन नगरी मनाली (Manali) में रविवार से राष्ट्र स्तरीय पांच दिवसीय विंटर कार्निवल (Winter Carnival) का आगाज हो गया। सीएम जयराम ठाकुर ने हिडिंबा मंदिर में पूजा अर्चना कर इसका शुभारंभ किया। परिधि गृह मनाली से कार्निवल परेड को हरी झंडी दिखाकर राष्ट्र स्तरीय पांच दिवसीय विंटर कार्निवल का शुभारंभ किया। सीएम जयराम ने मनु रंगशाला में दीप प्रज्ज्वलित करके शरद उत्सव में आयोजित होने वाले सांस्कृतिक कार्यक्रमों का भी शुभारंभ किया।

यह भी पढ़ें:मनाली विंटर क्वीन को मिलेगा एक लाख का इनाम, कल से पांच जगह होंगे ऑडिशन; जाने डिटेल

इस अवसर पर सीएम जयराम (CM Jai Ram Thakur) ने महिला मंडलों, विभिन्न विभागों, संस्थाओं द्वारा प्रस्तुत की गई झांकियों का अवलोकन भी किया। झांकियों के माध्यम से कोविड संक्रमण से बचाव, टीकाकरण, पर्यावरण संरक्षण, स्वच्छता, प्राचीन विरासत, मान्यताओं, नशा मुक्ति, बेटी बचाओ-बेटी पढ़ाओ, महिला सशक्तिकरण, प्राकृतिक खेती आदि विषयों का संदेश दिया गया।

 

 

इसके पश्चात सीएम जयराम ने लगभग 41 करोड़ रुपये से अधिक लागत की विभिन्न विकासात्मक परियोजनाओं के लोकार्पण व शिलान्यास किए और राज्य स्तरीय स्वर्णिम वन महोत्सव (Swarnim Van Mahotsav) का उदघाटन किया। इस अवसर यूरोप के मॉनटेनिगरों में आयोजित हुई अंतरराष्ट्रीय स्कीइंग प्रतियोगिता में कांस्य पदक हासिल करने पर मनाली की आंचल ठाकुर को सम्मानित भी किया। लोगों को संबोधित करते हुए जयराम ठाकुर ने कहा कि घाटी में नए पुलों व सड़कों के निर्मित हो जाने से विभिन्न स्थान पर्यटक स्थलों (Tourist Place) के रूप में विकसित होंगे

 

 

जिससे क्षेत्र में पर्यटन कारोबार को बढ़ावा मिलेगा। उन्होंने कहा कि रॉक क्लाईविंग वाल के निर्मित होने से साहसिक खेलों में रूचि रखने वाले पर्यटकों को सुविधा मिलने से मनाली में साहसिक पर्यटन गतिविधियां सुदृढ़ होगी। ब्यास बिहाल नेचर पार्क बनने से पर्यटकों को स्वच्छ व सुन्दर प्राकृतिक वातावरण उपलब्ध होने के साथ-साथ स्थानीय लोगों को रोजगार (Jobs) के अवसर भी प्राप्त होंगे। उन्होंने कहा कि वनों के महत्व के दृष्टिगत प्रदेश सरकार वन क्षेत्र के विस्तार और सदृढ़ीकरण को प्राथमिकता दे रही है। गत चार वर्षों में प्रदेश में वन महोत्सव के दौरान 4 करोड़ 38 लाख 12 हजार पौधों का रोपण किया गया।

 

 

हिमाचल और देश-दुनिया की ताजा अपडेट के लिए join करें हिमाचल अभी अभी का Whats App Group

 

 

हिमाचल और देश-दुनिया की ताजा अपडेट के लिए Subscribe करें हिमाचल अभी अभी का Telegram Channel…

 

 

 

 

 

- Advertisement -

Facebook Join us on Facebook Twitter Join us on Twitter Instagram Join us on Instagram Youtube Join us on Youtube

हिमाचल अभी अभी बुलेटिन

Download Himachal Abhi Abhi App Himachal Abhi Abhi IOS App Himachal Abhi Abhi Android App


विशेष \ लाइफ मंत्रा


Himachal Abhi Abhi E-Paper



सब्सक्राइब करें Himachal Abhi Abhi अलर्ट
Logo - Himachal Abhi Abhi

पाएं दिनभर की बड़ी ख़बरें अपने डेस्कटॉप पर

अभी नहीं ठीक है