हिमाचल: अब पारंपरिक व्यंजनों का आनंद ले सकेंगे पर्यटक, विंटर कार्निवल में लगेंगे ये स्टाल

कई जगह पर आयोजित किए जाएगा फूड फेस्टिवल

हिमाचल: अब पारंपरिक व्यंजनों का आनंद ले सकेंगे पर्यटक, विंटर कार्निवल में लगेंगे ये स्टाल

- Advertisement -

लाहुल-स्पीति। लाहुल घाटी में मौजूद पर्यटन के तमाम आकर्षण को देश-विदेश के पर्यटकों से रूबरू करने के लिए लाजवाब लाहुल के बैनर तले बुधवार को मनाली में पारंपरिक व्यंजनों और हस्तशिल्प उत्पादों को लेकर स्थापित आउटलेट का शुभारंभ किया गया। लाहुल घाटी के स्वयं सहायता समूहों द्वारा तैयार किए गए इन उत्पादों को पर्यटक लाहुल-स्पीति भवन के प्रांगण में स्थापित इस आउटलेट से खरीद सकते हैं और घाटी के पारंपरिक व्यंजनों के स्वाद और सुगंध का आनंद भी उठा सकते हैं।

यह भी पढ़ें:पीएम मोदी के स्वागत को छोटी काशी तैयार, परोसे जाएंगे ये 10 स्वादिष्ट व्यंजन

 

 

बता दें कि घाटी के लाजवाब कला-शिल्प और पारंपरिक व्यंजनों को लाहुल के बाहर पहुंचाने के मकसद से शुरू पहल लाजवाब लाहुल ने मनाली स्थित लाहुल-स्पीति भवन में पारंपरिक व्यंजनों और हस्तशिल्प उत्पादों को लेकर स्थापित आउटलेट (Outlet) का शुभारंभ उपायुक्त नीरज कुमार ने किया। डीसी नीरज कुमार ने कहा कि जिला प्रशासन और पर्यटन विभाग की पहल लाजवाब लाहुल के तहत ही इस आउटलेट की शुरुआत पर्यटन नगरी मनाली में की गई है ताकि लाहुल घाटी के स्वयं सहायता समूह इस आउटलेट के माध्यम से देश-विदेश के उपभोक्ताओं तक इन आकर्षक उत्पादों को पहुंचा सकें। उन्होंने बताया कि विंटर कार्निवल (Winter Carnival) आयोजन समिति से भी इन स्वयं सहायता समूहों को विंटर कार्निवल के दौरान स्टाल मुहैया करने का आग्रह किया गया है। स्वयं सहायता समूह से जुड़ी महिलाएं इस स्टाल के जरिए इन उत्पादों को विंटर कार्निवल में आने वाले पर्यटकों को बेच सकेंगी।


डीसी लाहुल नीरज कुमार ने कहा कि लाजवाब लाहुल के तहत आने वाले समय में फूड फेस्टिवल (Food Festival) विभिन्न जगहों पर आयोजित किए जाएंगे। इनमें जिस समूह द्वारा सर्वाधिक बिक्री अर्जित की जाएगी उन्हें जिला प्रशासन द्वारा पुरस्कृत भी किया जाएगा। उन्होंने कहा कि लाहुल-स्पीति भवन में घाटी के हस्तशिल्प उत्पादों और व्यंजनों के लिए एक स्थायी आउटलेट तैयार करने की दिशा में भी विचार किया जाएगा ताकि पूरा सीजन घाटी के बेहतरीन उत्पाद पर्यटकों की पहुंच में रहें। उन्होंने बताया कि लाहुल घाटी की इस समृद्ध विरासत को सहेजने और विभिन्न स्वयं सहायता समूहों के माध्यम से विकसित करने की कार्य योजना पर भी काम चल रहा है ताकि मौजूदा बाजार और उपभोक्ताओं की अपेक्षा के मुताबिक इन उत्पादों की ब्रांडिंग और मार्केटिंग के काम को अंजाम दिया जा सके। वहीं, नगर परिषद मनाली के अध्यक्ष चमन कपूर ने कहा कि लाहुल घाटी के इन स्वयं सहायता समूह को विंटर कार्निवल में स्टॉल उपलब्ध कर दिया जाएगा।

हिमाचल और देश-दुनिया की ताजा अपडेट के लिए join करें हिमाचल अभी अभी का Whats App Group

 

हिमाचल और देश-दुनिया की ताजा अपडेट के लिए Subscribe करें हिमाचल अभी अभी का Telegram Channel…

 

 

- Advertisement -

Facebook Join us on Facebook Twitter Join us on Twitter Instagram Join us on Instagram Youtube Join us on Youtube

हिमाचल अभी अभी बुलेटिन

Download Himachal Abhi Abhi App Himachal Abhi Abhi IOS App Himachal Abhi Abhi Android App


विशेष \ लाइफ मंत्रा


Himachal Abhi Abhi E-Paper



सब्सक्राइब करें Himachal Abhi Abhi अलर्ट
Logo - Himachal Abhi Abhi

पाएं दिनभर की बड़ी ख़बरें अपने डेस्कटॉप पर

अभी नहीं ठीक है