×

एक साल में मां बनने की कोशिश कर रही थी महिला, जांच करवाई तो हुआ बड़ा खुलासा

एड़ी के दर्द का इलाज कराने डॉक्टर के पास गई थी महिला

एक साल में मां बनने की कोशिश कर रही थी महिला, जांच करवाई तो हुआ बड़ा खुलासा

- Advertisement -

25 वर्षीय एक महिला एक साल से गर्भधारण का प्रयास कर रही थी, लेकिन जब वह मां नहीं बना पाई तो डॉक्टर के पास जांच करवाने के लिए पहुंच गई। जांच में ऐसा खुलासा हुआ कि उसके होश ही उड़ गए। डॉक्टर ने बताया कि वह जन्म से ही पुरुष है। वह एक मध्यलिंगी (Intersex) है। महिला हैरान इसलिए है क्योंकि उसके प्रजनन तो महिलाओं (Woman) की तरह ही हैं लेकिन जब एक्सरे किया गया तो पता चला कि उसका शरीर तो जन्म से ही पुरुष का है। एक्सरे में पता चला कि महिला के प्रजनन अंग किशोरवस्था से ही विकसित नहीं हुए हैं। शरीर के बाहरी हिस्सों में महिलाओं का जननांग है शरीर के अंदर का विकास पुरुषों जैसा है। चीन की ये घटना हर किसी को हैरान कर रही है।


यह भी पढ़ें: इंडिगो की फ्लाइट में महिला ने दिया बच्ची को जन्म, जयपुर के लिए उड़ा था प्लेन

 

 

डॉक्टर (Doctor) ने उस महिला को बताया कि अगर वह चाहे तो अपना लिंग परिवर्तन करवा सकती हैं। इस शारीरिक स्थिति को 46 एक्सवाई कैरियोटाइप (46 XY Karyotype) कहते हैं। ये आमतौर पर पुरुषों में पाई जाने वाली मेडिकल सिचुएशन हैं जिसमें इंसान पुरुष तो होता है लेकिन शरीर के बाहरी प्रजनन अंग पुरुषों के होंगे या महिला के ये तय नहीं हो पाता। पिंगपिंग के बाहरी शरीर में महिलाओं जैसे अंग थे, इसलिए उसे कभी अपने महिला होने पर कोई शक नहीं हुआ। हालांकि उसे कभी पीरियड्स नहीं आए लेकिन उसने इन चीजों पर ध्यान भी नहीं दिया। पति के साथ शादीशुदा जिंदगी का आनंद भी लेती रही।

यह भी पढ़ें: रात को सोने से पहले लगती है भूख तो खाइए कुछ हेल्दी, इन फलों को करें अवॉइड

महिला की मां ने बताया कि शुरुआत में उसे डॉक्टर के पास ले गईं थीं तब कहा गया था इसका विकास थोड़ा धीमा है बाकी कोई दिक्कत नहीं। इस मामले का खुलासा तो तब हुआ जब वह अपने एड़ी के दर्द का इलाज (Treatment) करवाने डॉक्टर के पास गई। डॉक्टर ने देखा कि उसकी हड्डियां सही से विकसित नहीं हुई हैं। जब डॉक्टरों ने दर्द का कारण पूछा तो महिला ने बताया कि उसे पता नहीं बस दर्द हो रहा है। वह एक साल से मां बनने की कोशिश कर रही है लेकिन बन नहीं पा रही है। इसके बाद डॉक्टरों ने पिंगपिंग की जांच की तो खुलासा हुआ कि उसके शरीर में यूट्रेस या ओवरीज नहीं है। सिर्फ बाहरी तौर पर अपूर्ण महिला प्रजनन अंग है, लेकिन उसके शरीर में पुरुषों वाले Y क्रोमोसोम्स हैं। डॉक्टरों ने देखा कि उसके शरीर के अंदर पुरुषों का टेस्टिस है जो कमजोर और दबा हुआ है। फिलहाल जेझियांग यूनिवर्सिटी स्कूल ऑफ मेडिसिन के डॉक्टरों ने महिला को सलाह दी है कि वो साइकोलॉजिकल और मेंटल हेल्थ स्पेशलिस्ट से मिलें और आगे का जीवन सामान्य तरीके से जीने की कोशिश करें। अगर चाहती हैं तो वह लिंग परिवर्तन करवा सकती हैं।

हिमाचल और देश-दुनिया की ताजा अपडेट के लिए join करें हिमाचल अभी अभी का Whats App Group 

- Advertisement -

Facebook Join us on Facebook Twitter Join us on Twitter Instagram Join us on Instagram Youtube Join us on Youtube

हिमाचल अभी अभी बुलेटिन

Download Himachal Abhi Abhi App Himachal Abhi Abhi IOS App Himachal Abhi Abhi Android App

टेक्नोलॉजी / गैजेट्स / ऑटो

Himachal Abhi Abhi E-Paper


विशेष




सब्सक्राइब करें Himachal Abhi Abhi अलर्ट
Logo - Himachal Abhi Abhi

पाएं दिनभर की बड़ी ख़बरें अपने डेस्कटॉप पर

अभी नहीं ठीक है