Covid-19 Update

2,18,693
मामले (हिमाचल)
2,13,338
मरीज ठीक हुए
3,656
मौत
33,697,581
मामले (भारत)
233,301,085
मामले (दुनिया)

हौसले की उड़ान

हौसले की उड़ान

- Advertisement -

गुजरात के सूरत में रहने वाले एक किसान परिवार की 19 वर्षीय बेटी पायलट बन गई। अपनी इकलौती बेटी को पायलट बनाने के लिए जब किसी सरकारी बैंक से लोन नहीं मिला तो किसान पिता ने अपनी खेती बेचकर उसके सपने को साकार किया।

 

 

सूरत की रहने वाली मैत्री पटेल (19) अमेरिका से पायलट बनकर लौटी हैं। इतनी कम उम्र में बेटी के पायलट बनने से माता-पिता की खुशी का ठिकाना नहीं है।

12वीं कक्षा में पढ़ाई करने के बाद पायलट बनने के लिए अमेरिका गईं मैत्री पटेल ने सिर्फ 11 महीने में ट्रेनिंग पूरी कर कमर्शियल पायलट का लाइसेंस हासिल कर लिया है।

 

मैत्री अब आगे कैप्टन बनना चाहती हैं और अपनी अलग पहचान बनाना चाहती हैं।

- Advertisement -

Facebook Join us on Facebook Twitter Join us on Twitter Instagram Join us on Instagram Youtube Join us on Youtube

हिमाचल अभी अभी बुलेटिन

Download Himachal Abhi Abhi App Himachal Abhi Abhi IOS App Himachal Abhi Abhi Android App


विशेष \ लाइफ मंत्रा


Himachal Abhi Abhi E-Paper



सब्सक्राइब करें Himachal Abhi Abhi अलर्ट
Logo - Himachal Abhi Abhi

पाएं दिनभर की बड़ी ख़बरें अपने डेस्कटॉप पर

अभी नहीं ठीक है