Covid-19 Update

2,16,430
मामले (हिमाचल)
2,11,215
मरीज ठीक हुए
3,631
मौत
33,380,438
मामले (भारत)
227,512,079
मामले (दुनिया)

ऐसा देश जहां Blue Jeans नहीं पहन सकते लोग, मर्जी से बाल कटवाने पर भी पाबंदी

ऐसा देश जहां Blue Jeans नहीं पहन सकते लोग, मर्जी से बाल कटवाने पर भी पाबंदी

- Advertisement -

नई दिल्ली। उत्तर कोरिया के तानाशाह किम जोंग की सनक का खौफ पूरे उत्तर कोरिया (North Korea) में है। इसी खौफ के कारण करीब 20 दिन तक किम के गायब रहने के बावजूद उनके खिलाफ किसी ने कुछ भी नहीं बोला। हालांकि चर्चा का बाजार गर्म था लेकिन किसी ने भी किम के सनक भरे आदेशों का उल्‍लंघन करने की कोशिश नहीं की। अब अगर आप किम जोंग (Kim jong) के बारे में जानते होंगे तो आपको पता ही होगा कि हम उनको सनकी क्यों कह रहे हैं, लेकिन अगर आप नहीं जानते तो हम आपको उनके बनाए नियमों के बारे में बताते हैं जिनसे आप खुद जान जाएंगे ।

यह भी पढ़ें: एडमिशन से लेकर एग्जाम तक; UGC से पूछें हर सवाल, जारी हुआ Helpline नंबर

नीली जींस पहनने पर लगी है रोक

किम जोंग उन ने दुनियाभर में बेहद लोकप्रिय नीली जींस को अपने देश में पहनने पर रोक लगा रखी है। अक्‍सर अमेरिका (America) को धमकी देने वाले किम जोंग उनका मानना है कि नीली जींस अमेरिकी साम्राज्‍यवाद का प्रतीक है। किम ने पूरे देश में इंटरनेट के इस्‍तेमाल पर काफी प्रतिबंध लगा रखा है, इस वजह से उत्तर कोरिया के लोगों को पता नहीं चल पता है कि दुनिया में लोग कैसे रहते हैं। उन्‍हें यह पता नहीं चल पाता है कि वे किन प्रतिबंधों में जिंगदी गुजार रहे हैं।

बालों के लिए 15 सरकारी हेयर स्‍टाइल स्‍वीकृत

तानाशाह किम जोंग खुद भले ही स्‍टाइलिश हेयर स्‍टाइल (Hair Style) रखता हो लेकिन अपने देश की जनता के लिए बेहद सख्‍त नियम बना रखा है। उत्तर कोरिया में पुरुषों और महिलाओं के लिए सरकार की ओर से स्‍वीकृत किए गए 15 तरीके के हेयरकट हैं। इसमें पुरुषों के लिए लंबे बाल रखने की अनुमति नहीं है। अगर किसी ने 15 तरीके के हेयरकट से अलग कुछ किया तो अधिकारी खुद ही उसके बाल काट देंगे। कहा जाता है कि महिलाओं को किम जोंग उन की पत्‍नी के हेयर स्‍टाइल ‘क्‍लासिक बॉब’ को कॉपी करने के लिए कहा गया है। तस्‍वीर-साभार डेली टाइम्‍स

कैदियों से खुदवाई जाती है उनकी ही कब्र

नार्थ कोरिया में अगर कोई जेल भेज दिया गया तो उसके जिंदा वापस लौटने की कोई गारंटी नहीं होती है। हथियारों से लैस गार्ड कैदियों को यातना देते हैं। इस दौरान कई कैदियों की मौत हो जाती है। उत्‍तर कोरिया की जेलों से लौटे कैदियों के मुताबिक किम के सैनिक इतने क्रूर हैं कि हर कैदी से उसकी कब्र खुदवाते हैं ताकि मौत होने पर उसको दफनाया जा सके। यही नहीं मरे हुए लोगों के शव को खाद के रूप में इस्‍तेमाल किया जाता है ताकि पहाड़ी इलाकों में स्थित जेलों के आसपास पैदावार बढ़ाई जा सके।

जेल कम यातना गृह ज्‍यादा

किम जोंग उन के आदेशों को नहीं मानने वालों को जेल में डाल दिया जाता है। ये जेल कम यातना गृह ज्‍यादा होते हैं। इनके बारे में खुद उत्तर कोरिया के लोगों को ही बहुत कम जानकारी है। माना जाता है कि किम जोंग उन के दो तरीके कैंप हैं। राजनीतिक कैदियों के लिए नजरबंदी शिविर हैं। वहीं सामान्‍य अपराधियों के री एजुकेशन कैंप हैं। उत्तर कोरिया की ये जेल दुनियाभर में कुख्‍यात हैं। यहां कैदियों को बर्फ से भरे पानी में डाल दिया जाता है। दोषी कैदियों को आजीवन जेल में मरने के लिए छोड़ दिया जाता है।

हिमाचल और देश-दुनिया की ताजा अपडेट के लिए join करें हिमाचल अभी अभी का Whats App Group

- Advertisement -

Facebook Join us on Facebook Twitter Join us on Twitter Instagram Join us on Instagram Youtube Join us on Youtube

हिमाचल अभी अभी बुलेटिन

Download Himachal Abhi Abhi App Himachal Abhi Abhi IOS App Himachal Abhi Abhi Android App


विशेष \ लाइफ मंत्रा


Himachal Abhi Abhi E-Paper



सब्सक्राइब करें Himachal Abhi Abhi अलर्ट
Logo - Himachal Abhi Abhi

पाएं दिनभर की बड़ी ख़बरें अपने डेस्कटॉप पर

अभी नहीं ठीक है