Covid-19 Update

2, 85, 003
मामले (हिमाचल)
2, 80, 796
मरीज ठीक हुए
4117*
मौत
43,134,332
मामले (भारत)
526,876,304
मामले (दुनिया)

हिमाचल में फूटी लावण्या आत्महत्या मामले की चिंगारी, एबीवीपी ने प्रदर्शन कर मांगी जांच

मंडी में किया जोरदार प्रदर्शन, कहा जांच की मांग उठाए प्रदेश सरकार

हिमाचल में फूटी लावण्या आत्महत्या मामले की चिंगारी, एबीवीपी ने प्रदर्शन कर मांगी जांच

- Advertisement -

मंडी। तमिलनाडु के तंजावुर में 17 वर्षीय छात्रा लावण्या आत्महत्या मामले (Lavanya Suicide Case) की चिंगारी अब हिमाचल में भी पहुंच गई है। लावण्या की मौत के बाद अखिल भारतीय विद्यार्थी परिषद उग्र हो गई है। सोमवार को अखिल भारतीय विद्यार्थी परिषद के कार्यकर्ताओं ने मंडी जिला मुख्यालय में धरना प्रदर्शन (Protest) कर मिशनरी स्कूलों द्वारा किए जा रहे धर्म परिवर्तन के खिलाफ जमकर नारेबाजी की। इस मौके पर एबीवीपी (ABVP) ने डीसी मंडी के माध्यम से प्रदेश सरकार को ज्ञापन प्रेषित किया और तमिलनाडु में हुई इस घटना की जांच की मांग उठाने की अपील की।

यह भी पढ़ें: सीएम जयराम ठाकुर बोले, जहरीली शराब केस के दोषियों पर नहीं होगा कोई रहम

अखिल भारतीय विद्यार्थी परिषद का कहना है कि तमिलनाडु के तंजावुर में 17 वर्षीय छात्रा लावण्या को मिशनरी स्कूल में धर्म परिवर्तन करने के लिए बाध्य किया जाता है। छात्रा के मना करने पर स्कूल प्रशासन द्वारा उसे मानसिक और शारीरिक रूप से प्रताड़ना दी जाती है, जिससे छात्रा ने मजबूर होकर जहर खाकर आत्महत्या कर ली। अखिल भारतीय विद्यार्थी परिषद जिला संयोजक गौरव अत्री ने कहा कि विद्यार्थी परिषद इस तरह की घटना की घोर निंदा करती है। उन्होंने कहा कि प्रदेश सरकार तमिलनाडु में हुई इस घटना की जांच की मांग उठाए।

यह भी पढ़ें:हिमाचल में बड़ा प्रशासनिक फेरबदल, प्रदेश सरकार ने बदले 6 एचएएस अधिकारी

बता दें कि तमिलनाडु के तंजावुर में मिशनरी स्कूल में 12वीं कक्षा में पढ़ने वाली लावण्या पर स्कूल प्रशासन ने ईसाई धर्म में परिवर्तन होने का दबाव डाला। लावण्या ने इससे इंकार कर दिया जिसके बाद स्कूल के अधिकारियों ने उसे प्रताड़ित करना शुरू कर दिया। इस प्रताड़ना से तंग आकर छात्रा ने 9 जनवरी को खुदकुशी कर ली। 10 दिन तक चले इलाज के बाद लावण्या की मौत हो गई। इस मौके पर अखिल भारतीय विद्यार्थी परिषद इकाई अध्यक्ष विशाल ठाकुर, सचिव राहुल भंडारी, विशाली गुलेरिया सहित अन्य कार्यकर्ता भी मौजूद रहे।

हिमाचल और देश-दुनिया के ताजा अपडेट के लिए like करे हिमाचल अभी अभी का facebook page

 

- Advertisement -

Facebook Join us on Facebook Twitter Join us on Twitter Instagram Join us on Instagram Youtube Join us on Youtube

हिमाचल अभी अभी बुलेटिन

Download Himachal Abhi Abhi App Himachal Abhi Abhi IOS App Himachal Abhi Abhi Android App


विशेष \ लाइफ मंत्रा


Himachal Abhi Abhi E-Paper



सब्सक्राइब करें Himachal Abhi Abhi अलर्ट
Logo - Himachal Abhi Abhi

पाएं दिनभर की बड़ी ख़बरें अपने डेस्कटॉप पर

अभी नहीं ठीक है