Covid-19 Update

3,05, 383
मामले (हिमाचल)
2,96, 287
मरीज ठीक हुए
4157
मौत
44,170,795
मामले (भारत)
590,362,339
मामले (दुनिया)

रामपाल के अनुयायियों पर फूटा हिंदू संगठनों का गुस्सा, किताबों में भी लिखी अश्लील भाषा

प्रशासन को ज्ञापन सौंपकर उठाई कड़ी कार्रवाई की मांग

रामपाल के अनुयायियों पर फूटा हिंदू संगठनों का गुस्सा, किताबों में भी लिखी अश्लील भाषा

- Advertisement -

ऊना। जेल में बंद चल रहे रामपाल के अनुयायियों द्वारा रविवार को जिला मुख्यालय के बाजारों में आपत्तिजनक पैंफेलट और किताबें बांटे जाने की घटना को लेकर सामने आया विवाद तूल पकड़ता जा रहा है। जहां रामपाल के अनुयायियों द्वारा बांटे गए पर्चे को लेकर विवाद खड़ा हुआ वहीं रविवार को इन्हीं अनुयायियों द्वारा बांटी जा रही एक किताब में हिंदू देवी-देवताओं के प्रति बेहद अश्लील एवं भद्दी भाषा का प्रयोग किए जाने को लेकर हिंदू संगठनों का गुस्सा फूट पड़ा। विश्व हिंदू परिषद, बजरंग दल, व्यापार मंडल सहित कई संगठनों के सदस्यों ने जिला प्रशासन को इस संबंध में शिकायत पत्र सौंपते हुए इन अनुयायियों के खिलाफ कड़ी कार्रवाई की मांग की है।

ये भी पढ़ेः रामपाल के अनुयायियों ने बांटे हिंदू देवी-देवताओं के प्रति आपत्तिजनक पैंफलेट, भड़के लोग

हिंदू संगठनों के कार्यकर्ताओं ने कहा कि रविवार को हुए विवाद के बाद सिटी पुलिस चौकी में संत रामपाल के कार्यकर्ताओं ने यह पैंफेलट नहीं बांटने की बात कही थी लेकिन उसके बाद देर शाम को ग्रामीण क्षेत्रों में उन्होंने फिर से बिना अनुमति के यह पैंफेलट बांटकर सौहार्दपूर्ण माहौल को खराब करने का प्रयास किया है। व्यापार मंडल के पदाधिकारी राकेश सूरज ने कहा कि इन लोगों में संतोषगढ़ स्कूल के प्रधानाचार्य और कल्याण विभाग में बतौर क्लर्क कार्यरत एक व्यक्ति भी शामिल है। उन्होंने कहा कि शिक्षाविद्ध के रूप में काम कर रहा व्यक्ति इस प्रकार की अश्लील भाषा की किताबें और पैंफेलट बांटकर क्या साबित करना चाहता है। उन्होंने कहा कि ऐसे लोगों को तत्काल प्रभाव से सेवा से बर्खास्त किया जाना चाहिए। वहीं रोहित शर्मा ने कहा कि ऐसे लोगों के खिलाफ कड़ी कानूनी कार्रवाई की जाए ताकि कोई भी हिंदू देवी-देवताओं के प्रति इस प्रकार की अश्लील भाषा का प्रयोग आगे से न कर सके। रोहित शर्मा ने कहा कि संत रामपाल के अनुयायियों को किसी भी धर्म के प्रति इस प्रकार की भाषा लिखने का अधिकार किसने दिया। यह पूरा प्रकरण असहनीय है।दूसरी तरफ एडीसी डॉ अमित शर्मा ने कहा कि मामला ध्यान में लाया गया है हिंदू संगठनों के कार्यकर्ताओं द्वारा इस संबंध में एक शिकायत पत्र सौंपा गया है जिसे आगामी कार्रवाई के लिए पुलिस के सुपुर्द किया जाएगा। उन्होंने सभी लोगों से धार्मिक सौहार्द बनाए रखने की अपील भी की है।

 

हिमाचल और देश-दुनिया के ताजा अपडेट के लिए like करे हिमाचल अभी अभी का facebook page

- Advertisement -

Facebook Join us on Facebook Twitter Join us on Twitter Instagram Join us on Instagram Youtube Join us on Youtube

हिमाचल अभी अभी बुलेटिन

Download Himachal Abhi Abhi App Himachal Abhi Abhi IOS App Himachal Abhi Abhi Android App


विशेष \ लाइफ मंत्रा


Himachal Abhi Abhi E-Paper



---------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------
सब्सक्राइब करें Himachal Abhi Abhi अलर्ट
Logo - Himachal Abhi Abhi

पाएं दिनभर की बड़ी ख़बरें अपने डेस्कटॉप पर

अभी नहीं ठीक है