×

Himachal: पालघर जैसी वारदात को अंजाम देने की कोशिश, संतों से मारपीट-जड़े थप्पड़

दो दर्जन लोगों के खिलाफ मामला दर्ज, जांच में जुटी पुलिस

Himachal: पालघर जैसी वारदात को अंजाम देने की कोशिश, संतों से मारपीट-जड़े थप्पड़

- Advertisement -

ऊना। हिमाचल (Himachal) के ऊना (Una) जिला के हरोली उपमंडल क्षेत्र ठाकरा गांव में संत समाज (Saint Community) के साथ मारपीट करने और जान से मारने की धमकियां देने का सनसनीखेज मामला सामने आया है। पुलिस (Police) ने घटना के संबंध में उदासीन समुदाय के एक संत की शिकायत के आधार पर दो दर्जन से अधिक लोगों के खिलाफ केस दर्ज करते हुए उनकी पहचान के लिए अभियान छेड़ दिया है। मिली जानकारी के मुताबिक जिला के ही गगरेट (Gagret) उपमंडल के तहत पड़ते बड़ौह गांव निवासी उदासीन संत समाज के सदस्य प्रकाश दास ने पुलिस को दी शिकायत में बताया कि वह अपने संत समाज के साथ संगत भ्रमण के लिए निकले थे। इसी दौरान हरोली उपमंडल (Haroli Sub Division) के तहत पड़ते ठाकरा गांव में जब वह एक वट वृक्ष के नीचे बैठे हुए थे तो शाम करीब 7 बजे करीब 25 से 30 व्यक्ति लाठियां लेकर वहां आ पहुंचे और वट वृक्ष के नीचे बैठे संत समाज के साथ गाली-गलौज शुरू कर दिया। यहां तक कि उनके साथ धक्का-मुक्की की गई और यह संतों पर थप्पड़ तक जड़ दिए गए। वहीं उन्हें झूठे केस में फंसाने की धमकियां देने के साथ-साथ पालघर की वारदात को याद करने की भी नसीहत दी गई। बता दें कि महाराष्ट्र (Maharashtra) के पालघर में वर्ष 2020 में संतों को पीट-पीटकर मार देने की वारदात सामने आई थी।


यह भी पढ़ें: पंजाब में किसानों ने की BJP MLA की पिटाई, कपड़े फाडे़, पुलिस दुकान में बंद कर बचाया

संत समाज ने विवाद बढ़ता देख वहां से करीब 2 किलोमीटर दूर जाकर एक मंदिर में शरण ली, लेकिन रात को 10 बजे वहां भी दो दर्जन से अधिक व्यक्ति लाठियां लेकर पहुंच गए और उनके साथ वहां भी मारपीट की गई, संतों को चप्पलों के साथ पीटा गया। इतना ही नहीं पूरे दिन भिक्षा में मिली हुई राशि भी इंसानों से छीन ली गई। घटना के विरोध में संतों द्वारा अनशन भी शुरू किया गया है, जबकि डीसी राघव शर्मा (DC Raghav Sharma) को शिकायत सौंपकर आरोपियों के खिलाफ कड़ी कार्रवाई की मांग की गई है। संतों का कहना है कि हर व्यक्ति को अपने धर्म का सम्मान करने और अपने धर्म के अनुसार जीवन जीने का हक है ऐसे में संतों के साथ ऐसी घटनाएं सनातन धर्म के भविष्य के लिए भी खतरनाक है। वहीं, पुलिस अधीक्षक अर्जित सेन ठाकुर ने मामले की पुष्टि करते हुए बताया कि पुलिस ने घटना के संबंध में एफआईआर (FIR) दर्ज कर ली है और आरोपियों की धरपकड़ के लिए अभियान छेड़ दिया है।

हिमाचल और देश-दुनिया की ताजा अपडेट के लिए join करें हिमाचल अभी अभी का Whats App Group

- Advertisement -

Facebook Join us on Facebook Twitter Join us on Twitter Instagram Join us on Instagram Youtube Join us on Youtube

हिमाचल अभी अभी बुलेटिन

Download Himachal Abhi Abhi App Himachal Abhi Abhi IOS App Himachal Abhi Abhi Android App

टेक्नोलॉजी / गैजेट्स / ऑटो

Himachal Abhi Abhi E-Paper


विशेष




सब्सक्राइब करें Himachal Abhi Abhi अलर्ट
Logo - Himachal Abhi Abhi

पाएं दिनभर की बड़ी ख़बरें अपने डेस्कटॉप पर

अभी नहीं ठीक है