Covid-19 Update

1,47,298
मामले (हिमाचल)
1,08,239
मरीज ठीक हुए
2098
मौत
23,703,665
मामले (भारत)
161,117,824
मामले (दुनिया)
×

CBSE 10वीं की परीक्षा रद्द, 12वीं को दो ऑप्शन!, ICSE बोर्ड भी बोला- रद्द करने के लिए सहमत

CBSE 10वीं की परीक्षा रद्द, 12वीं को दो ऑप्शन!, ICSE बोर्ड भी बोला- रद्द करने के लिए सहमत

- Advertisement -

नई दिल्ली। देश भर में CBSE, ICSE और ISC बोर्ड में पढ़ने वाले छात्रों के लिए एक बड़ी खबर सामने आ रही है। दरअसल केंद्रीय माध्यमिक शिक्षा बोर्ड (सीबीएसई) की 10वीं की बोर्ड परीक्षा रद्द कर दी गई है। एक जुलाई से 15 जुलाई के बीच प्रस्तावित बोर्ड की परीक्षाएं अब नहीं होंगी। सीबीएसई 12वीं के छात्र-छात्राओं को दो विकल्प दिए गए हैं। या तो वे आंतरिक मूल्यांकन (internal assessment)के आधार पर अंक पाएं या फिर बाद में परीक्षा में शामिल हों। सुप्रीम कोर्ट (Supreme Court) में बोर्ड परीक्षा ना कराने की याचिका पर सुनवाई के दौरान सीबीएसई और केंद्रीय मानव संसाधन विकास मंत्रालय की ओर से तुषार मेहता ने पक्ष रखते हुए बताया कि कक्षा 12वीं के स्टूडेंट्स स्कूल में हुए पिछली तीन परीक्षाओं में उनके परफॉर्मेंस के आधार पर अंक दिए जाएंगे।


यह भी पढ़ें: आपातकाल की 45वीं बरसी: शाह ने कसा Congress पर तंज़, PM बोले- बलिदान नहीं भूलेगा देश

इंप्रूवमेंट परीक्षा में शामिल होने का भी विकल्प दिया जाएगा

तुषार मेहता ने बताया कि इसके अलावा उन्हें कुछ महीने बाद होने वाली इंप्रूवमेंट परीक्षा में शामिल होने का भी विकल्प दिया जाएगा। स्टूडेंट्स चाहें तो इंप्रूवमेंट एग्जाम देकर अपना स्कोर बेहतर कर सकेंगे। उन्होंने कहा कि दिल्ली, महाराष्ट्र और तमिलनाडु जैसे कई राज्यों ने परीक्षा आयोजित कराने में असमर्थता जताई थी। उन्होंने कहा कि फिलहाल एक से 15 जुलाई के बीच होने वाली परीक्षा रद्द की जा रही है। उन्होंने कहा कि जब स्थिति बेहतर होगी तब सीबीएसई परीक्षा करवाएगा। सीबीएसई बोर्ड की तरफ से कहा गया कि परीक्षाओॆ को कैंसल किया जा सकता है और 10वीं एवं 12वीं के रिजल्ट 15 जुलाई तक घोषित किए जा सकते हैं।


ICSE बोर्ड की बोर्ड परीक्षाएं रद्द कर दी जाएंगी

वहीं दूसरी तरफ ICSE बोर्ड ने सुप्रीम कोर्ट में कहा है कि 10वीं, 12वीं की बोर्ड परीक्षाएं रद्द कर दी जाएंगी। ICSE ने सुप्रीम कोर्ट को कहा कि हम परीक्षा रद्द करने के लिए सहमत हैं। महाराष्ट्र राज्य ने बॉम्बे HC को बताया है कि वे परीक्षा आयोजित नहीं कर सकते। इसलिए अब ICSE बोर्ड की परीक्षाएं भी रद्द कर दी गई है। इसमें आंतरिक मूल्यांकन प्रणाली का पालन होगा। हालांकि ICSE ने बाद में परीक्षा देने का विकल्प नहीं रखा है।

- Advertisement -

Facebook Join us on Facebook Twitter Join us on Twitter Instagram Join us on Instagram Youtube Join us on Youtube

हिमाचल अभी अभी बुलेटिन

Download Himachal Abhi Abhi App Himachal Abhi Abhi IOS App Himachal Abhi Abhi Android App

टेक्नोलॉजी / गैजेट्स / ऑटो

Himachal Abhi Abhi E-Paper


विशेष




सब्सक्राइब करें Himachal Abhi Abhi अलर्ट
Logo - Himachal Abhi Abhi

पाएं दिनभर की बड़ी ख़बरें अपने डेस्कटॉप पर

अभी नहीं ठीक है