Covid-19 Update

2,06,027
मामले (हिमाचल)
2,01,270
मरीज ठीक हुए
3,505
मौत
31,655,824
मामले (भारत)
198,557,259
मामले (दुनिया)
×

आखिर क्यों नहीं दी Himachal में मंदिरों को खोलने की अनुमति, सुनें जयराम की जुबानी

आखिर क्यों नहीं दी Himachal में मंदिरों को खोलने की अनुमति, सुनें जयराम की जुबानी

- Advertisement -

शिमला। हिमाचल (Himachal) में आखिर मंदिरों को क्यों नहीं खोला जा रहा है। सीएम जयराम ठाकुर (CM Jai Ram Thakur) का इसके बारे क्या कहना है हम आपको बताते हैं। सीएम ने कहा कि राज्य सरकार ने लॉकडाउन (Lockdown) समाप्त करने के पहले चरण में कई छूट प्रदान की है, परंतु इस समय राज्य में पर्यटकों को आने की अनुमति प्रदान नहीं की गई है। उन्होंने कहा कि सरकार ने मंदिरों और अन्य धार्मिक स्थानों को खोलने की भी अनुमति प्रदान नहीं की है, क्योंकि ऐसा करने से शारीरिक दूरी प्रभावित होगी। उन्होंने इस संक्रमण को फैलने से रोकने के लिए समय-समय पर केंद्र और राज्य सरकार द्वारा जारी किए गए दिशा-निर्देशों की पालना करने का भी आग्रह किया। सीएम जयराम ठाकुर ने यह आज शिमला में बीजेपी (BJP) सोलन मंडल की वर्चुअल रैली को संबोधित किया।

यह भी पढ़ें: Una: तेजधार हथियार से किया गया युवक का Murder; ‘हत्यारा कौन’ बना है रहस्य

धन अभाव को विकास में आड़े आने नहीं दिया जाएगा

उन्होंने कहा कि राज्य सरकार निर्माणाधीन विकासात्मक परियोजनाओं को तय समय अवधि के भीतर पूरा करना सुनिश्चित करेगी तथा धन अभाव को विकास में आड़े आने नहीं दिया जाएगा। जयराम ठाकुर ने कहा कि एक समय प्रदेश कोरोना मुक्त बनने की तरफ अग्रसर था, परंतु देश के विभिन्न भागों में फंसे लोगों के प्रदेश में वापस आने के कारण कोरोना (Corona) पीड़ितों की संख्या कई गुणा बढ़ी है। उन्होंने कहा कि राज्य सरकार ऐसी मुसीबत के समय अपने लोगों को नहीं छोड़ सकती थी, इसलिए ऐसा करना अनिवार्य था। उन्होंने कहा कि लोगों को चिंता करने की आवश्यकता नहीं है, क्योंकि कोरोना संक्रमण का सामुदायिक संक्रमण नहीं हुआ है तथा कोविड-19 (Covid-19) के वही मामले सामने आए हैं, जिन्होंने राज्य से बाहर यात्राएं की हैं, या वे लोग जो कोविड संक्रमित व्यक्तियों के सीधे संपर्क में आए हैं।


यह भी पढ़ें: First Hand: बीजेपी की वर्चुअल रैली में सांसद Kishan Kapoor भी,मंडल से कर दिए थे गायब

1.32 लाख मास्क बनाने के लिए सोलन के लोगों का आभार

सीएम ने कहा कि राज्य सरकार तथा बीजेपी राज्य के लोगों से संपर्क स्थापित करने में तकनीक का सर्वोत्तम इस्तेमाल सुनिश्चित कर रही है। उन्होंने कहा कि राज्य सरकार जिला अधिकारियों, विभिन्न पंचायती राज और शहरी स्थानीय निकायों के निर्वाचित प्रतिनिधियों के साथ लगातार वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग (Video Conferencing) के माध्यम से संपर्क में है। उन्होंने कहा कि इस कारण ना केवल विकासात्मक परियोजनाओं की निगरानी सुनिश्चित हुई है, बल्कि कोविड-19 महामारी से प्रभावी ढंग से निपटने में भी मदद मिली है। जयराम ठाकुर ने सोलन विधान सभा क्षेत्र के लोगों का 1.32 लाख मास्क बनाने तथा उनका वितरण करने के लिए धन्यवाद किया। उन्होंने कहा कि लोगों ने एचपी एसडीएमए कोविड-19 स्टेट डिजास्टर रिस्पॉस फंड तथा पीएम केयर्ज में उदारतापूर्वक योगदान किया है। उन्होंने कहा कि प्रदेश के लोगों के सक्रिय सहयोग द्वारा कोरोना वायरस से प्रभावी ढंग से निपटने में मदद मिली है।

यह भी पढ़ें: कांगड़ा जिला में दिल्ली से लौटा देहरा का 50 वर्षीय Stock Broker निकला पॉजिटिव

भ्रष्टाचार को रोकने के लिए जीरो टॉलरेंस की नीति

सीएम ने कहा कि राज्य सरकार ने भ्रष्टाचार को रोकने के लिए जीरो टॉलरेंस की नीति अपनाई है। उन्होंने कहा कि कांग्रेस नेताओं द्वारा तथाकथित स्वास्थ्य घोटाले के बारे में शोर मचाना हैरत की बात है। उन्होंने कहा कि मामला जैसे ही राज्य सरकार के ध्यान में आया, निदेशक स्वास्थ्य सेवाएं के विरूद्ध कार्रवाई की गई। जयराम ठाकुर ने कहा कि क्षेत्र के कांग्रेस नेता राजनीतिक लाभ प्राप्त करने के लिए इस मामले को बेवजह तूल दे रहे हैं। उन्होंने कहा कि नेता विपक्ष ऐसा आचरण कर रहे हैं, जैसे उन्हें सरकार चलाने का लम्बा अनुभव प्राप्त है। उन्होंने कांग्रेस नेताओं को सलाह दी कि वे पहले कांग्रेस (Congress) शासित राज्यों की स्थिति को देखें तथा फिर राज्य सरकार पर सवाल उठाएं। उन्होंने कहा कि कांग्रेस एक नेता विहीन पार्टी है, जहां प्रत्येक व्यक्ति अपने आपको नेता पेश करने की कोशिश कर रहा है।

यह भी पढ़ें: हिमकेयर योजना के नए Card बनवाने और रिन्यू कराने की Date आगे बढ़ाई गई; जानें

सीएम ने कहा कि मोदी सरकार ने भारत को आत्मनिर्भर राष्ट्र बनाने के लिए कई ऐतिहासिक निर्णय लिए हैं। उन्होंने कहा कि सोलन जिला के बद्दी में उत्पादित की जा रही हाईड्रोक्सीक्लोरोक्वीन न केवल देश की आवश्यकताओं को पूरा कर रही है, बल्कि इसका निर्यात 15 अन्य देशों को भी किया जा रहा है। सोलन जिला के विकास की चर्चा करते हुए सीएम ने कहा कि केवल लोक निर्माण विभाग द्वारा ही विभिन्न विकासात्मक परियोजनाओं पर 32 करोड़ रुपये व्यय किए जा रहे हैं। इसके अतिरिक्त जल शक्ति विभाग द्वारा विभिन्न सिंचाई एवं पेय जलापूर्ति योजनाओं पर 30 करोड़ रुपए व्यय किए जा रहे हैं।

हिमाचल और देश-दुनिया की ताजा अपडेट के लिए join करें हिमाचल अभी अभी का Whats App Group…

- Advertisement -

Facebook Join us on Facebook Twitter Join us on Twitter Instagram Join us on Instagram Youtube Join us on Youtube

हिमाचल अभी अभी बुलेटिन

Download Himachal Abhi Abhi App Himachal Abhi Abhi IOS App Himachal Abhi Abhi Android App

टेक्नोलॉजी / गैजेट्स / ऑटो

Himachal Abhi Abhi E-Paper


विशेष




सब्सक्राइब करें Himachal Abhi Abhi अलर्ट
Logo - Himachal Abhi Abhi

पाएं दिनभर की बड़ी ख़बरें अपने डेस्कटॉप पर

अभी नहीं ठीक है