Covid-19 Update

3,12, 233
मामले (हिमाचल)
3, 07, 924
मरीज ठीक हुए
4189
मौत
44,599,466
मामले (भारत)
623,690,452
मामले (दुनिया)

हर सवाल का माकूल जवाब देगी सरकार, विपक्ष के अविश्वास प्रस्ताव का नहीं है कोई औचित्य

सीएम ने कहा केवल सरकार का विरोध करने के लिए कुछ लोग काले बिल्ले लगाकर आए हैं

हर सवाल का माकूल जवाब देगी सरकार, विपक्ष के अविश्वास प्रस्ताव का नहीं है कोई औचित्य

- Advertisement -

शिमला । हिमाचल प्रदेश के सीएम जयराम ठाकुर (CM Jairam Thakur) ने विपक्ष पर हमला साधा है। सीएम ने कहा कि विपक्ष बेवजह अविश्वास प्रस्ताव लाया है। इस अविश्वास प्रस्ताव का कोई औचित्य नहीं है। उन्होंने कहा कि केवल विरोध करने के लिए कुछ विधायक काले बिल्ले बांध कर आए हैं। उन्होंने ने तंज कसते हुए कहा कि जब उन्होंने विपक्ष के मित्र विधायकों से काले बिल्ले लगाने का कारण पूछा, तो विधायकों ने कहा कि वह इस कारण नहीं जानते और पार्टी के निर्देशों पर ही बिल्ले बांध कर आए हैं। सीएम ने कहा कि सरकार विपक्ष के हर सवाल का जवाब देने के लिए तैयार है। यदि विपक्ष सरकार से सवाल पूछेगा तो उन्हें जवाब सुनने का भी दम रखना होगा। सीएम ने कहा कि सरकार सशक्त होकर खड़ी है और विपक्ष के हर सवाल का माकूल जवाब देगी।

यह भी पढ़ें:हिमाचल: अगर सवाल पूछने का जज्बा है तो जवाब सुनने की हिम्मत भी रखे विपक्ष

वहीं पेंशन की मांग को लेकर कॉरपोरेट सेक्टर रिटायरी को-ऑर्डिनेशन कमेटी (Corporate Sector Retirement Coordination Committee) ने आज शिमला में पंचायत भवन से विधानसभा तक रोष रैली निकाली और सरकार से पेंशन बहाल करने की मांग की। कमेटी पिछले कई वर्षों से पेंशन को लागू करने के लिए सरकार से मांग कर रहे हैं लेकिन सरकार इनकी सुध नहीं ले रही है। इसके चलते आज सेवानिवृत्त कर्मचारियों (retired employees) ने सरकार के खिलाफ विधानसभा के बाहर जमकर हल्ला बोला। राज्य कॉरपोरेट सेक्टर सेवानिवृत्त कर्मचारी को-आर्डिनेशन कमेटी के राज्य अध्यक्ष देवी लाल ठाकुर ने सरकार पर कर्मचारियों को धोखा देने का आरोप लगाते हुए कहा कि उन्हें 2007 और वर्ष 2017 में भाजपा द्वारा आश्वासन दिया गया था कि कॉरपोरेट सेक्टर के बोर्ड और निगमों के कर्मियों को पेंशन दी जाएगी लेकिन इतने वर्ष बीत जाने के बाद भी उनकी मांग पर ध्यान नही दिया है। देवी लाल ठाकुर ने कहा कि 1ण्4ण्1999 को जारी पेंशन की अधिसूचना को तत्कालीन सरकार द्वारा 2.12.2004 को वापस लिया गया था ।

यह भी पढ़ें:मानसून सत्रः शोकोद्गार से शुरुआत, काली पट्टी लगाकर पहुंचा विपक्ष दिया अविश्वास प्रस्ताव का नोटिस

उसके बाद के कर्मचारियों को पेंशन नही मिल रही है, जबकि वर्ष 2007 व 2017 में भाजपा ने घोषणा पत्र में पेंशन बहाल करने का वादा किया था। लेकिन इतने वर्षों बाद भी सरकार से बार-बार अनुरोध करने पर भी कोई निर्णय नही हुआ है। मजबूरन सेवानिवृत्त कर्मचारियों को आज विधानसभा का घेराव करना पड़ रहा है।अगर मांगे नही मानी गयी तो चुनावों में सरकार को इसका खामियाजा भुगतना पड़ेगा। हिमाचल प्रदेश के सीएम जयराम ठाकुर ने विपक्ष पर हमला साधा है। सीएम ने कहा कि विपक्ष बेवजह अविश्वास प्रस्ताव लाया है। इस अविश्वास प्रस्ताव (No confidence motion) का कोई औचित्य नहीं है। उन्होंने कहा कि केवल विरोध करने के लिए कुछ विधायक काले बिल्ले बांध कर आए हैं।

हिमाचल और देश-दुनिया की ताजा अपडेट के लिए join करें हिमाचल अभी अभी का Whats App Group

 

 

 

 

- Advertisement -

Facebook Join us on Facebook Twitter Join us on Twitter Instagram Join us on Instagram Youtube Join us on Youtube

हिमाचल अभी अभी बुलेटिन

Download Himachal Abhi Abhi App Himachal Abhi Abhi IOS App Himachal Abhi Abhi Android App


विशेष \ लाइफ मंत्रा


Himachal Abhi Abhi E-Paper



सब्सक्राइब करें Himachal Abhi Abhi अलर्ट
Logo - Himachal Abhi Abhi

पाएं दिनभर की बड़ी ख़बरें अपने डेस्कटॉप पर

अभी नहीं ठीक है