Covid-19 Update

3,08, 944
मामले (हिमाचल)
302, 438
मरीज ठीक हुए
4167
मौत
44,298,864
मामले (भारत)
598,393,278
मामले (दुनिया)

मल्टी टास्क भर्ती में महिलाओ से सीमेंट की बोरी उठाने पर भड़की कांग्रेस

कहां, बीजेपी ने महिलाओ की क्षमताओं का अपमान किया

मल्टी टास्क भर्ती में महिलाओ से सीमेंट की बोरी उठाने पर भड़की कांग्रेस

- Advertisement -

शिमला। मल्टी टास्क भर्ती के लिए महिलाओं से 50 किलो की सीमेंट की बोरी उठाने के मामलों पर कांग्रेस भड़क गई है और इसे महिलाओं का अपमान करार दिया है । कांग्रेस प्रवक्ता किरण धांटा ने कहा कि एक तरफ तो बीजेपी महिला सशक्तिकरण की बड़ी-बड़ी बातें करती हैं वहीं महिलाओं का अपमान करने में भी कोई कसर नहीं छोड़ी है महिलाओं के सम्मान में सीएम ने धर्मशाला से नारी को नमन योजनाएं शुरू की गई लेकिन उन नारियों को ही अपमानित किया जा रहा है। उन्होंने मल्टी टास्क भर्ती के लिए महिलाओं से 50 किलो की सीमेंट की बोरी उठवाना महिलाओं की क्षमताओं का अपमान करार दिया है।प्रवक्ता का कहना है कि आज की महिलाएं पुरुषों से कम नहीं है परन्तु इस का यह अर्थ नहीं है कि आप उन की शारीरिक क्षमताओं का आकलन इस प्रकार से करें, जिसमें सभी महिलाएं अपनी योग्यताओं और क्षमताओं को प्रदर्शित न कर सके।

यह भी पढ़ें:हिमाचल: PWD में मल्टी टास्क वर्कर बनने के इच्छुक करें सीमेंट की बोरी उठाने की प्रेक्टिस

हिमाचल प्रदेश में सभी महिलाओं का भगौलिक क्षेत्र के आधार पर शारीरिक रूप से होने वाले कार्यों को करने का तरीका अलग अलग है परन्तु सत्तासीन भाजपा सरकार शायद हिमाचल प्रदेश की महिलाओं की परिस्थिति से तथा हिमाचल प्रदेश के गांवों की परिस्थिति से जागरूक नहीं है। सत्तासीन बीजेपी सरकार को हिमाचल के लोगों की समस्या की जानकारी नहीं है इसीलिए यह सरकार नौकरी के लिए ऐसे मापदंडों का उपयोग कर रही है जिसमें सभी महिलाओं के लिए नौकरी का एक सामान मौका नहीं है।

कांग्रेस प्रवक्ता ने कहा कि सत्तासीन बीजेपी सरकार महिलाओं का सशक्तिकरण महिलाओं की क्षमताओं को अपमानित कर के कर रही है। उन्होंने बीजेपी की महिला नेताओं से भी प्रश्न किया है कि आज वो महिलाओं के हक़ के लिए आवाज़ क्यों नहीं उठा रही है। क्या महिलाओं के साथ हो रहे इस व्यवहार में महिला सशक्तिकरण नज़र आ रहा है। बीजेपी के नेताओं को अपनी कथनी और करनी दोनों को ठीक करने की आवश्यकता है। इस तरह से महिलाओं के साथ दुर्व्यवहार करने वालों के खिलाफ सख्त कार्रवाई की जानी चाहिए। धर्मशाला में एक विधायक द्वारा अपनी पत्नी को प्रताड़ित किया जाता है उसे घर से निकाला जाता है और समय भी बीजेपी की महिला नेताओं एक शब्द तक नहीं बोला जबकि उन्होंने सीएम से लेकर प्रधानमंत्री तक न्याय की गुहार लगाई थी।

हिमाचल और देश-दुनिया के ताजा अपडेट के लिए like करे हिमाचल अभी अभी का facebook page

 

हिमाचल और देश-दुनिया की ताजा अपडेट के लिए join करें हिमाचल अभी अभी का Whats App Group… 

 

- Advertisement -

Facebook Join us on Facebook Twitter Join us on Twitter Instagram Join us on Instagram Youtube Join us on Youtube

हिमाचल अभी अभी बुलेटिन

Download Himachal Abhi Abhi App Himachal Abhi Abhi IOS App Himachal Abhi Abhi Android App


विशेष \ लाइफ मंत्रा


Himachal Abhi Abhi E-Paper



---------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------
सब्सक्राइब करें Himachal Abhi Abhi अलर्ट
Logo - Himachal Abhi Abhi

पाएं दिनभर की बड़ी ख़बरें अपने डेस्कटॉप पर

अभी नहीं ठीक है