Covid-19 Update

2,26,859
मामले (हिमाचल)
2,22,190
मरीज ठीक हुए
3,825
मौत
34,555,431
मामले (भारत)
260,661,944
मामले (दुनिया)

हिमाचलः कांग्रेस ने महंगाई, बेरोजगारी, अराजकता और माफियाराज के खिलाफ निकाली प्रभात फेरी

हरोली में मुकेश अग्निहोत्री व गगरेट में रणजीत राणा के नेतृत्व में एकत्र हुए कांग्रेसी

हिमाचलः कांग्रेस ने महंगाई, बेरोजगारी, अराजकता और माफियाराज के खिलाफ निकाली प्रभात फेरी

- Advertisement -

ऊना। हिमाचल प्रदेश कांग्रेस इन दिनों सरकार के खिलाप मोर्चा खोले हुए हैं। ऊना में आज हरोली व गगरेट में कांग्रेसियों ने प्रभात फेरी निकाली। नेता प्रतिपक्ष मुकेश अग्निहोत्री के गृहक्षेत्र हरोली में महंगाई, बेरोजगारी, अराजकता और माफियाराज के खिलाफ आज हरोली कांग्रेस कार्यकर्ताओं ने आज तड़के प्रभात फेरी निकाली गई। जबकि ऊना कांग्रेस अध्यक्ष रणजीत राणा की अगुवाई में विधानसभा क्षेत्र गगरेट के दौलतपुर चौक में जन जागरण अभियान के तहत अल सुबह रैली निकाली गई। हरोली विधानसभा क्षेत्र के घालूवाल में निकाली गई प्रभात फेरी के दौरान कांग्रेस जनों ने बीजेपी पर महंगाई, बेरोजगारी, अराजकता और माफिया राज फैलाने के आरोप जड़े। नेता प्रतिपक्ष ने कहा कि भाजपा के राज में जनता पूरी तरह से त्रस्त हो चुकी है। एक तरफ बीजेपी ने महंगाई के बोझ तले जनता को दबा दिया है वहीं दूसरी तरफ बेरोजगारी के आलम से युवाओं को आत्महत्या करने पर मजबूर होना पड़ा है। उन्होंने कहा कि प्रदेश भर में बढ़ रहे अपराध के चलते अराजकता का माहौल पैदा हो चुका है। कानून व्यवस्था का इस तरह से जनाजा निकला है कि हिमाचल प्रदेश में गुंडाराज जैसी परिस्थिति दिखाई दे रही है। बेलगाम माफिया दनदनाता फिरता है और सरकार के साथ-साथ प्रशासन को भी अपने कब्जे में लिए हुए हैं।नेता प्रतिपक्ष मुकेश अग्निहोत्री ने कहा कि प्रदेश व केंद्र में बीजेपी की सरकारें फेल हो गई हैं। महंगाई आसमान छू रही है और बेरोजगार सड़कों पर खाक छान रहे हैं। किसानों ने संघर्ष से जीत तो हासिल कर ली, लेकिन जिन किसानों की जात गई उनके बारे में सरकार मौन है।

उधर गगरेट में अल सुबह करीब पांच बजे जन जागरण यात्रा का आयोजन किया। इस यात्रा में कांग्रेस के पदाधिकारी ही शामिल हुए। जन जागरण यात्रा में उपस्थित लोगों को संबोधित करते हुए जिला अध्यक्ष रणजीत राणा ने कहा देश का किसान तीनों कृषि कानूनों के खिलाफ दिन रात सड़क पर डटा रहा और कांग्रेस पार्टी उस आंदोलन को समर्थन देती रही। देश के किसान ने सड़क पर बैठकर हर मौसम की मार को झेला, तब जाकर किसानों को इस आंदोलन में सफलता मिली है।

 

हिमाचल और देश-दुनिया की ताजा अपडेट के लिए join करें हिमाचल अभी अभी का Whats App Group

 

 

- Advertisement -

हिमाचल अभी अभी बुलेटिन

Download Himachal Abhi Abhi App Himachal Abhi Abhi IOS App Himachal Abhi Abhi Android App


विशेष \ लाइफ मंत्रा


Himachal Abhi Abhi E-Paper



सब्सक्राइब करें Himachal Abhi Abhi अलर्ट
Logo - Himachal Abhi Abhi

पाएं दिनभर की बड़ी ख़बरें अपने डेस्कटॉप पर

अभी नहीं ठीक है