Covid-19 Update

58,460
मामले (हिमाचल)
57,260
मरीज ठीक हुए
982
मौत
11,046,914
मामले (भारत)
113,175,046
मामले (दुनिया)

Big Breaking: कांगड़ा जिला परिषद की सरदारी को लेकर बड़ी अपडेट- कांग्रेस का ऐलान

कड़ी निगरानी के बीच धर्मशाला में डटे बीजेपी और कांग्रेस समर्थित प्रत्याशी

Big Breaking: कांगड़ा जिला परिषद की सरदारी को लेकर बड़ी अपडेट- कांग्रेस का ऐलान

- Advertisement -

धर्मशाला। कांगड़ा जिला परिषद अध्यक्ष और उपाध्यक्ष का पद बीजेपी (BJP) और कांग्रेस (Congress) के लिए साख का सवाल बन गया है। साख का सवाल बनना भी लाजिमी है, क्योंकि कांगड़ा हिमाचल का सबसे बड़ा जिला है। काफी हद तक सत्ता का रास्ता कांगड़ा किले से होकर ही गुजरता है। एक तरफ जहां बीजेपी सदस्य संख्या के अनुसार कांगड़ा जिला परिषद पर कब्जे का दावा कर रही है तो वहीं कांग्रेस ने भी अध्यक्ष (President) और उपाध्यक्ष (Vice President) पद पर प्रत्याशी खड़े करने का ऐलान कर दिया है। कांग्रेस नेताओं का कहना है कि परिणाम चाहें जो भी हो, लेकिन वह प्रत्याशी जरूर खड़े करेंगे। वहीं, जिला परिषद अध्यक्ष और उपाध्यक्ष चुनाव से एक दिन पहले बीजेपी और कांग्रेस समर्थित प्रत्याशी कड़ी निगरानी के बीच धर्मशाला में डट गए हैं। बीजेपी समर्थित प्रत्याशी वन मंत्री राकेश पठानिया और त्रिलोक कपूर की निगरानी में शीला रोड स्थित एक निजी होटल में ठहरे हैं तो वहीं कांग्रेस समर्थित प्रत्याशी सिद्धबाड़ी के एक होटल में रूके हुए हैं। कांग्रेस समर्थित प्रत्याशियों के साथ कांग्रेस के बड़े नेता भी हैं।

यह भी पढ़ें: #Kangra जिला परिषद अध्यक्ष और उपाध्यक्ष लॉबिंग के बीच दो BDC पर कांग्रेस का कब्जा

बता दें कि जिला परिषद अध्यक्ष और उपाध्यक्ष के लिए कल चुनाव होना है। पिछले कल जिला परिषद कांगड़ा (Zilla Parishad Kangra) के अध्यक्ष-उपाध्यक्ष का चुनाव टल (Postponed)गया था। बैठक के लिए कोरम पूरा ना होने के चलते अब अगली बैठक पहली फरवरी रखी गई है। इसमें साधारण बहुमत से ही अध्यक्ष-उपाध्यक्ष का चुनाव कर लिया जाएगा। यानी पहली तारीख को 27 सदस्यों की उपस्थिति में चुनाव हो जाएगा। इससे पहले पिछले कल की बैठक में 54 सदस्यीय जिला परिषद के कोरम के लिए 36 सदस्यों की मौजूदगी होनी जरूरी थी, लेकिन अंत समय तक बीजेपी समर्थित 33 सदस्य ही पहुंच सके। जबकि इससे पहले जयराम सरकार के कैबिनेट मंत्रियों ने दावा किया था कि उनके पाले में 34 सदस्य हैं, यानी उनमें भी एक कम रहा। सीएम जयराम ठाकुर मंडी से शुक्रवार को सीधे धर्मशाला पहुंचे थे और उन्होंने यहां पर जिला परिषद के सदस्यों से दो बार बैठक भी की थीं।

हिमाचल और देश-दुनिया के ताजा अपडेट के लिए join करें हिमाचल अभी अभी का Whats App Group 

- Advertisement -

Facebook Join us on Facebook Twitter Join us on Twitter Instagram Join us on Instagram Youtube Join us on Youtube

हिमाचल अभी अभी बुलेटिन

Download Himachal Abhi Abhi App Himachal Abhi Abhi IOS App Himachal Abhi Abhi Android App

टेक्नोलॉजी / गैजेट्स / ऑटो

Himachal Abhi Abhi E-Paper


विशेष




सब्सक्राइब करें Himachal Abhi Abhi अलर्ट
Logo - Himachal Abhi Abhi

पाएं दिनभर की बड़ी ख़बरें अपने डेस्कटॉप पर

अभी नहीं ठीक है