Covid-19 Update

2,26,859
मामले (हिमाचल)
2,22,190
मरीज ठीक हुए
3,825
मौत
34,555,431
मामले (भारत)
260,661,944
मामले (दुनिया)

हिमाचल हाईकोर्ट ने सिरमौर में स्कूल का स्लैब टूटने के मामले में मांगी की रिपोर्ट

डीसी सिरमौर आरके गौतम ने मामले में भेजी अपनी रिपोर्ट

हिमाचल हाईकोर्ट ने सिरमौर में स्कूल का स्लैब टूटने के मामले में मांगी की रिपोर्ट

- Advertisement -

शिमला। हिमाचल हाईकोर्ट (Himachal High Court) ने जिला सिरमौर (Sirmaur) के धारटीधार इलाके की राजकीय वरिष्ठ माध्यमिक पाठशाला भरोग बनेड़ी में रेलिंगनुमा रास्ते की स्लैब क्षतिग्रस्त होने से पांच विद्यार्थी घायल होने के मामले में उच्च न्यायालय की जूविनाइल जस्टिस कमेटी ने सचिव लोक निर्माण विभाग व निदेशक उच्च शिक्षा से इस बाबत रिपोर्ट मांगी है। कोर्ट ने पूछा है कि उन्होंने स्कूल भवन का निर्माण करने वाले ठेकेदार के खिलाफ क्या कार्यवाही अमल में लाई है। हिमाचल प्रदेश उच्च न्यायालय की जूविनाइल जस्टिस कमेटी के अध्यक्ष न्यायमूर्ति तरलोक सिंह चौहान ने उक्त अधिकारियों को अपनी रिपोर्ट में यह स्पष्ट करने को कहा है कि क्या इस तरह घटिया गुणवत्ता वाले निर्माण कार्य के लिए ठेकेदार के खिलाफ कार्रवाई शुरू कर दी गई है। 12 नवंबर को एक दैनिक समाचार पत्र में प्रकाशित समाचार पर प्रशासनिक तौर पर सज्ञान लिया गया। इस प्रशासनिक आदेश को पारित करने से पूर्व जूविनाइल जस्टिस कमिटी के अध्यक्ष न्यायमूर्ति तरलोक सिंह चौहान ने डीसी सिरमौर नाहन से उच्च न्यायालय के रजिस्ट्रार के माध्यम से दोपहर के 3 बजे तक ईमेल या फैक्स के माध्यम से उक्त मामले पर रिपोर्ट भेजने को कहा।

यह भी पढ़ें: हिमाचल: JBT बैचवाइज भर्ती मामले में हाईकोर्ट ने सुरक्षित रखा फैसला

 

निर्देश के अनुपालन में डीसी सिरमौर आरके गौतम ने अपनी रिपोर्ट भेजीए जिसमें उन्होंने कहा है कि जब राजकीय वरिष्ठ माध्यमिक विद्यालय (Government Senior Secondary School) बनेड़ी के टेन प्लस वन क्लास के छात्र अवकाश अवधि के बाद स्लैब के ऊपर से गुजर रहे थे तो ठीक उस समय खेल के मैदान को पहली मंजिल से जोड़ने वाला कंक्रीट स्लैब 11 नवम्बर को अचानक गिर गया। इस घटना के कारण आठ बच्चे नीचे गिर गए और परिणामस्वरूप घायल हो गये। उन्होंने आगे बताया कि बच्चों को तुरंत स्थानीय प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र ले जाया गया। जहां उन्हें चिकित्सा सहायता प्रदान की गई। सभी छात्र खतरे से बाहर है। उनका सारा चिकित्सा खर्चा सरकार उठा रही है। उन्होंने अपनी रिपोर्ट में आगे कहा कि इसके अलावा पुलिस अधीक्षक से मामले की जांच करने को कहा गया है ताकि पुलिस मामले में उचित कार्रवाई करें। डीसी ने आगे अपनी रिपोर्ट में बताया कि 11 नवंबरए 2021 को उक्त मामले को लेकर प्राथमिकी दर्ज की गई है। स्लैबध्पथ के निर्माण में किसी भी प्रकार की चूक का पता लगाने के लिए जांच की जा रही है।

 

 

हिमाचल और देश-दुनिया की ताजा अपडेट के लिए join करें हिमाचल अभी अभी का Whats App Group 

 

 

 

 

- Advertisement -

हिमाचल अभी अभी बुलेटिन

Download Himachal Abhi Abhi App Himachal Abhi Abhi IOS App Himachal Abhi Abhi Android App


विशेष \ लाइफ मंत्रा


Himachal Abhi Abhi E-Paper



सब्सक्राइब करें Himachal Abhi Abhi अलर्ट
Logo - Himachal Abhi Abhi

पाएं दिनभर की बड़ी ख़बरें अपने डेस्कटॉप पर

अभी नहीं ठीक है