×

दिल्ली : पुलिस गिरफ्त से बदमाश को छुड़ा ले गए अपराधी, GTB अस्पताल परिसर में फायरिंग

पुलिस की फायरिंग में एक बदमाश ढेर, फरार बदमाशों की तलाश जारी

दिल्ली : पुलिस गिरफ्त से बदमाश को छुड़ा ले गए अपराधी, GTB अस्पताल परिसर में फायरिंग

- Advertisement -

नई दिल्ली। आप यूपी और अन्य राज्यों में अपराधियों को पुलिस (Police) की गिरफ्त से भगा ले जाने के मामले देखते हैं, लेकिन देश की राजधानी दिल्ली (Delhi) में भी ऐसा ही कुछ हुआ है। यहां एक कुख्यात बदमाश को उसके साथी फायरिंग (Firing) कर पुलिस की गिरफ्त से छुड़ा ले गए। कुख्यात बदमाश कुलदीप (Kuldeep) उर्फ फज्ज़ा के नाम से जाना जाता है। उसे पुलिस टीम दिल्ली के जीटीबी अस्पताल (गुरु तेग बहादुर अस्पताल) लाई थी। यहीं पर कुछ बदमाश आए और कई राउंड फायरिंग (Firing) करने के बाद कुलदीप नाम के बदमाश को छुड़ा ले गए। फायरिंग में एक बदमाश की मौत भी हुई है।


यह भी पढ़ें: छापा मारने पहुंची एंटी करप्शन ब्यूरो की टीम, तहसीलदार ने चूल्हे पर 20 लाख की नकदी को लगा दी आग

इस मामले से पुलिस (Police) विभाग में हड़कंप मच गया है। पुलिस बदमाशों की तलाश कर रही है। जानकारी के मुताबिक जिस कैदी को पुलिस हिरासत (Police Custody) से छुड़ाया गया है वो मामूली बदमाश नहीं है। जानकारी के अनुसार बदमाश को दिल्ली पुलिस (Delhi Police) की थर्ड बटालियन की टीम जेल से जीटीबी अस्पताल लेकर आई थी। जीटीबी अस्पताल (GTB Hospital) में बदमाश का मेडिकल होना था। इसी दौरान वहां एक स्कॉर्पियो कार और बाइक पर सवार होकर आधा दर्जन के करीब बदमाश पहुंचे और फायरिंग (Firing) शुरू कर दी।

यह भी पढ़ें: महिला सैन्य अधिकारियों को परमानेंट कमीशन पर SC का फैसला- दो महीने के अंदर दिया जाए पदभार

यह घटना अस्पताल परिसर (Hospital Campus) के अंदर 12:30 बजे के आस-पास हुई। बदमाशों के फायरिंग करने के बाद पुलिस ने भी जवाबी फायरिंग की। इसमें कैदी को छुड़ाने आए बदमाशों में एक बदमाशको पुलिस की गोली लग गई, जिससे उसकी मौके पर ही मौत (Death) हो गई। आपको बता दें कि कुलदीप (Kuldeep) बदमाश जितेंद्र गोगी गैंग का सदस्य है। कुलदीप पर हत्या जैसे 70 से अधिक केस दर्ज हैं। उधर, पुलिस फायरिंग में जो बदमाश मारा गया है उसकी पहचान अभी तक नहीं हुई है। जो बदमाश (Miscreant) फरार हुआ उस पर दिल्ली पुलिस ने उस पर 2 लाख का इनाम रखा था और 2020 में ही दिल्ली पुलिस ने उसे गिरफ्तार किया था।

हिमाचल और देश-दुनिया की ताजा अपडेट के लिए join करें हिमाचल अभी अभी का Whats App Group 

- Advertisement -

Facebook Join us on Facebook Twitter Join us on Twitter Instagram Join us on Instagram Youtube Join us on Youtube

हिमाचल अभी अभी बुलेटिन

Download Himachal Abhi Abhi App Himachal Abhi Abhi IOS App Himachal Abhi Abhi Android App

टेक्नोलॉजी / गैजेट्स / ऑटो

Himachal Abhi Abhi E-Paper


विशेष




सब्सक्राइब करें Himachal Abhi Abhi अलर्ट
Logo - Himachal Abhi Abhi

पाएं दिनभर की बड़ी ख़बरें अपने डेस्कटॉप पर

अभी नहीं ठीक है