Covid-19 Update

2, 43, 365
मामले (हिमाचल)
2, 28, 454
मरीज ठीक हुए
3874*
मौत
37,380,253
मामले (भारत)
328,826,023
मामले (दुनिया)

हिमाचल: बेटी पीजीआई में एडमिट, पिता ने दानियों से लगाई मदद की गुहार

गर्दन के नीचे का पूरा शरीर सुन्न, इलाज के लिए तीन लाख की जरूरत

हिमाचल: बेटी पीजीआई में एडमिट, पिता ने दानियों से लगाई मदद की गुहार

- Advertisement -

रामपुर बुशहर। अपने जिगर के टुकड़े लाड़ली बिटिया को अपने पैरों पर चलता देखने के लिए एक पिता (father )ने सब कुछ दांव पर लगा दिया है। खाली हाथ पिता अब दानी सज्जनों की ओर देखने लगा है, ताकि उसकी लाड़ली स्वस्थ हो सके। हम बात कर रहे है ननखड़ी खंड की थैली चकटी पंचायत की साक्षी (sashi)की। साक्षी रीढ़ की हड्डी की बीमारी से पीड़ित है और उसका इलाज पीजीआई (PGI) में चल रहा है। उसके पिता ने अपनी सारी जमा पूंजी उसके इलाज पर खर्च कर डाली है और बेटी के लिए इलाज के लिए और पैसों की जरूरत है।

जानकारी के अनुसार साक्षी गरीब परिवार से संबंध रखती है और अब उसके पिता के पास कोई रकम नहीं बची है और बेटी (daughter) के इलाज के लिए असमर्थ हो गए है। इसको लेकर साक्षी के पिता ने लोगों से मदद की गुहार लगाई हैा कुमारी साक्षी शर्मा के पिता सुधीर शर्मा ने बताया कि उनकी बेटी का शरीर गर्दन से नीचे पूरी तरह से सुन्न हो गया है। परिवार की आर्थिक स्थिति भी ठीक नहीं है। साक्षी का इलाज पीजीआई में चल रहा है।

अब तक नौ से दस लाख इलाज में खर्च हो चुके हैं। 17 दिसंबर को साक्षी के उपचार संबंधी करीब तीन लाख रुपए खर्च होने हैं। उन्होंने दानवीर लोगों से अपील की है कि सभी साक्षी की मदद के लिए आगे आएं। इसके लिए वह सुधीर शर्मा के अकाउंट नंबर 43110122706, आईएफएसी-एचपीएससी 0000431 और एचपी स्टेट को-आपरेटिव बैंक रामपुर बुशहर में अपना सहयोग दे सकते हैं।

हिमाचल और देश-दुनिया की ताजा अपडेट के लिए join करें हिमाचल अभी अभी का Whats App Group… 

- Advertisement -

Facebook Join us on Facebook Twitter Join us on Twitter Instagram Join us on Instagram Youtube Join us on Youtube

हिमाचल अभी अभी बुलेटिन

Download Himachal Abhi Abhi App Himachal Abhi Abhi IOS App Himachal Abhi Abhi Android App


विशेष \ लाइफ मंत्रा


Himachal Abhi Abhi E-Paper



सब्सक्राइब करें Himachal Abhi Abhi अलर्ट
Logo - Himachal Abhi Abhi

पाएं दिनभर की बड़ी ख़बरें अपने डेस्कटॉप पर

अभी नहीं ठीक है