Covid-19 Update

1,54,664
मामले (हिमाचल)
1,15,610
मरीज ठीक हुए
2219
मौत
24,372,907
मामले (भारत)
162,538,008
मामले (दुनिया)
×

अब घर बैठे देख और सुन सकेंगे #Himachal के शक्तिपीठों में होने वाली आरती, जाने क्या है Plan

डीसी कांगड़ा ने शक्तिपीठों से आरती के सीधे प्रसारण के लिए प्लान तैयार करने के दिए निर्देश

अब घर बैठे देख और सुन सकेंगे #Himachal के शक्तिपीठों में होने वाली आरती, जाने क्या है Plan

- Advertisement -

धर्मशाला। देवभूमि हिमाचल के शक्तिपीठों में होने वाली सुबह शाम की आरती (Aarti) को अब लोग घर बैठक कर देख सकेंगे। कुछ ऐसी ही व्यवस्था के लिए जिला प्रशासन प्लान (Plan) तैयार करने में जुट गया है। डीसी कांगड़ा राकेश कुमार प्रजापति (DC Kangra Rakesh Kumar Prajapati) ने यह जानकारी दी है। उन्होंने बताया कि जिला के शक्तिपीठों से आरती के सीधे प्रसारण को लेकर प्लान तैयार किया जा रहा है। इस बाबत आज सोमवार को डीसी कार्यालय परिसर के सभागार में एक आवश्यक बैठक आयोजित की गई। जिसमें कांगड़ा, धर्मशाला तथा ज्वालाजी के उपमंडलाधिकारियों तथा बज्रेश्वरी मंदिर, चामुंडा नंदिकेश्वर धाम मंदिर तथा ज्वालाजी मंदिर (Temple) के अधिकारियों को भी विस्तृत रूप रेखा तैयार करने के दिशा-निर्देश दिए गए।


यह भी पढ़ें: मां दुर्गा का विशाल मंदिर बनवाएंगी #Kangana, बोलीं – नेक काम के लिए माता ने मुझे चुना

 


 

डीसी कांगड़ा राकेश प्रजापति ने कहा कि कांगड़ा के प्रमुख शक्तिपीठों के सौन्दर्यकरण के लिये भी कारगर कदम उठाए जा रहे हैं। उन्होंने कहा कि इन मंदिरों में देश तथा दुनिया से प्रतिवर्ष लाखों श्रद्धालु माथा टेकने के लिए आते हैं। श्रद्धालुओं को बेहतर सुविधायें उपलब्ध करवाने के लिए उचित कदम उठाये गये हैं। मंदिर परिसरों में स्वच्छता का भी विशेष ध्यान रखा जा रहा है। इसके अतिरिक्त मंदिर परिसरों में सीसीटीवी कैमरों के माध्यम से सुरक्षा व्यवस्था को भी चाक चोबंद किया गया है। राकेश प्रजापति ने कहा कि कोविड-19 के इस दौर में मंदिर परिसरों (Temple complexes) में भी कोविड प्रोटोकोल (Covid Protocol) का विशेष ध्यान रखा जा रहा है। मंदिर परिसरों को नियमित रूप से सैनिटाईज किया जा रहा है। श्रद्धालुओं को सामाजिक दूरी के लिये भी प्रेरित किया जा रहा है। इसके साथ ही श्रद्धालुओं की थर्मल स्कैनिंग भी की जा रही है। इससे पहले एडीएम रोहित राठौर ने कांगड़ा जिला के शक्तिपीठों से लाईव आरती का प्रसारण करने बारे तैयार की गई रूप-रेखा की विस्तृत जानकारी प्रदान की। इस अवसर पर उपमंडलाधिकारियों ने भी अपने-अपने सुझाव दिये।

 

हिमाचल और देश-दुनिया की ताजा अपडेट के लिए join करें हिमाचल अभी अभी का Whats App Group 

- Advertisement -

Facebook Join us on Facebook Twitter Join us on Twitter Instagram Join us on Instagram Youtube Join us on Youtube

हिमाचल अभी अभी बुलेटिन

Download Himachal Abhi Abhi App Himachal Abhi Abhi IOS App Himachal Abhi Abhi Android App

टेक्नोलॉजी / गैजेट्स / ऑटो

Himachal Abhi Abhi E-Paper


विशेष




सब्सक्राइब करें Himachal Abhi Abhi अलर्ट
Logo - Himachal Abhi Abhi

पाएं दिनभर की बड़ी ख़बरें अपने डेस्कटॉप पर

अभी नहीं ठीक है