हिमाचलः कांगड़ा के प्रमुख मंदिरों में चेहरा देखकर लगेगी कर्मचारियों की हाजिरी

डीसी कांगड़ा ने 10 दिनों के भीतर मंदिरों में नई मशीन इंस्टाल करने के आदेश दिए

हिमाचलः कांगड़ा के प्रमुख मंदिरों में चेहरा देखकर लगेगी कर्मचारियों की हाजिरी

- Advertisement -

पंकज नरयाल/ धर्मशाला। हिमाचल के जिला कांगड़ा के सभी सरकारी अधिग्रहण किए गए मंदिरों, शक्तिपीठ ज्वालाजी , बज्रेश्वरी देवी, चामुंडा देवी में फेस रिकग्निशन बॉयोमैट्रिक मशीन से कर्मचारियों की हाजरी लगेगी। हालांकि यह पहली बार होगा कि मंदिरों में फेस रिकग्निशन बॉयोमैट्रिक मशीन( face recognition biometric machine) से कर्मचारी का चेहरा देखकर हाजिरी लगेगी। इसके लिए बाकायदा डीसी कांगड़ा डा. निपुण जिंदल ने 10 दिनों के भीतर मंदिरों में नई मशीन इंस्टाल करने के आधिकारिक आदेश भी जारी कर दिए गए हैं।


ये भी पढ़ेः हिमाचल हाईकोर्ट ने कम लागत की इमारतों को बिना उद्घाटन के उपयोग में लाने के दिए आदेश

जानकारी के मुताबिक जिला कांगड़ा के सरकार द्वारा अधिग्रहण किए गए मंदिरों में कर्मचारियों व सुरक्षाकर्मीयों द्वारा बाहरी राज्यों से रोजाना हजारों की संख्या में आने वाले श्रद्धालुओं को बेहतर पारदर्शी व जवाबदेह व्यवस्था देने के लिए फेस रिकग्निशन बॉयोमैट्रिक मशीन लगाने के आदेश डीसी ने सभी मंदिरों को दिए हैं। कांगड़ा प्रदेश का पहला ऐसा जिला बन गया है , जहां पर यह नई तकनीक की फेस रिकग्निशन बॉयोमैट्रिक मशीन लगवाई जा रही है। यदि यह प्रयोग सफल होता है तो प्रदेश के समस्त सरकारी मंदिरों में भी इसे अपनाया जा सकता है। वहीं ज्वालादेवी मंदिर में कनिष्ठ अभियंता जितेन्द्र शर्मा को मंदिर प्रशासन की ओर से इस मशीन को लगवाने व समस्त 100 मंदिर कर्मियों व सुरक्षाकर्मियों की डिटेल इस मशीन में दर्ज करने का जिम्मा दे रखा है। मशीन में डाटा फीड करने का कार्य किया जा रहा हैं। उसके बाद इस मशीन को संचालित किया जाएगा।

ज्वालामुखी मंदिर में फेस डिटेक्शन मशीन इंस्टाल की जा रही है

उधर डीसी कांगड़ा डा. निपुण जिंदल ने कहा कि मंदिरों से आ रही शिकायतों को देखते हुए जिला कांगड़ा के तीन बड़े शक्तिपीठों में डिटेक्शन बायोमेट्रिक मशीन स्थापित की जाएंगी। हालांकि फेस रिकग्निशन बॉयोमैट्रिक मशीन न लगाए जाने का कार्य प्रगति पर है। उन्होंने कहा कि डिटेक्शन बायोमैट्रिक मशीन लगने से अधिकारियों के पुजारियों का चेहरा भी मशीन में रिकॉर्ड हो जाएगा । बता दें कि डीसी कांगड़ा के आदेश मिलने के बाद ज्वालामुखी मंदिर में फेस डिटेक्शन मशीन इंस्टाल की जा रही है जिससे मंदिर के प्रत्येक कर्मचारी व सुरक्षाकर्मी का चेहरा देखकर मशीन खुद उस कर्मी की हाजिरी लगाऐगी। मंदिर में बेहतर पारदर्शी व जबाबदेह व्यवस्था बनाने के लिए यह नई अत्याधुनिक तकनीक अपनाई जा रही है जो की अपने आप में अनूठी है।

हिमाचल और देश-दुनिया की ताजा अपडेट के लिए join करें हिमाचल अभी अभी का Whats App Group 

 

- Advertisement -

loading...
Facebook Join us on Facebook Twitter Join us on Twitter Instagram Join us on Instagram Youtube Join us on Youtube

RELATED NEWS

हिमाचल अभी अभी बुलेटिन

Download Himachal Abhi Abhi App Himachal Abhi Abhi IOS App Himachal Abhi Abhi Android App

Himachal Abhi Abhi E-Paper


विशेष




×
सब्सक्राइब करें Himachal Abhi Abhi अलर्ट
Logo - Himachal Abhi Abhi

पाएं दिनभर की बड़ी ख़बरें अपने डेस्कटॉप पर

अभी नहीं ठीक है