Covid-19 Update

2, 84, 982
मामले (हिमाचल)
2, 80, 760
मरीज ठीक हुए
4117*
मौत
43,131,822
मामले (भारत)
525,904,563
मामले (दुनिया)

सौ घंटे से जल रहे शिमला के जंगल, आग बुझाने में जुटे 120 जवान

सात किलोमीटर क्षेत्र की वन संपदा और जीव-पक्षी जल कर राख

सौ घंटे से जल रहे शिमला के जंगल, आग बुझाने में जुटे 120 जवान

- Advertisement -

शिमला। हर साल गर्मियों में हिमाचल (Himachal) के जंगल जलते है और जंगलों को बचाने के लिए भी हर साल कसमें भी खाई जाती हैं। फिर यह आग (Fire) की लपटें उठती क्यों है, यह सवाल 100 घंटे से जल रहा तारा देवी के जंगल (Tara Devi Forest) के आसपास के लोग उठा रहे हैं। आग अभी भी लगी हुई है और करीब सात किलोमीटर क्षेत्र को नुकसान पहुंचा चुकी है। आग बुझाने में फायर ब्रिगेड (Fire Brigade) कर्मियों के साथ स्थानीय लोग भी मदद कर रहे है। आग बुझाने में 120 जवान जुटे हुए हैं।

यह भी पढ़ें:हिमाचल: दुकान के बाहर रखे टायरों में भड़की आग, जाने किस तरह बचाई लाखों की संपत्ति

इस आग में अब तक लाखों की वन संपदा (Forest Wealth) जलकर राख हो चुकी है। कई वन्य जीवों का आश्रय छिन चुका है तो कई इस आग की चपेट में आकर राख बन गए हैं। इसके अलावा शिमला (Shimla) के भरयाल कूड़ा संयंत्र में आज सुबह फिर आग की लपटें फिर से भड़क उठीं। जंगलों के आसपास रहने वाले लोगों को अपने आशियानों के जलने का डर भी सता रहा है। लोगों की रात की नींद उठने लगी है। शिमला के जंगल रातभर सुलगते रहे हैं। फायर ब्रिगेड विभाग के अनुसार तारादेवी, संकटमोचन, भरयाल और चक्कर जंगलों आग लगी हुई है।

यह भी पढ़ें:हिमाचल में एक बार फिर आग का तांडव, 12 झुग्गियां जलकर राख

राजधानी में जंगलों की आग को काबू पाने के लिए सबसे ज्यादा कमी फायर ब्रिगेड वाहनों (Fire Brigade Vehicles) की खिल रही हैं तारादेवी के जंगल में वीरवार शाम से ही आग लगी हुई है] जबकि संकटमोचन] चलौठी] भरयाल और चक्कर के जंगल में रात और सुबह से आग लगी हुई है। शहर में चौरतफा आग होने से लोग डरे व सहमे हुए हैं] क्योंकि इन जंगलों के साथ लगते एरिया में रिहायशी कॉलोनियां भी है।

हिमाचल और देश-दुनिया के ताजा अपडेट के लिए like करे हिमाचल अभी अभी का facebook page

- Advertisement -

Facebook Join us on Facebook Twitter Join us on Twitter Instagram Join us on Instagram Youtube Join us on Youtube

हिमाचल अभी अभी बुलेटिन

Download Himachal Abhi Abhi App Himachal Abhi Abhi IOS App Himachal Abhi Abhi Android App


विशेष \ लाइफ मंत्रा


Himachal Abhi Abhi E-Paper



सब्सक्राइब करें Himachal Abhi Abhi अलर्ट
Logo - Himachal Abhi Abhi

पाएं दिनभर की बड़ी ख़बरें अपने डेस्कटॉप पर

अभी नहीं ठीक है