हरियाणा से Good News : पीजीआई में कोरोना वैक्सीन के ट्रायल का First Phase सफल

हरियाणा से Good News : पीजीआई में कोरोना वैक्सीन के ट्रायल का First Phase सफल

- Advertisement -

रोहतक। कोरोना संकट के बीच जहां रोज केस बढ़ते जा रहे हैं, वहीं एक अच्छी खबर हरियाणा (Haryana) से सामने आई है। यहां कोरोना वायरस पर काबू पाने की कोशिशों में बड़ी कामयाबी मिली है। बड़ी बात ये है कि कोरोना वैक्सीन के ट्रायल का प्रथम फेज सफल रहा है। पीजीआई के चिकित्सकों ने अब सेफ्टी कंट्रोल बोर्ड की अनुमति के बाद प्रथम फेज के पार्ट टू में छह लोगों को डोज दी है, जबकि 25 और लोगों को डोज देने की तैयारी है। वहीं, अगले सप्ताह में पहले पार्ट में वैक्सीन देने वाले लोगों को दूसरी डोज देने की भी तैयारी शुरू कर दी है।


ये भी पढ़ें – Corona Update : मंडी में स्टाफ नर्स सहित 11 पॉजिटिव, Chamba में दादी-पोती समेत तीन नए मामले

 

पीजीआइएमएस (पंडित भगवत दयाल शर्मा चिकित्सा विश्वविद्यालय) में 17 जुलाई को कोरोना वैक्सीन का ट्रायल (Corona vaccine trial) शुरू हुआ था। ट्रायल के लिए फार्माकोलॉजी विभाग की प्रोफेसर डा. सविता वर्मा को प्रसिपल इंवेस्टीगेटर, कम्युनिटी मेडिसिन विभाग के प्रोफेसर डा. रमेश वर्मा व पल्मोनरी क्रिटिकल केयर मेडिसिन विभाग के प्रोफेसर डा. ध्रुव चौधरी को सहायक इंवेस्टीगेटर नियुक्त किया गया था। ट्रायल के दौरान डीसीजीआई (ड्रग कंट्रोलर जनरल ऑफ इंडिया) के निर्देश पर पहले चरण में देश भर में 50 लोगों के सापेक्ष 20 लोगों को पीजीआई में वैक्सीन की डोज दी गई थी। वैक्सीन देने के बाद सभी वालंटियर्स की सेहत ठीक है। इसकी रिपोर्ट चिकित्सकों ने सेफ्ट्री कंट्रोल बोर्ड व डीसीजीआइ को भेजी थी। सेफ्ट्री कंट्रोल बोर्ड की ओर से वैक्सीन को सुरक्षित घोषित करते हुए ट्रायल को आगे बढ़ाने की मंजूरी दे दी गई है।

 

 

दूसरे पार्ट के तहत ट्रायल शुरू

अब चिकित्सकों ने पहले फेज (First Phase) के दूसरे पार्ट के तहत ट्रायल शुरू कर दिया गया है। अब देश भर के 12 संस्थानों में 325 लोगों को वैक्सीन की डोज दी जानी है। पीजीआइएमएस के चिकित्सकों को 30 लोगों को डोज देनी है। इनमें से करीब 20 वालंटियर्स के स्वास्थ्य की जांच की गई है। पूरी तरह से स्वस्थ पाए जाने पर छह लोगों को डोज दी गई है, जबकि 10 लोगों की स्वास्थ्य जांच रिपोर्ट का इंतजार है। फेज वन के पार्ट वन में सफलता से चिकित्सकों को उम्मीद है कि वैक्सीन आगे भी सुरक्षित रहेगी और साल के अंत तक लोगों के लिए उपलब्ध हो सकती है।

हिमाचल और देश-दुनिया की ताजा अपडेट के लिए like करे हिमाचल अभी अभी का facebook page 

- Advertisement -

loading...
Facebook Join us on Facebook Twitter Join us on Twitter Instagram Join us on Instagram Youtube Join us on Youtube

RELATED NEWS

हिमाचल अभी अभी बुलेटिन

Download Himachal Abhi Abhi App Himachal Abhi Abhi IOS App Himachal Abhi Abhi Android App

Himachal Abhi Abhi E-Paper


विशेष




×
सब्सक्राइब करें Himachal Abhi Abhi अलर्ट
Logo - Himachal Abhi Abhi

पाएं दिनभर की बड़ी ख़बरें अपने डेस्कटॉप पर

अभी नहीं ठीक है