Covid-19 Update

2,86,061
मामले (हिमाचल)
2,81,413
मरीज ठीक हुए
4122
मौत
43,452,164
मामले (भारत)
551,819,640
मामले (दुनिया)

हिमाचल: पांच बच्चे खेल-खेल में चढ़ गए ट्रेन, कालका से पहुंच गए शिमला

12 से दो वर्ष के हैं बच्चे, पुलिस और क्राइम ब्रांच ने परिजनों तक पहुंचाए

हिमाचल: पांच बच्चे खेल-खेल में चढ़ गए ट्रेन, कालका से पहुंच गए शिमला

- Advertisement -

सोलन। हिमाचल में पांच बच्चे खेलते-खेलते ट्रेन (Train) में चढ़ गए और 96 किलोमीटर का सफर तय कर कालका (Kalka) से शिमला (Shimla) पहुंच गए। कालका के रहने वाले 12 वर्ष से लेकर दो वर्ष तक के यह बच्चे शिमला रेलवे स्टेशन (Shimla Railway Station) पर पहुंच कर अनजान लोगों को देखकर रोने लगे। इन पांच बच्चों में एक लड़का और 4 लड़कियां शामिल थे। सबसे बड़ी लड़की की उम्र 12 वर्ष बताई जा रही है। जबकि अन्यों लड़कियों की उम्र सात, तीन व दो वर्ष बताई जा रही है। जबकि लड़का चार साल का है। घर से लापता (Missing) हुए बच्चों की जानकारी मिलते ही परिजन बेहाल हो गए और उनकी तलाश शुरू कर दी। घटना मंगलवार की है।

यह भी पढ़ें:डीवाईएफआई का आरोप सरकार अपने चहेतों को नौकरी देने के लिए करवा रही पेपर लीक

बताया जा रहा है कि 25 मई को मध्य रात्रि को यह बच्चे शिमला रेलवे स्टेशन पर पुलिस को घूमते हुए मिले। आधी रात को ऐसे अकेले घूम रहे बच्चों को देख कर पुलिस ने इनसे पूछताछ की तो यह सभी कालका का ही नाम बता रहे थे। जिसके बाद पुलिस ने बच्चों की सूचना चाइल्ड वेलफेयर कमेटी (Child Welfare Committee), हरियाणा स्टेट क्राइम ब्रांच एंटी ह्यूमन ट्रैफिकिंग को दी। टीम के सदस्यों ने सूचना मिलने के बाद परिवार की तालाश की और बच्चों को तीन दिन बाद उनके परिजनों से मिलवाया।

यह भी पढ़ें:हिमाचल: नशे के खिलाफ रामपुर में गरजी नारी शक्ति, प्रदर्शन के साथ एनएच पर किया चक्का जाम

हरियाणा स्टेट क्राइम ब्रांच एंटी ह्यूमन ट्रैफिकिंग सेल के एएसआई राजेश कुमार ने कहा कि यह पांच बच्चे कालका से लापता हुए थे। इनकी सूचना चाइल्ड वेलफेयर कमेटी के माध्यम से उन्हें मिली। सूचना मिलते ही टीम के सदस्यों ने इनके परिवार को तालाश किया और उसके तुरंत बाद चाइल्ड वेलफेयर कमेटी के आदेशानुसार बच्चों को परिवार के सुपुर्द कर दिया। उन्होंने कहा कि यह पांच बच्चे में चार लड़कियां और एक लड़का है। इन बच्चों के परिजन कालका श्मशान घाट के समीप रहते हैं। बच्चों की माता और बुआ ने बताया कि यह बच्चे दिन में यहीं पर खेलते थे। लेकिन यह नहीं पता बाद में कैसे शिमला पहुंच गए। सीडब्ल्यूसी के आदेश पर पांचों बच्चों को परिवार को सौंप दिया गया है।

हिमाचल और देश-दुनिया के ताजा अपडेट के लिए like करे हिमाचल अभी अभी का facebook page

 

हिमाचल और देश-दुनिया की ताजा अपडेट के लिए join करें हिमाचल अभी अभी का Whats App Group… 

 

 

- Advertisement -

Facebook Join us on Facebook Twitter Join us on Twitter Instagram Join us on Instagram Youtube Join us on Youtube

हिमाचल अभी अभी बुलेटिन

Download Himachal Abhi Abhi App Himachal Abhi Abhi IOS App Himachal Abhi Abhi Android App


विशेष \ लाइफ मंत्रा


Himachal Abhi Abhi E-Paper



---------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------
सब्सक्राइब करें Himachal Abhi Abhi अलर्ट
Logo - Himachal Abhi Abhi

पाएं दिनभर की बड़ी ख़बरें अपने डेस्कटॉप पर

अभी नहीं ठीक है