Covid-19 Update

2,27,518
मामले (हिमाचल)
2,22,911
मरीज ठीक हुए
3,835
मौत
34,633,255
मामले (भारत)
265,951,834
मामले (दुनिया)

हिमाचल: रोते-रोते जनमंच में बोली बच्ची, रहने को घर नहीं और अधिकारी सुनते नहीं

जयसिंहपुर में राकेश पठानिया ने दो दिन में बच्ची की समस्या हल करने के दिए निर्देश

हिमाचल: रोते-रोते जनमंच में बोली बच्ची, रहने को घर नहीं और अधिकारी सुनते नहीं

- Advertisement -

जयसिंहपुर। हिमाचल के कांगड़ा जिला में आयोजित जनमंच कार्यक्रम (Jan Manch Program) में मंत्री राकेश पठानिया के सामने एक रोती हुई बच्ची अपनी समस्या लेकर आ पहुंची। बच्ची ने बताया कि उसके पिता का देहांत हो चुका है। उसकी चार बहनें हैं जिनका पालन पोषण उनकी मां दिहाड़ी मजदूरी करके कर रही है। उनके पास रहने को घर नहीं है। वह पांच सदस्य एक ही कमरे में गुजारा कर रहे हैं। रोती बिलखती बच्ची ने मंत्री राकेश पठानिया के सामने अपनी समस्या रखते हुए कहा कि वह 2018 से घर के लिए आवेदन कर रही है। कई बार आवेदन भी किया जा चुका है, लेकिन अधिकारी उनकी मांग ही नहीं सुनते।

यह भी पढ़ें:हिमाचल के 10 जिलों में आज सजेगा जनमंच कार्यक्रम, जाने कौन मंत्री कहां सुनेंगे समस्याएं

 

 

बच्ची की समस्या सुनते ही वन मंत्री राकेश पठानिया (Forest Minister Rakesh Pathania) ने अधिकारियों को 2 दिन के अंदर रिपोर्ट पेश करने के निर्देश दिए। अगर 2 दिन के भीतर रिपोर्ट पेश नहीं की गई तो उस बच्ची को मंत्री ने आश्वासन दिया है कि वह 1 सप्ताह के भीतर उनसे मिले और उनकी मांग अवश्य पूरी की जाएगी। बता दें कि इस बच्ची के सिर से पिता का साया उठ गया है और घर पर कमाने वाला भी कोई नहीं है। अकेली मां है जो अपनी चार बेटियों को पाल रही है। यह परिवार बड़ी मुश्किल से एक कमरे में गुजारा करने के लिए मजबूर है। ऐसे में आज यह लड़की जनमंच में पहुंची और मंत्री के सामने अपना दुखड़ा रोया। कहीं ना कहीं बच्ची के मन में आशा जगी है कि अब उसके सपनों का घर बन जाएगा।

 

 

बता दें कि जिला कांगड़ा के जयसिंहपुर (Jaisinghpur) विधानसभा क्षेत्र के अंतर्गत वाहे द पट्ट में रविवार को 24वें जनमंच का आयोजन किया गया। कार्यक्रम की अध्यक्षता वन मंत्री हिमाचल प्रदेश राकेश पठानिया ने की। कार्यक्रम में जयसिंहपुर के विधायक रविंद्र धीमान ने भी शिरकत की। जनमंच के शुरू होते ही राकेश पठानिया के सामने समस्याओं का अंबार लगना शुरू हो गया। वन मंत्री के सामने सबसे ज्यादा समस्याएं पेयजल को लेकर आई हैं। ज्यादातर समस्याएं मौके पर हल कर दी गईं और शेष को जल्द हल करने के लिए निर्देश अधिकारियों को दिए गए हैं। अभी जनमंच चल रहा है और अन्य समस्याएं आ रही हैं।

हिमाचल और देश-दुनिया की ताजा अपडेट के लिए join करें हिमाचल अभी अभी का Whats App Group

 

 

 

- Advertisement -

हिमाचल अभी अभी बुलेटिन

Download Himachal Abhi Abhi App Himachal Abhi Abhi IOS App Himachal Abhi Abhi Android App


विशेष \ लाइफ मंत्रा


Himachal Abhi Abhi E-Paper



सब्सक्राइब करें Himachal Abhi Abhi अलर्ट
Logo - Himachal Abhi Abhi

पाएं दिनभर की बड़ी ख़बरें अपने डेस्कटॉप पर

अभी नहीं ठीक है