Covid-19 Update

2,05,874
मामले (हिमाचल)
2,01,199
मरीज ठीक हुए
3,504
मौत
31,579,651
मामले (भारत)
197,642,926
मामले (दुनिया)
×

शिक्षकों की दो टूक- मंत्री महेंद्र ठाकुर मांगें माफी, नहीं तो होगा आंदोलन

अध्यापकों पर की टिप्पणी के खिलाफ खोला मोर्चा

शिक्षकों की दो टूक- मंत्री महेंद्र ठाकुर मांगें माफी, नहीं तो होगा आंदोलन

- Advertisement -

संजीव कुमार/गोहर। हिमाचल के कुल्लू (Kullu) जिला के बंजार में जल शक्ति मंत्री महेंद्र सिंह ठाकुर (Mahendra Singh Thakur) की टिप्पणी के खिलाफ शिक्षकों ने मोर्चा खोल दिया है। शिक्षकों (Teachers) ने मांग की है कि अपनी टिप्पणी पर मंत्री मांगी मांगें, नहीं तो शिक्षक वर्ग आंदोलन करने के भी गुरेज नहीं करेगा। बता दें कि जल शक्ति मंत्री अधिकारियों और कर्मचारियों को खुलेआम लताड़ लगाने को लेकर सुर्खियों में रहते हैं। पर इस बार मंत्री द्वारा दिए गए बयान को लेकर शिक्षकों ने उनके खिलाफ आवाज बुलंद कर दी है। कार्यक्रम के मंच से अध्यापक पर टिप्पणी करने से शिक्षा विभाग (Education Department) के चारों संघ एकजुट हो गए हैं।

यह भी पढ़ें: Palampur: पशु विज्ञान शिक्षकों ने की पेन डाउन स्ट्राइक, अब काले बिल्ले लगाकर होगा विरोध

प्राथमिक शिक्षक संघ के प्रदेशाध्यक्ष हेमराज ठाकुर, स्कूल प्रवक्ता संघ प्रदेशाध्यक्ष केसर सिंह ठाकुर और सीएंडवी अध्यापक संघ (C&V Teachers Association) के प्रदेशाध्यक्ष चमन लाल ने कहा कि मंत्री साहब शिक्षकों के खिलाफ मंच से निंदनीय भाषा का प्रयोग करने में संयम से काम लें, ताकि देवभूमि की संस्कृति की गरिमा बनी रहे। उन्होंने कहा कि जलशक्ति मंत्री ने बंजार की जनसभा में अध्यापकों के प्रति जो शब्द कहें हैं, उनकी घोर निंदा करते हैं। उन्होंने कहा कि शायद मंत्री को अपने विभाग के सिवाय और कुछ दिखाई नहीं दे रहा है। कोविड (Covid) महामारी के दौरान शिक्षकों ने लाखों रुपये कोविड केयर फंड (Covid Care Fund) में डोनेट किए हैं। साथ ही फ्रंटलाइन वर्कर के रूप में कार्य करते हुए प्रदेश भर में स्वास्थ्य विभाग (Health Department) के साथ कोविड जांच केंद्रों, वैक्सीनेशन सेंटर और पुलिस प्रशासन के साथ बॉर्डर और विभिन्न स्थानों पर अपनी सेवाएं प्रदान की हैं और अभी भी जारी हैं।


 

 

इसके साथ ही प्रदेश में बच्चों की शिक्षा प्रभावित ना हो इसलिए हर घर पाठशाला कार्यक्रम में सभी शिक्षक दिन-रात मेहनत कर बच्चों को शिक्षा प्रदान कर रहे हैं, जिससे देशभर में हिमाचल प्रदेश शिक्षा के क्षेत्र में नंबर एक स्थान पर रहा है। प्रदेश में शिक्षण कार्य बंद नहीं होने दिया और अभी पूरे प्रदेश में शिक्षक बच्चों के साथ लाइव क्लासेज, ऑनलाइन क्विज (Online Quiz), ट्रैनिंग लगाने के साथ-साथ दिन भर में सभी प्रकार के विभागीय कार्य कोविड ड्यूटी, चुनावी ड्यूटी, वोटर लिस्ट बनाने की ड्यूटी, बीएलओ ड्यूटी, पढ़ना-लिखना अभियान सहित अनेक विभागीय कार्य शिक्षकों को ही सौंपे गए हैं। बावजूद इसके मंच से शिक्षक समाज पर तंज कसना मंत्री को शोभा नहीं देता है।

हिमाचल के बुजुर्ग मंत्री अपनी भाषा पर रखें संयम

हिमाचल प्रदेश शिक्षक महासंघ के प्रान्त संगठन मंत्रीए पवन मिश्रा, प्रान्त अध्यक्ष पवन कुमार, प्रान्त उपाध्यक्ष डॉ मामराज पुंडीर, प्रान्त महामंत्री विनोद सूद ने हिमाचल प्रदेश सरकार के जल शक्ति मंत्री ठाकुर महेंद्र सिंह ठाकुर के उस बयान की कड़े शब्दों में निंदा की है जिसमें उन्होंने कहा कि कोरोना कॉल में मास्टरों ने किए खूब मजे फिर भी पता नहीं कैसे बन गए कोरोना वारियर्स। हिमाचल प्रदेश शिक्षक महासंघ के प्रांत उपाध्यक्ष डॉ मामराज पुंडीर ने कहा कि सरकार के एक वरिष्ठ मंत्री को इस प्रकार के बयान देने से पहले अपनी उमर और पद का ख्याल रखना चाहिए। डॉ पुंडीर ने कहा कि प्रदेश के नेताओं को भाषा पर सयम कैसे रखा जाएए यह प्रदेश के सीएम जय राम ठाकुर से सीखना चाहिए। उन्होंने कहा कि ऐसा लगता है की जल शक्ति मंत्री या तो किसी पाठशाला में पढ़े ही नहीं है अगर पढ़े हैं तो अपने उन गुरुओं का भी अपमान कर रहे हैंए जिन्होंने इनको शिक्षा देकर इस काबिल बनाया। उन्होंने मांग की है महेंद्र सिंह ठाकुर को अपने शब्द वापस लेने चाहिए और सभी शिक्षकों से माफी मांगनी चाहिए

क्या बोल गए थे जल शक्ति मंत्री महेंद्र

बता दें कि जल शक्ति मंत्री महेंद्र सिंह ने बीते रोज कोरोना के बीच सेवाएं देने वाले मास्टरों की खिल्ली उड़ाई थी। जल शक्ति मंत्री ने शनिवार को बंजार में हुई जनसभा में कहा था कि जल शक्ति विभाग के कर्मचारियों ने काम किया। बाकियों ने मजे किएए लेकिन मास्टरों ने बहुत ही ज्यादा मजे किए। फिर फ्रंटलाइन वर्कर बन गए कि उनको सबसे पहले वैक्सीन लगेए लेकिन पता नहीं उन्होंने क्या काम किया। जब जल शक्ति मंत्री मास्टरों की जनसभा में खिल्ली उड़ा रहे थे तो यहां लोगों ने भी खूब ठहाके लगाए। बंजार में शनिवार को हुई जनसभा के दौरान मास्टरों पर कसे गए तंज के बाद शिक्षकों में नाराजगी है। मंत्री का इसको लेकर एक वीडियो भी वायरल हुआ था।

हिमाचल और देश-दुनिया की ताजा अपडेट के लिए join करें हिमाचल अभी अभी का Whats App Group 

 

- Advertisement -

Facebook Join us on Facebook Twitter Join us on Twitter Instagram Join us on Instagram Youtube Join us on Youtube

हिमाचल अभी अभी बुलेटिन

Download Himachal Abhi Abhi App Himachal Abhi Abhi IOS App Himachal Abhi Abhi Android App

टेक्नोलॉजी / गैजेट्स / ऑटो

Himachal Abhi Abhi E-Paper


विशेष




सब्सक्राइब करें Himachal Abhi Abhi अलर्ट
Logo - Himachal Abhi Abhi

पाएं दिनभर की बड़ी ख़बरें अपने डेस्कटॉप पर

अभी नहीं ठीक है