Covid-19 Update

59,148
मामले (हिमाचल)
57,580
मरीज ठीक हुए
987
मौत
11,229,271
मामले (भारत)
117,446,648
मामले (दुनिया)

हिमाचल की पहली Online Yoga प्रतियोगिता मार्च में, योगासन को खेल का दर्जा ऐतिहासिक निर्णय

वासवारेड्डी बोले,युवाओं में अब योग के प्रति बढ़ेगी रुचि

हिमाचल की पहली Online Yoga प्रतियोगिता  मार्च में, योगासन को खेल का दर्जा ऐतिहासिक निर्णय

- Advertisement -

शिमला। मोरारजी देसाई राष्ट्रीय योग संस्थान (Morarji Desai National Institute of Yoga) के निदेशक डॉक्टर आईडी वासवारेड्डी (Dr. ID Vasavareddy) ने कहा है केंद्रीय खेल मंत्रालय (Union Sports Ministry) द्वारा योगासन को खेल का दर्जा (Sports Status) दे दिए जाने के दूरगामी परिणाम होंगे। उन्होंने इसे ऐतिहासिक निर्णय बताते हुए कहा कि इससे युवाओं में अब योग के प्रति रुचि बढ़ेगी। डॉ. वासवारेड्डी राष्ट्रीय योगासन खेल संघ के अध्यक्ष भी हैं। वे हिमाचल प्रदेश योगासन खेल संघ (Himachal Pradesh Yogasan Sports Association) के चार दिवसीय ऑनलाइन योगासन खेल जजों के प्रशिक्षण कार्यक्रम के समापन समारोह में बतौर मुख्य अतिथि बोल रहे थे। उन्होंने कहा कि विगत दिसंबर से पहले योग आयुष मंत्रालय के अधीन आता था। लेकिन पीएम नरेंद्र मोदी द्वारा योग को अंतरराष्ट्रीय स्तर पर प्रतिष्ठित किए जाने के प्रयासों के अंतर्गत खेल मंत्रालय ने इसे औपचारिक रूप से खेल का दर्जा दिया है।

यह भी पढ़ें:  Himachal : पंचायत में पैसे के दुरुपयोग पर वन मंत्री सख्त, BDO करेंगे जांच

प्रदेश योगासन खेल संघ के महासचिव विनोद योगाचार्य ने बताया कि अंतरराष्ट्रीय स्तर पर संस्था के अध्यक्ष स्वामी रामदेव (Swami Ramdev) की प्रेरणा और हिमाचल प्रदेश विश्वविद्यालय के पूर्व प्रोफेसर एवं विख्यात योग गुरु डॉ जीडी शर्मा के मार्गदर्शन में इसी वर्ष प्रदेश योगासन खेल संघ की स्थापना हुई है। प्रो. जीडी शर्मा ने बताया कि जज एवं रैफरी के ऑनलाइन प्रशिक्षण कार्यक्रम के बाद मार्च में पहली राज्य स्तरीय योगासन प्रतियोगिता (Online Yoga Competition) कराई जाएगी। कार्यक्रम में राष्ट्रीय योगासन खेल संघ के वरिष्ठ उपाध्यक्ष एमएस देसवाल, हिमाचल योगासन खेल संघ के संरक्षक (GD Sharma) प्रोफेसर जीडी शर्मा, अध्यक्ष लीलाधर शर्मा के अलावा बिजली बोर्ड के निदेशक (ऑपरेशन्स) पंकज डढ़वाल, अनुपमा चंदेल, गोपाल अत्री, विवेक सूद, नवीन कुमार, हेतराम, शुभम शर्मा, ईशान चौहान और रणजीत योगी ने प्रशिक्षुओं को तकनीक से संबंधित जानकारी दी। प्रशिक्षण कार्यक्रम में 60 प्रतिभागियों ने ऑनलाइन भाग लिया ।

हिमाचल और देश-दुनिया की ताजा अपडेट के लिए join करें हिमाचल अभी अभी का Whats App Group 

 

- Advertisement -

Facebook Join us on Facebook Twitter Join us on Twitter Instagram Join us on Instagram Youtube Join us on Youtube

हिमाचल अभी अभी बुलेटिन

Download Himachal Abhi Abhi App Himachal Abhi Abhi IOS App Himachal Abhi Abhi Android App

टेक्नोलॉजी / गैजेट्स / ऑटो

Himachal Abhi Abhi E-Paper


विशेष




सब्सक्राइब करें Himachal Abhi Abhi अलर्ट
Logo - Himachal Abhi Abhi

पाएं दिनभर की बड़ी ख़बरें अपने डेस्कटॉप पर

अभी नहीं ठीक है