Covid-19 Update

2,05,017
मामले (हिमाचल)
2,00,571
मरीज ठीक हुए
3,497
मौत
31,341,507
मामले (भारत)
194,260,305
मामले (दुनिया)
×

इस देश में तलाक नहीं ले सकते पति-पत्नी, नहीं बना है कानून

यहां पर तलाकशुदा होना माना जाता है अपमानजनक

इस देश में तलाक नहीं ले सकते पति-पत्नी, नहीं बना है कानून

- Advertisement -

आज के समय में तलाक आम बात हो गई है। दो लोग अगर एक साथ एक रिश्ते में खुश नहीं होते तो अलग हो जाते हैं जो कि दोनों के लिए अच्छा होता है। पहले समय में तलाक जैसी चीजों को बुरा माना जाता था लेकिन अब काफी कुछ बदल चुका है। लेकिन अगर हम कहें कि आज भी कहीं पर तलाक (Divorce) लेने का हक पति-पत्नी को नहीं है तो ये सुनकर आपको हैरत जरूर होगी। तलाक लेने के लिए लगभग हर देश में कानून भी बना है फिलीपींस दुनिया में इकलौता ऐसा देश है जहां तलाक की कोई व्यवस्था नहीं है।

यह भी पढ़ें: अफवाहों को रोकने के लिए इस शहर में बात करने पर है बैन-सजा का प्रावधान

फिलीपींस (Philippines) कैथोलिक देशों के एक समूह का हिस्सा है। कैथोलिक चर्च के प्रभाव की वजह से ही इस देश में तलाक का कोई प्रावधान नहीं है। साल 2015 में जब पोप फ्रांसिस फिलीपींस गए थे तो वहां के धर्मगुरुओं से अपील की थी कि तलाक चाहने वाले कैथोलिक लोगों के प्रति सहानुभूति नजरिया रखना चाहिए, लेकिन वहां के ईसाई धर्मगुरुओं ने पोप फ्रांसिस की बात को एकदम अनसुना कर दिया। फिलीपींस में ‘तलाकशुदा कैथोलिक’ होना अपमानजनक माना जाता है। यही नहीं उनको इस बात का गर्व है कि अब दुनिया में एकमात्र फिलीपींस ऐसा देश है, जहां पर तलाक नहीं लिया जा सकता है।


यह भी पढ़ें: दुनिया का सबसे गहरा स्विमिंग पूल, पानी के अंदर है रेस्टोरेंट, अपार्टमेंट और बहुत कुछ

फिलीपींस में तलाक को वैध बनाने वाला बिल पहले से है, लेकिन राष्ट्रपति बेनिनो एक्विनो (President Benino Aquino) के समर्थन के बिना कानून बनाना मुश्किल है। करीब चार सदी तक फिलीपींस पर स्पेन का शासन रहा। इस दौरान वहां की अधिकांश जनता ने ईसाई धर्म स्वीकार कर लिया था। समाज में कैथोलिक रूढ़िवादी नियमों ने अपनी जड़ें जमा ली थीं, लेकिन साल 1898 में स्पेन-अमेरिका युद्ध हुआ और फिलीपींस पर अमेरिका का शासन हुआ तो तलाक के लिए एक कानून बनाया गया। साल 1917 में कानून के मुताबिक लोगों को तलाक की अनुमति तो दी गई, लेकिन एक शर्त थी। ये शर्त थी कि अगर पति-पत्नी में से कोई एडल्टरी करते पाया जाएगा तभी तलाक लिया जा सकता है।

द्वितीय विश्वयुद्ध के समय जब फिलीपींस पर जापान ने कब्जा किया तो उस समय भी तलाक के लिए एक नया कानून लाया गया। लेकिन ये नया कानून कुछ साल तक ही चला और साल 1944 में अमेरिका का जब दोबारा शासन हुआ तो पुराना तलाक कानून ही लागू कर दिया गया। साल 1950 में जब फिलीपींस अमेरिका के कब्जे से आजाद हुआ तो इसके बाद चर्च के प्रभाव में तलाक का कानून वापस ले लिया गया। उसी समय से तलाक पर जो प्रतिबंध लगा वो आज तक जारी है। इस वजह से अब यहां रिश्ता अच्छा हो या बुरी पूरी उम्र निभाना ही पड़ता है।

हिमाचल और देश-दुनिया की ताजा अपडेट के लिए join करें हिमाचल अभी अभी का Whats App Group 

- Advertisement -

Facebook Join us on Facebook Twitter Join us on Twitter Instagram Join us on Instagram Youtube Join us on Youtube

हिमाचल अभी अभी बुलेटिन

Download Himachal Abhi Abhi App Himachal Abhi Abhi IOS App Himachal Abhi Abhi Android App

टेक्नोलॉजी / गैजेट्स / ऑटो

Himachal Abhi Abhi E-Paper


विशेष




सब्सक्राइब करें Himachal Abhi Abhi अलर्ट
Logo - Himachal Abhi Abhi

पाएं दिनभर की बड़ी ख़बरें अपने डेस्कटॉप पर

अभी नहीं ठीक है