Covid-19 Update

1,99,430
मामले (हिमाचल)
1,92,256
मरीज ठीक हुए
3,398
मौत
29,685,946
मामले (भारत)
177,559,790
मामले (दुनिया)
×

इस Hotel की पांचवीं मंजिल में जाना है गुनाह, मिलती है उम्रभर कैद की सजा  

इस Hotel की पांचवीं मंजिल में जाना है गुनाह, मिलती है उम्रभर कैद की सजा  

- Advertisement -

ये दुनिया कई रहस्यों से भरी हुई हैं, जिनको कोई नहीं सुलझा पाया है। आज हम आपको ऐसी ही एक रहस्यमयी जगह (Mystical place) के बारे में बताने जा रहे हैं। दरअसल यह जगह उत्तर कोरिया की एक होटल है। उत्तर कोरिया एक ऐसा देश है जो कई रहस्य में भरा हुआ है। इसकी एक वजह यह है कि यहां के बारे में लोगों को कुछ ज्यादा मालूम नहीं है इसलिए उत्तर कोरिया को दुनिया एक रहस्यमय देश के तौर पर ही जानती है। जितना दिलचस्प (Interesting) ये देश है उतना ही गज़ब यहां का एक होटल भी है। वैसे तो जब भी आप किसी होटल में ठहरते है, तो आप किसी मंजिल पर भी घूम सकते है। किसी भी फ्लोर पर मेहमानों को जाने की कोई मनाही नहीं होती है, लेकिन उत्तर कोरिया का यह होटल (Hotel) इस लिहाज से बिलकुल अलग है। इसको लेकर उत्तर कोरिया ने बेहद ही कड़े और सख्त नियम बनाए हैं, जिसके मुताबिक अगर कोई विदेशी नागरिक पांचवीं मंजिल पर जाता है तो उसे यहां की जेल में हमेशा-हमेशा के लिए कैद कर लिया जाता है।

यह भी पढ़ें: Corona Update: आज अब तक कितने नए मामले, कितने मरीज हुए ठीक-जानिए


लिफ्ट में नहीं है पांचवीं मंजिल का बटन

यहां पर एक होटल की पांचवीं मंजिल पर किसी का भी जाना मना है। लोगों का मानना है कि इसके पीछे एक गहरा रहस्य छिपा है। हम जिस होटल की बात कर रहे है उसका नाम है यंगाकडो, जो यहां की राजधानी प्योंगयांग (Pyongyang) में है। यह कोई आम होटल नहीं है, बल्कि उत्तर कोरिया का सबसे बड़ा होटल है। जये ताएडॉन्ग नदी के बीच में स्थित यांगाक आइलैंड (द्वीप) पर बना हुआ है। कुल 47 मंजिला यंगाकडो होटल में कुल 1000 कमरे हैं। इसमें चार रेस्टोरेंट, एक बाउलिंग एले और एक मसाज पॉर्लर भी मौजूद है। इसका निर्माण कार्य साल 1986 में शुरू हुआ था और 1992 में पूरी तरह बनकर तैयार हो गया था। इस होटल को फ्रांस की कैंपेनन बर्नार्ड कंस्ट्रक्शन कंपनी ने बनाया था, जिसे साल 1996 में आम लोगों के लिए पहली बार खोला गया था। खास बात ये है कि यंगाकडो होटल की लिफ्ट में पांचवीं मंजिल का बटन ही नहीं है। ऐसे में कोई भी होटल की पांचवी मंजिल पर जाने की हिम्मत भी नहीं करता।

दीवारों पर बनी है अमेरिका विरोधी तस्वीरें 

एक अमेरिकन नागरिक के मुताबिक होटल की यंगाकडो होटल की पांचवीं मंजिल पर किसी बंकर की तरह छोटे-छोटे कमरे बनाए गए है जिनमें ताले लगे हुए हैं। इन कमरों की दीवारों पर अमेरिका विरोधी और जापान के खिलाफ पेंटिंग्स बनी हुई हैं। इसके अलावा कुछ तस्वीरें उत्तर कोरिया के तानाशाह किम जोंग उन के पिता किम जोंग इल की भी हैं। कहते हैं कि वहां बनी हर पेंटिंग पर लिखा है कि अमेरिका में बनी हर चीज हमारी दुश्मन है अमेरिका से हम हजार बार बदला लेंगे। जबकि सबसे ज्यादा हैरान यह बात करती है कि उत्तर कोरिया की सरकार का कहना है कि यंगाकडो होटल में पांचवीं मंजिल है ही नहीं।

हिमाचल और देश-दुनिया की ताजा अपडेट के लिए join करें हिमाचल अभी अभी का Whats App Group…

- Advertisement -

Facebook Join us on Facebook Twitter Join us on Twitter Instagram Join us on Instagram Youtube Join us on Youtube

हिमाचल अभी अभी बुलेटिन

Download Himachal Abhi Abhi App Himachal Abhi Abhi IOS App Himachal Abhi Abhi Android App

टेक्नोलॉजी / गैजेट्स / ऑटो

Himachal Abhi Abhi E-Paper


विशेष




सब्सक्राइब करें Himachal Abhi Abhi अलर्ट
Logo - Himachal Abhi Abhi

पाएं दिनभर की बड़ी ख़बरें अपने डेस्कटॉप पर

अभी नहीं ठीक है