Covid-19 Update

2,16,303
मामले (हिमाचल)
2,11,008
मरीज ठीक हुए
3,628
मौत
33,347,325
मामले (भारत)
227,342,315
मामले (दुनिया)

CM योगी के गढ़ ‘गोरखपुर’ में 1 करोड़ की फिरौती के लिए 5वीं के छात्र की हत्या; आक्रामक हुआ विपक्ष

CM योगी के गढ़ ‘गोरखपुर’ में 1 करोड़ की फिरौती के लिए 5वीं के छात्र की हत्या; आक्रामक हुआ विपक्ष

- Advertisement -

गोरखपुर। उत्तर प्रदेश के सीएम योगी आदित्यनाथ (Yogi Adityanath) का गढ़ माने जाने वाले शहर ‘गोरखपुर’ (Gorakhpur) में सोमवार को एक बड़ा कांड हो गया। यहां पर एक करोड़ रुपए की फिरौती के लिए पांचवीं में पढ़ने वाले छात्र बलराम की अपहरणकर्ताओं ने हत्या (Murder) कर दी। 13 साल के बच्चे का शव उसके गांव सें चंद किलोमीटर दूर मिला है। घटना पिपराइच थाना इलाके की है। वहीं, मामला सामने आने के बाद प्रदेश के राजनीतिक हलक़ों को में हलचल बढ़ गई है। प्रदेश के पूर्व सीएम और समाजवादी पार्टी के अध्यक्ष अखिलेश यादव (Akhilesh Yadav) और कांग्रेस महासचिव प्रियंका गांधी (Priyanka Gandhi Vadra) ने यूपी सरकार पर मामले को लेकर हमला बोला है।

यहां जानें कब क्या हुआ…

मिली जानकारी के अनुसार गोरखपुर के एक पान विक्रेता के बेटे का 26 जुलाई को अपहरण कर लिया था। अपहरणकर्ताओं ने पान विक्रेता से एक करोड़ की फिरौती मांगी थी। सीएम योगी आदित्यनाथ की कर्म भूमि में अपहरण की घटना सामने आने पर हरकत में आई पुलिस ने बच्चे की बरामदगी के लिए कई टीमें गठित कर दीं। बच्चे को अपहर्ताओं के चंगुल से मुक्त कराने के लिए एसटीएफ को भी एक्टिव कर दिया गया। पुलिस टीम और एसटीएफ छापेमारी करती रही और अपहर्ताओं ने बच्चे की हत्या कर दी। 13 वर्षीय बच्चे (बलराम गुप्ता ) को पुलिस ने घर से कुछ दूर स्थित खेत से बच्चे के शव को बरामद किया है। पुलिस ने शव को अपने कब्जे में लेकर पोस्टमॉर्टम के लिए भेज दिया है।

यह भी पढ़ें: Mandi: गोबर के ढेर पर झाड़ियां फेंकने को लेकर हुआ बवाल; भतीजे ने कर दिया चाचा का कत्ल

अखिलेश और प्रियंका ने योगी सरकार को घेरा; उठाए सवाल

वहीं, इस मामले को लेकर राजनीतिक बयानबाजी का भी दौर शुरू हो गया है। अखिलेश यादव ने इस मामले पर ट्वीट करते हुए कहा कि गोरखपुर से अपहृत बच्चे की हत्या का समाचार बेहद दर्दनाक व दुखद है। शोकाकुल परिवार के प्रति गहरी संवेदना। लगातार अपहरण और हत्याओं के बावजूद भी भाजपा सरकार का निर्लज्ज मौन और निष्क्रियता प्रश्नचिन्ह के घेरे में है। वहीं, दूसरी तरफ कांग्रेस महासचिव प्रियंका गांधी ने भी इस मामले के खिलाफ आक्रामक रुख इख्तियार कर लिया है।

प्रियंका ने इस मसले पर योगी सरकार पर हमला करते हुए ट्वीट किया कि क्या यूपी के मुखिया ने खबरें देखना छोड़ दिया है? क्या गृह विभाग में बैठे लोगों के सामने ये खबरें नहीं जाती? यूपी में हर दिन गुंडाराज के नए रिकॉर्ड बन रहे हैं। सीएम के गृहक्षेत्र में अपहरण की घटना घटी है। कासगंज में हत्याकांड। लेकिन दिखावे के लिए कुछ ट्रांसफर के अलावा। गौरतलब है कि इससे पहले यूपी के ही कानपुर में अपहरणकर्ताओं ने एक लैब टेक्निशियन की अपहरण के बाद हत्या कर दी थी, एक बच्चे के अपहरण की घटना गोंडा में भी सामने आई थी। हालांकि पुलिस ने बच्चे को अपहर्ताओं के चंगुल से सुरक्षित मुक्त करा लिया था।

हिमाचल और देश-दुनिया की ताजा अपडेट के लिए join करें हिमाचल अभी अभी का Whats App Group 

- Advertisement -

Facebook Join us on Facebook Twitter Join us on Twitter Instagram Join us on Instagram Youtube Join us on Youtube

हिमाचल अभी अभी बुलेटिन

Download Himachal Abhi Abhi App Himachal Abhi Abhi IOS App Himachal Abhi Abhi Android App


विशेष \ लाइफ मंत्रा


Himachal Abhi Abhi E-Paper



सब्सक्राइब करें Himachal Abhi Abhi अलर्ट
Logo - Himachal Abhi Abhi

पाएं दिनभर की बड़ी ख़बरें अपने डेस्कटॉप पर

अभी नहीं ठीक है