×

#Hathras कांड में नया ट्विस्ट: लगातार टच में थे पीड़िता और आरोपी, दोनों ने किए 104 बार फोन

62 बार लड़की की तरफ से किया गया फोन लड़के ने किए 42 कॉल

#Hathras कांड में नया ट्विस्ट: लगातार टच में थे पीड़िता और आरोपी, दोनों ने किए 104 बार फोन

- Advertisement -

लखनऊ। उत्तर प्रदेश के हाथरस कांड (Hathras Case) को लेकर जहां पूरे देश में बवाल मचा हुआ है, उसी मामले में अब एक नया और बेहद बड़ा ट्विस्ट आया है। दरअसल, उत्तर प्रदेश पुलिस द्वारा की जा रही मामले की जांच में इस बात का खुलासा हुआ है कि लगभग बीते एक साल से पीड़िता और आरोपी लगातार एक दूसरे के टच में बने हुए थे। दोनों के फोन रिकॉर्ड (Phone Record) से इस बात का पता चला है कि पिछले साल 13 अक्टूबर से लेकर घटना के दिन तक दोनों के बीच करीब 104 बार फोन पर बात हुई थी। इसमें से 62 कॉल वो हैं जो पीड़ित परिवार की ओर से की गई तो वहीं 42 कॉल आरोपी संदीप की ओर से की गई थी। बताया गया कि लड़की का नंबर उसके भाई के नाम से रजिस्टर्ड है।


अराजक तत्वों ने पीड़ित परिवार को झूठ बोलने के लिए दिया 50 लाख का लालच

पीड़िता के भाई के नंबर 989xxxxx और संदीप के 76186xxxxx के बीच 13 अक्टूबर, 2019 से टेलीफोनिक बातचीत शुरू हुई। अधिकांश कॉल चंदपा क्षेत्र में स्थित और सेल टॉवरों से किए गए थे, जो पीड़िता के गांव बूलगढ़ी से बमुश्किल 2 किमी दूर थे। वहीं, दूसरी तरफ इस केस में पुलिस ने कई आरोपों में अब तक 19 एफआईआर (First Information Report) दर्ज किए हैं। इनमें से एक एफआईआर में अज्ञात लोगों के ख‍िलाफ राजद्रोह और षडयंत्र करने का आरोप है। इसमें यह भी आरोप लगाया गया है कि पीड़‍िता के परिवार को राज्य सरकार के ख‍िलाफ झूठ बोलने के लिए 50 लाख रुपये देने का प्रलोभन दिया गया था।

यह भी पढ़ें: सुप्रीम कोर्ट ने #Hathras कांड को बताया भयानक; योगी सरकार से मांगे ये 3 जवाब

इनमें से FIR नंबर 151 सबसे अहम है। इस FIR में एक बड़ी आपराधिक साजिश की बात की गई है। इस FIR में राजद्रोह (sedition ) और आपराधिक साज़िश समेत 20 धाराओं के तहत मुक़दमा दर्ज़ किया गया है। इस सब के बीच उत्तर प्रदेश के सीएम योगी आदित्यनाथ के आदेश पर शुरू की गई स्पेशल इंवेस्टिगेशन टीम (SIT) की जांच भी अंतिम दौर में पहुंच गई है। बताया जा रहा है कि एसआईटी अपने जांच की अंतिम रिपोर्ट बुधवार तक सीएम योगी को सौंप सकती है। गृह सचिव भगवान स्वरूप की अगुवाई में डीआईजी चन्द्र प्रकाश और एसपी पूनम ने केस की जांच की है। एसआईटी की टीम चंदपा के उस गांव भी पहुंची थी, जहां की पीड़िता रहने वाली थी। एसआईटी ने पीड़िता के परिवारवालों का बयान भी लिया।

हिमाचल और देश-दुनिया की ताजा अपडेट के लिए like करे हिमाचल अभी अभी का facebook page 

- Advertisement -

Facebook Join us on Facebook Twitter Join us on Twitter Instagram Join us on Instagram Youtube Join us on Youtube

हिमाचल अभी अभी बुलेटिन

Download Himachal Abhi Abhi App Himachal Abhi Abhi IOS App Himachal Abhi Abhi Android App

टेक्नोलॉजी / गैजेट्स / ऑटो

Himachal Abhi Abhi E-Paper


विशेष




सब्सक्राइब करें Himachal Abhi Abhi अलर्ट
Logo - Himachal Abhi Abhi

पाएं दिनभर की बड़ी ख़बरें अपने डेस्कटॉप पर

अभी नहीं ठीक है