Covid-19 Update

1,61,072
मामले (हिमाचल)
1,24,434
मरीज ठीक हुए
2348
मौत
24,965,463
मामले (भारत)
163,750,604
मामले (दुनिया)
×

#FarmersProtest : चार में से दो मुद्दों पर बनी सहमति, अब 4 January को फिर होगी वार्ता

किसान संगठनों के प्रतिनिधियों और केंद्र सरकार के बीच हुई सातवें दौर की बातचीत

#FarmersProtest : चार में से दो मुद्दों पर बनी सहमति, अब 4 January को फिर होगी वार्ता

- Advertisement -

नई दिल्ली। शीतलहर और हाड़ कंपाने वाली ठंड के बीच दिल्ली की सीमाओं पर बैठे किसानों का आंदोलन (#FarmersProtest) आज 35वें दिन में प्रवेश कर चुका है। आज किसान संगठनों के प्रतिनिधियों की केंद्र सरकार के साथ सातवें दौर की बातचीत हुई और आज भी किसान तीनों कृषि कानून रद करने पर अड़ रहे। बैठक में फैसला लिया गया कि अगली बैठक 4 जनवरी, 2021 को होगी। विज्ञान भवन में हुई इस बैठक (Meeting) में हिस्सा लेने के लिए 40 किसान संगठन पहुंचे थे, जबकि सरकार की ओर से केंद्रीय कृषि मंत्री नरेंद्र सिंह तोमर, पीयूष गोयल बैठक में शामिल रहे।


केंद्रीय कृषि मंत्री नरेंद्र सिंह तोमर (Union Agriculture Minister Narendra Singh Tomar) ने कहा कि किसानों ने चार प्रस्ताव रखे थे, जिसमें दो पर सहमति बन गई है। पर्यावरण संबंधी अध्यादेश पर रजामंदी हो गई है। एमएसपी पर कानून को लेकर चर्चा जारी है। हम एमएसपी पर लिखित आश्वसन देने के लिए तैयार हैं। MSP जारी रहेगी। बिजली बिल को लेकर भी सहमति बन गई है। पराली के मुद्दे पर भी रजामंदी हो गई है। केंद्रीय मंत्री ने कहा कि मुद्दों पर किसान-सरकार के बीच 50 फीसदी सहमति बन गई है। किसानों के लिए सम्मान और संवेदना है। आशा है कि किसान और सरकार में सहमति बनेगी। समिति बनाने के लिए सरकार पहले दिन से तैयार है।

कृषि मंत्री ने खाया किसानों के साथ खाया लंगर

इससे पहले विज्ञान भवन में वार्ता के बीच मंत्रियों ने आज ब्रेक में किसानों के साथ लंगर खाया। केंद्रीय कृषि मंत्री नरेंद्र सिंह तोमर और पीयूष गोयल भी प्लेट लेकर लाइन में दिखे। किसानों के लिए खाना भी हर बार की तरह उनके स्थान से ही आया। पिछली बैठकों में किसानों ने सरकार द्वारा दिए गए भोजन को खाने से इनकार किया था। वहीं, दिल्ली की जिन सीमाओं पर किसान प्रदर्शन कर रहे हैं वहां उनके समर्थकों का जमावड़ा बढ़ता ही जा रहा है। अब इस आंदोलन की लहर बिहार भी पहुंच चुकी है जहां से किसी तरह के प्रदर्शन की बात अब तक सामने नहीं आ रही थी।

हिमाचल अभी अभी Mobile App का नया वर्जन अपडेट करने के लिए इस Link पर Click करें… 

- Advertisement -

Facebook Join us on Facebook Twitter Join us on Twitter Instagram Join us on Instagram Youtube Join us on Youtube

हिमाचल अभी अभी बुलेटिन

Download Himachal Abhi Abhi App Himachal Abhi Abhi IOS App Himachal Abhi Abhi Android App

टेक्नोलॉजी / गैजेट्स / ऑटो

Himachal Abhi Abhi E-Paper


विशेष




सब्सक्राइब करें Himachal Abhi Abhi अलर्ट
Logo - Himachal Abhi Abhi

पाएं दिनभर की बड़ी ख़बरें अपने डेस्कटॉप पर

अभी नहीं ठीक है