Covid-19 Update

3,04, 629
मामले (हिमाचल)
2,95, 385
मरीज ठीक हुए
4154
मौत
44,126,994
मामले (भारत)
589,215,995
मामले (दुनिया)

तुलसी के पत्ते तोड़ने से पहले जान लें ये नियम, नहीं तो होगा नुकसान

तुलसी पूजा से माता लक्ष्मी की कृपा होती है प्राप्त

तुलसी के पत्ते तोड़ने से पहले जान लें ये नियम, नहीं तो होगा नुकसान

- Advertisement -

हिंदू धर्म में तुलसी (Tulsi) के पौधे से बहुत श्रद्धा से पूजा की जाती है। माना जाता है कि तुलसी के पौधे में साक्षात माता लक्ष्मी का वास होता है। तुलसी के पौधे की नियमित पूजा करने से घर में खुशी आती है और सुख-समृद्धि भी बढ़ती है। आज हम आपको तुलसी पूजन और तुलसी के पत्ते तोड़ने के कुछ नियमों के बारे में बताएंगे।

यह भी पढ़ें:इस दिन तुलसी के पौधे की जड़ में रखें ये चीज, दुर्भाग्य होगा दूर

बता दें कि तुलसी का पूजन हर किसी को करना चाहिए। तुलसी की पूजा करने वाले व्यक्ति पर माता लक्ष्मी प्रसन्न होती है। कुछ लोग तुलसी के पत्तों को बिना सोचे-समझे ही तोड़ लेते हैं। जबकि, ऐसा करके वे पाप के भागीदार बन जाते हैं। तुलसी के पत्ते तोड़ने के लिए ज्योतिष में कुछ नियम बताए गए हैं, जिनका ख्याल रखना बहुत जरूरी है।

तुलसी इतनी पावन है कि स्वयं विष्णु भगवान ने इन्हें अपने सिर पर स्थान दे दिया था। शास्त्रों में वर्णित है कि बिना तुलसी के पत्ते भगवान विष्णु प्रसाद ग्रहण नहीं करते हैं। इस प्रकार माना गया है कि तुलसी के पौधे को वैधृति और व्यतीपात के इन योगों में भूलकर भी नहीं तोड़ना चाहिए।

तुलसी के पत्ते को तोड़ने के लिए दिन और वार का भी ख्याल रखना चाहिए। मंगलवार (Tuesday), रविवार और शुक्रवार को भूलकर भी तुलसी के पत्ते नहीं तोड़ने चाहिए। यदि किसी के घर में मौत हो जाए तो तेरहवीं तक तुलसी का पत्ता नहीं तोड़ना चाहिए। वहीं सूर्योदय और सूर्याअस्त के दौरान भी तुलसी के पत्ते नहीं तोड़ने चाहिए।

हिमाचल और देश-दुनिया की ताजा अपडेट के लिए join करें हिमाचल अभी अभी का Whats App Group… 

 

- Advertisement -

Facebook Join us on Facebook Twitter Join us on Twitter Instagram Join us on Instagram Youtube Join us on Youtube

हिमाचल अभी अभी बुलेटिन

Download Himachal Abhi Abhi App Himachal Abhi Abhi IOS App Himachal Abhi Abhi Android App


विशेष \ लाइफ मंत्रा


Himachal Abhi Abhi E-Paper



---------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------
सब्सक्राइब करें Himachal Abhi Abhi अलर्ट
Logo - Himachal Abhi Abhi

पाएं दिनभर की बड़ी ख़बरें अपने डेस्कटॉप पर

अभी नहीं ठीक है