Covid-19 Update

2, 85, 044
मामले (हिमाचल)
2, 80, 865
मरीज ठीक हुए
4117*
मौत
43,148,500
मामले (भारत)
531,112,840
मामले (दुनिया)

हिमाचलः तेज बारिश के बीच नौवीं से 12वीं कक्षा के छात्र पहुंचे स्कूल

एक माह बाद स्कूलों में एक बार फिर से आज रौनक लौटी

हिमाचलः तेज बारिश के बीच नौवीं से 12वीं कक्षा के छात्र पहुंचे स्कूल

- Advertisement -

हिमाचल में आज से ग्रीष्मकालीन अवकाश (Summer Vacation) वाले स्कूलों खुल गए। तेज बारिश के बीच 9वीं से 12वीं कक्षाओं के छात्र स्कूल पहुंचे। कक्षाओं में जाने से पहले छात्रों की थर्मल स्कैनिंग कि गई। छात्र मास्क पहन स्कूल पहुंचे थे। करीब एक माह बाद स्कूलों (School) में एक बार फिर से आज रौनक लौटी है। हालांकि बारिश के चलते कई स्कूलों में कम छात्र पहुंचे लेकिन जो छात्र स्कूल पहुंचे उन्हें तय गाइडलाइन के तहत ही कक्षाओं में बिठाया गया था।

यह भी पढ़ें- हिमाचल में बदले मौसम के तेवर, शिमला -मनाली में बर्फबारी, निचले इलाकों में बारिश

जाहिर है प्रदेश सरकार और शिक्षा विभाग ने सभी स्कूल प्रबंधनों को बच्चों की संख्या के अनुसार स्कूलों में पढ़ाई का माइक्रो प्लान तैयार करने के निर्देश जारी किए थे। जिसके बाद शिक्षकों ने स्कूलों में पहुंचकर पूरा माइक्रो प्लान (Micro Plan) तैयार किया। आज उचित शारीरिक दूरी रखते हुए बैठाने के लिए जो सिटिंग प्लान तैयार किया था, उसके तहत छात्र कक्षा में बिठाए गए। स्कूल के कमरे की क्षमता अनुसार 50 फीसदी छात्र ही एक कक्षा में बैठे। ना ही सुबह प्रार्थना सभा हुई और ना ही कोई खेलकूद गतिविधि।

 

क्या बोले छात्र- छात्राएं 

छात्रों का कहना है कि कोविड-19 के चलते सबसे ज्यादा नुकसान शिक्षा व्यवस्था का हुआ है। 2 वर्ष से जिस तरह स्कूलों को बंद करने खोलने का क्रम जारी रहा, उससे पढ़ाई काफी बाधित हुई। लेकिन अब वार्षिक परीक्षाओं के नजदीक आकर स्कूलों को खोलने का फैसला सराहनीय है। स्टूडेंट्स का कहना है कि ऑनलाइन शिक्षण व्यवस्था के तहत अभी शिक्षक उन्हें हर संभव मदद प्रदान करते रहे हैं लेकिन कक्षाओं में आकर ऑफलाइन मोड में शिक्षा हासिल करना अलग अनुभव रहता है। उन्होंने कहा कि वार्षिक परीक्षाओं से पूर्व जितने भी दिन स्कूल आना होगा इस दौरान डट कर मेहनत करेंगे ताकि वार्षिक परीक्षा में अच्छे अंक लेकर उत्तीर्ण हो और साथ ही साथ आने वाले वर्षों के लिए शिक्षा व्यवस्था में खुद को मजबूत कर सके।

 

क्लास रूम को  सैनिटाइज किया गया है

गर्ल्ज सीनियर सेकेंडरी स्कूल की वाइस प्रिंसिपल प्रेरणा गौतम का कहना है कि शिक्षकों के लिए संस्थानों को 1 फरवरी को ही खोल दिया गया था। वहीं बच्चों के लिए करीब 1 महीने के बाद स्कूलों को दोबारा से खोला गया है। जिसमें 9वीं से लेकर जमा दो तक की सभी कक्षाओं को नियमित रूप से संचालित किया जाएगा। स्कूल के सभी क्लास रूम की सफाई करने के बाद उन्हें सैनिटाइज किया गया है, शिक्षकों के साथ-साथ स्टूडेंट्स को भी कोविड-19 प्रोटोकॉल का पालन करने की हिदायत जारी की गई है। स्कूल पहुंचने पर बच्चों के थर्मल स्कैनिंग के साथ-साथ सैनिटाइजेशन का भी प्रबंध किया गया है। इतना ही नहीं बच्चों के लिए फेस मास्क भी स्कूल में उपलब्ध कराए जा रहे हैं।

शीतकालीन अवकाश वाले स्कूल 16 फरवरी तक बंद हैं तो इनमें 17 फरवरी से कक्षाएं लगेंगी। प्रदेश में कोरोना के केस भी रोजाना कम हो रहे हैं। ऐसे में सरकार कुछ दिन बाद छोटी कक्षाओं के लिए भी स्कूल खोलने पर विचार कर सकती है।स्कूलों के साथ-साथ ट्यूशन सेंटर और कोचिंग अकादमी भी आज से खुल जाएंगी। इनमें भी बच्चे पहले की तरह पढ़ाई कर सकेंगे। इससे खासकर विभिन्न प्रतियोगी परीक्षाओं की तैयारी कर रहे बच्चों ने राहत की सांस ली है।

हिमाचल और देश-दुनिया की ताजा अपडेट के लिए join करें हिमाचल अभी अभी का Whats App Group… 

 

- Advertisement -

Facebook Join us on Facebook Twitter Join us on Twitter Instagram Join us on Instagram Youtube Join us on Youtube

हिमाचल अभी अभी बुलेटिन

Download Himachal Abhi Abhi App Himachal Abhi Abhi IOS App Himachal Abhi Abhi Android App


विशेष \ लाइफ मंत्रा


Himachal Abhi Abhi E-Paper



सब्सक्राइब करें Himachal Abhi Abhi अलर्ट
Logo - Himachal Abhi Abhi

पाएं दिनभर की बड़ी ख़बरें अपने डेस्कटॉप पर

अभी नहीं ठीक है