Covid-19 Update

2,86,061
मामले (हिमाचल)
2,81,413
मरीज ठीक हुए
4122
मौत
43,452,164
मामले (भारत)
551,819,640
मामले (दुनिया)

चांदी चमका देगी आपकी किस्मत, ऐसे करें इसका सही से इस्तेमाल

धार्मिक मान्यतााओं के अनुसार धातुओं को उपयोग में लाना शुभ होता है

चांदी चमका देगी आपकी किस्मत, ऐसे करें इसका सही से इस्तेमाल

- Advertisement -

हिंदू धर्म में धातुओं और रत्नों (Gems) को खासा स्थान है। मनुष्य की राशि के अनुसार सही धातु या रत्न को धारण किया जाए तो उसकी किस्मत बदलते देर नहीं लगती। तभी तो धार्मिक मान्यताओं में कई धातु (Metal) और रत्नों को पहनना या फिर उनका उपयोग में लाना शुभ माना गया है। यही कारण है कि अकसर लोग विशेष धातु से जुड़ी चीजों को पहनते हैं और उनका उपयोग करते हैं, इन्हीं में से एक है चांदी (Silver)। जी हां,  धार्मिक  दृष्टिकोण से चांदी बेहद पवित्र और सात्विक धातु मानी जाती है।

मान्यता के अनुसार चांदी की उत्पत्ति भगवान शिव (God Shiv) के नेत्रों से हुई है। ज्योतिष शास्त्रों में भी चांदी को हमेशा से फलदायी माना गया है। चांदी का संबंध धन के कारक शुक्र और मन के कारक चंद्रमा (Moon) से जुड़ा हुआ बताया जाता है। शरीर के जल और तत्वों पर चांदी नियंत्रित करता है। इसके साथ ही शरीर की समस्याओं को भी ये दूर करने में काम में आती है। आइए जानते हैं कि जीवन में चांदी की क्या महत्व होता है और इससे कैसे किस्मत बदल सकती है।

यह भी पढ़ें: उगते सूर्य के समय कर लें ये एक काम, ऐसा चमकेगा भाग्‍य, जीवन में नहीं रहेगी कोई कमी

धन लाभ के लिए  खास है चांदी

ज्योतिष शास्त्र में इस बात का उल्लेख किया गया है कि चांदी से मन मजबूत होने से साथ ही दिमाग (Mind) भी तेज होता है। अगर जीवन में चंद्रमा का अशुभ प्रभाव चल रहा हो तो चांदी को पहनना फलदायी होता है।

धन प्राप्ति के लिए चांदी का प्रयोग

ज्योतिष शास्त्र के मुताबिक अगर आप चांदी का छल्ला सबसे छोटी उंगली में धारण करते हैंए तो ये बहुत ही उत्तम होता है। इससे चंद्रमा का शुभ प्रभाव जीवन पर पड़चा है और समस्याओं को निवारण होकर धन की प्राप्ति होती है।

शरीर को करता है निरोग

आपको बता दें कि शुद्ध चांदी शरीर को निरोगी (Healthy)बनाने में भी कारगर है। अगर आप चांदी का कड़ा  पहनते हैं तो  इससे कफ, पित्त और वात और थाइराइड आदि नियंत्रित में रहता है और शरीर रोगों से दूर रहता है।

यह भी पढ़ें: शरीर में हो रहे बदलावों को ना करें इग्नोर, हो सकता है किसी बड़ी बीमारी का संकेत

बुरे ग्रहों का प्रभाव होता है कम

अगर आप शुद्ध चांदी की चेन को गंगाजल (Gangajal) से शुद्ध करके अपने गले में धारण किए रहते हैं तो इससे वाणी में मधुरता आती हैं और क्रोध वाले ग्रह शांत होते हैं। इसके अलावा मन भी एकाग्र रहता है।

चांदी के इस्तेमाल में रहें सावधान

चांदी अगर शुद्ध होती तो ज्यादा फलदायी होगी। अगर ठीक तरह से इसका इस्तेमाल नहीं किया जाए तो इसका दुष्प्रभाव भी जीवन पर पड़ सकता है। बता दें कि वृश्चिक,  मीन और कर्क राशि वालों के लिए चांदी धारण करना शुभ होता है,  जबकि माना जाता है कि सिंह, धनु और मेष राशियों के लिए चांदी अनुकूल साबित नहीं होता है।

हिमाचल और देश-दुनिया के ताजा अपडेट के लिए like करे हिमाचल अभी अभी का facebook page

- Advertisement -

Facebook Join us on Facebook Twitter Join us on Twitter Instagram Join us on Instagram Youtube Join us on Youtube

हिमाचल अभी अभी बुलेटिन

Download Himachal Abhi Abhi App Himachal Abhi Abhi IOS App Himachal Abhi Abhi Android App


विशेष \ लाइफ मंत्रा


Himachal Abhi Abhi E-Paper



---------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------
सब्सक्राइब करें Himachal Abhi Abhi अलर्ट
Logo - Himachal Abhi Abhi

पाएं दिनभर की बड़ी ख़बरें अपने डेस्कटॉप पर

अभी नहीं ठीक है