Covid-19 Update

2,21,437
मामले (हिमाचल)
2,16,413
मरीज ठीक हुए
3,704
मौत
34,081,040
मामले (भारत)
241,402,481
मामले (दुनिया)

फीस ना देने पर स्कूलों ने रोका छात्रों का रिजल्ट, सीएम जयराम से मिले अभिभावक

मांग पत्र सौंप कर स्कूलों की मनमानी के खिलाफ विरोध दर्ज करवाया

फीस ना देने पर स्कूलों ने रोका छात्रों का रिजल्ट, सीएम जयराम से मिले अभिभावक

- Advertisement -

सुंदरनगर। निजी स्कूलों में मनमानी फीस वसूली के खिलाफ अभिभावक अलग-अलग मंच से अपनी आवाज उठा रहे हैं। सरकार इस संबंध में अभी तक कोई ठोस कदम नहीं उठा पाई है। इसी बीच सीएम जयराम ठाकुर के 2 दिवसीय मंडी प्रवास के दौरान सुंदरनगर में निजी स्कूलों द्वारा फीस वसूली को लेकर संघर्षरत पेरेंट्स एसोसिएशन एवं छात्र -अभिभावक मंच एक प्रतिनिधिमंडल मिला उनसे मिला। प्रतिनिधिमंडल ने सीएम जयराम ठाकुर ( CM Jairam Thakur) को मांग पत्र सौंप कर स्कूलों की मनमानी के खिलाफ विरोध दर्ज करवाया गया। वहीं इस दौरान अभिभावकों ने सुंदरनगर के निजी स्कूलों द्वारा फीस जमा ( Fee deposit) नहीं करवाने के कारण उनके बच्चों के परीक्षा परिणाम रोके जाने की शिकायत पर सीएम जयराम ठाकुर से की। सीएम ने हैरानी जताते हुए फीस को लेकर छात्रों के परीक्षा परिणाम रोकने को सरासर गलत बताया।अभिवावकों ने सीएम को मांग पत्र में कोविड-19 के संदर्भ में वसूली वार्षिक फीस रिफंड करवाने, स्कूल प्रबंधनों की मनमानी पर रोक लगाने व कड़ा कानून बनाने की मांग की है।

यह भी पढ़ें: सुरेश कश्यप भी बोले- कांग्रेस में बिखराव की स्थिति, नेता मीडिया पर ही कर रहे टिप्पणियां

अभिवावकों ने सीएम जयराम ठाकुर से मांग की है कि 2020-21 कोविड काल मे ट्यूशन फीस के अलावा वसूली गई वार्षिक शुल्क आगामी फीस में एडजस्ट करवाने,फीस वृद्धि पर रोक, बच्चों का रोका गया रिजल्ट अविलम्ब जारी करवाने, संवैधानिक तौर पर पीटीए गठन के निर्देश सबंधित अधिसूचना जारी करने के साथ निजी स्कूलों के संदर्भ में अभिवावकों के हित को ध्यान में रखते हुए नया कानून बनाया जाए। पेरेंट्स एसोसिएशन सुंदरनगर के प्रधान अश्विनी सैनी ने कहा कि निजी स्कूल प्रबंधन के मनमानी पूर्ण रवैये से अभिवावकों को विभिन्न समस्याएं पेश आ रही है। उन्होंने कहा कि कोविड-19 के दौर में स्कूल बंद रहे और इस दौरान गेम, सेलिब्रेशन,लाइब्रेरी,साइंस लैब,कम्प्यूटर,डिजिटल क्लास ,सॉफ्टवेयर सहित किसी सुविधा का उपयोग नहीं किया गया। लेकिन स्कूलों द्वारा वार्षिक फीस को ना तो एडजस्ट किया जा रहा है ना ही रिफंड किया जा रहा है।

यह भी पढ़ें: सीएम जयराम ठाकुर मंडी दौरे पर, सुंदरनगर में कोरोना को लेकर बैठक की

अभिभावक मंच सुंदरनगर की उपाध्यक्ष हिमाचली ठाकुर ने कहा कि निजी स्कूलों द्वारा ली जा रहे वार्षिक शुल्क को लेकर सीएम जयराम ठाकुर से मुलाकात की गई है। उन्होंने कहा कि मुख्यमंत्री के द्वारा निजी स्कूलों को लेकर जल्द ही बैठक कर मामले का समाधान किया जाएगा। उन्होंने कहा कि सीएम जयराम ठाकुर ने उन्हें निजी स्कूल के द्वारा फीस के बदले रिजल्ट रोकने को लेकर गलत ठहराया गया है। वहीं उन्होंने कहा कि अगर जल्द ही समस्या का समाधान नहीं हुआ तो अभिभावक मंच हिमाचल प्रदेश में सड़कों पर उतरकर आंदोलन को और उग्र करेगा।

यह भी पढ़ें: टीबी उन्मूलन कार्यक्रम में हिमाचल को राष्ट्रीय स्तर पर अवार्ड, पांच जिलों को भी पदक

जयराम ठाकुर ने कहा कि अभिभावक और स्कूल प्रबंधक मामले को लेकर हाईकोर्ट तक पहुंचे हैं इसको लेकर सरकार द्वारा दोनों ही पक्षों को शिक्षा विभाग के साथ बैठक कर निर्णय लेने की बात कही है। लेकिन अभी तक मामले में कोई भी निर्णय नहीं लिया गया है। इसके बावजूद मामला हाईकोर्ट में चल रहा है जो भी आने वाले समय में उचित होगा सही कदम उठाए जाएंगे।

हिमाचल और देश-दुनिया की ताजा अपडेट के लिए join करें हिमाचल अभी अभी का Whats App Group 

- Advertisement -

Facebook Join us on Facebook Twitter Join us on Twitter Instagram Join us on Instagram Youtube Join us on Youtube

हिमाचल अभी अभी बुलेटिन

Download Himachal Abhi Abhi App Himachal Abhi Abhi IOS App Himachal Abhi Abhi Android App


विशेष \ लाइफ मंत्रा


Himachal Abhi Abhi E-Paper



सब्सक्राइब करें Himachal Abhi Abhi अलर्ट
Logo - Himachal Abhi Abhi

पाएं दिनभर की बड़ी ख़बरें अपने डेस्कटॉप पर

अभी नहीं ठीक है