हिमाचल प्रदेश चुनाव परिणाम 2017

BJP

44

INC

21

अन्य

3

हिमाचल प्रदेश चुनाव परिणाम 2022 लाइव

3,12, 506
मामले (हिमाचल)
3, 08, 258
मरीज ठीक हुए
4190
मौत
44, 664, 810
मामले (भारत)
639,534,084
मामले (दुनिया)

फ्रेंडशिप पीक पर लापता पर्वतारोही आशुतोष की मिलने की जगी आस, मिला हेल्मेट

आज विशेषज्ञों की टीम आशुतोष की तलाश में हुई रवाना, सियाचिन में रहने का है अनुभव

फ्रेंडशिप पीक पर लापता पर्वतारोही आशुतोष की मिलने की जगी आस, मिला हेल्मेट

- Advertisement -

कुल्लू। हिमाचल की पर्यटन नगरी मनाली (Manali) के फ्रेंडशिप पीक पर ग्लेशियर की चपेट में आने के बाद लापता (Missing) हुए पर्वतारोही आशुतोष (Mountaineer Ashutosh) की गुरुवार पांचवे दिन मिलने की उम्मीद जगी है। आज पांच दिन बाद रेस्क्यू टीम को पर्वतारोही का हेल्मेट मिला है। जिसके बाद से उम्मीद जगाई जा रही है कि लापता भी अब मिल जाएगा। वहीं आशुतोष की तलाश के लिए अब नई विशेषज्ञों की टीम को भी लापता की तलाश के लिए भेजा गया है। इस रेस्क्यू टीम को तिरंगा नाम दिया गया है।

यह भी पढ़ें:मनाली में रेको एवलांच रेस्क्यू डिवाइस से की जाएगी लापता पर्वतारोही की तलाश

बता दें कि यह टीम अटल बिहारी वाजपेयी पर्वतारोहण संस्थान के तत्वाधान में सियाचिन में तैनात रहती है और इस टीम के सदस्यों को हिमस्खलन (Avalanche) में लापता हुए लोगों को तलाश करने के बेहतर तरीके पता है। बता दें कि आशुतोष को ढूंढने के लिए जिला प्रशासन ने अब तक तीन टीमों को भेजा था, लेकिन यह सभी टीमें खाली हाथ लौट आईं हैं। तीनों ही टीमों को बर्फीली हवा के बीच आशुतोष को ढूंढने में काफी दिक्कतों का सामना करना पड़ा। जिसके चलते अब फ्रेंडशिप पीक पर लापता पर्वतारोही आशुतोष की तलाश के लिए विशेषज्ञों की मदद (Expert Help) ली जा रही है। अटल बिहारी वाजपेयी पर्वतारोहण एवं खेल संस्थान की एक और टीम वीरवार को फ्रेंडशिप पीक पर रवाना हुई हो गई है। हिमस्खलन में रेस्क्यू (Rescue) की तकनीकी जानकारी के लिए तिरंगा माउंटेन बचाव दल (टीएमआर) के तीन सदस्य भी इस टीम के साथ गए हैं।

Rescue-Team

Rescue-Team

12 विशेषज्ञों की टीम फ्रेंडशिप पीक को हुई रवाना

बता दें कि दिल्ली से बुलाई गई विशेषज्ञों की टीम को बर्फ में लापता को ढूंढने का अच्छा खासा अनुभव है। यह टीम हिमस्खलन बचाव एवं प्रशिक्षण के माध्यम से कठिन क्षेत्रों में तैनात सेना के जवानों का जीवन बचाने में अपनी अहम भूमिका अदा करती है। भारतीय सेना से संबद्ध इस गैर.लाभकारी संगठन की स्थापना 2016 में की गई थी। इस टीम में 12 सदस्य हैं।

हिमाचल और देश-दुनिया की ताजा अपडेट के लिए join करें हिमाचल अभी अभी का Whats App Group

- Advertisement -

Facebook Join us on Facebook Twitter Join us on Twitter Instagram Join us on Instagram Youtube Join us on Youtube

हिमाचल अभी अभी बुलेटिन

Download Himachal Abhi Abhi App Himachal Abhi Abhi IOS App Himachal Abhi Abhi Android App


विशेष \ लाइफ मंत्रा


Himachal Abhi Abhi E-Paper



सब्सक्राइब करें Himachal Abhi Abhi अलर्ट
Logo - Himachal Abhi Abhi

पाएं दिनभर की बड़ी ख़बरें अपने डेस्कटॉप पर

अभी नहीं ठीक है