Covid-19 Update

2,06,832
मामले (हिमाचल)
2,01,773
मरीज ठीक हुए
3,511
मौत
31,810,427
मामले (भारत)
200,650,253
मामले (दुनिया)
×

यहां शादी के बाद तीन दिन तक शौचालय नहीं जा सकते दूल्हा-दुल्हन

इंडोनेशिया के टीडॉन्ग नामक समुदाय में निभाई जाती है ये अनोखी रस्म

यहां शादी के बाद तीन दिन तक शौचालय नहीं जा सकते दूल्हा-दुल्हन

- Advertisement -

शादी का दिन हर किसी के लिए खुशी और उत्साह का दिन होता है। हर धर्म, समुदाय और देश में शादी को लेकर अलग-अलग रीति-रिवाज (Customs and Traditions) होते हैं। कुछ जगह तो ऐसे रिवाज होते हैं जिनको सुनकर हैरानी भी होती है। ऐसे ही एक रिवाज की बात आज हम करने वाले हैं। दुनिया में एक ऐसा देश हैं जहां पर शादी के बाद तीन दिन तक दूल्हा-दुल्हन शौचालय नहीं जा सकते हैं। यहां पर शादी के तीन दिन बाद तक नवविवाहित जोड़े के शौचालय जाने पर पाबंदी रहती है। सुनने में तो ये काफी अजीब लग ही रहा होगा लेकिन सच है।

यह भी पढ़ें: दूसरी शादी से पहले खुद से करें कुछ सवाल, आसान होगी आगे की राह

ये अनोखी रस्म इंडोनेशिया (Indonesia) के टीडॉन्ग नामक समुदाय में निभाई जाती है। इस रस्म को लेकर कई मान्यताएं हैं जिसके चलते लोग इसे निभाते हैं। इंडोनेशिया के टीडॉन्ग समुदाय, बिरादरी के लोग इस रस्म को बहुत महत्वपूर्ण समझते हैं और इसको निभाते भी हैं। इस रिवाज के पीछे मान्यता है कि शादी एक पवित्र समारोह होता है यदि वर-वधू शौचालय जाते हैं तो उनकी पवित्रता भंग होती है और वे अशुद्ध हो जाते हैं इसलिए शादी के तीन दिन तक दुल्हा-दुल्हन के शौचालय जाने पर पाबंदी रहती है। अगर कोई ऐसा करता है तो उसे अपशगुन मानते हैं।


यह भी पढ़ें: सुंदर होने पर भी शादी के लिए तरसती हैं यहां की लड़कियां-पहाड़ों से है इसका नाता

इंडोनेशिया के टीडॉन्ग समुदाय (Tidong Community) में इस रस्म को निभाने के पीछे एक और कारण है कि नवविवाहित जोड़ों को बुरी नजर से बचाना। इस बिरादरी के लोगों की मान्यताओं के अनुसार जहां पर मल त्याग किया जाता है वहां गंदगी होती है जिसके कारण वहां पर नकारात्मक शक्तियां होती हैं। अगर दूल्हा-दुल्हन शादी के तुरंत बाद शौचालय जाते हैं तो उन पर नकारात्मता का प्रभाव हो सकता है। इससे उनके दांपत्य जीवन में परेशानियां आ सकती हैं, रिश्ते में दरार पड़ सकती हैं और नवविवाहित जोड़े की शादी टूट सकती है। शादी के तीन दिन तक दूल्हा-दुल्हन को कोई परेशानी ना हो और वे रस्म को अच्छे से निभा सकें इसके लिए उन्हें कम खाना-पानी दिया जाता है और इस बात का ध्यान रखा जाता है कि वे शौचालय न जाएं। अब रिवाज के चक्कर में दूल्हा-दुल्हन का क्या हाल होता होगा वो तो वही जानते हैं।

 

 

हिमाचल और देश-दुनिया की ताजा अपडेट के लिए join करें हिमाचल अभी अभी का Whats App Group 

- Advertisement -

Facebook Join us on Facebook Twitter Join us on Twitter Instagram Join us on Instagram Youtube Join us on Youtube

हिमाचल अभी अभी बुलेटिन

Download Himachal Abhi Abhi App Himachal Abhi Abhi IOS App Himachal Abhi Abhi Android App

टेक्नोलॉजी / गैजेट्स / ऑटो

Himachal Abhi Abhi E-Paper


विशेष




सब्सक्राइब करें Himachal Abhi Abhi अलर्ट
Logo - Himachal Abhi Abhi

पाएं दिनभर की बड़ी ख़बरें अपने डेस्कटॉप पर

अभी नहीं ठीक है