×

ये तेल बनाएंगे आपके बिगड़े काम, जानिए किस तरह करें उपाय

ये तेल बनाएंगे आपके बिगड़े काम, जानिए किस तरह करें उपाय

- Advertisement -

कई बार लाख कोशिशें करने के बाद भी लोगों के काम नहीं बनते और उनके जीवन में कोई ना कोई कष्ट रहते ही हैं। इसके लिए कई बार घर में इस्तेमाल होने वाली छोटी सी चीज भी काम आ सकती है। हम आज बात कर रहे हैं तेल की। जी हां, तेल का इस्तेमाल आप खाने में या बालों में लगाने आदि के लिए करते ही होंगे। यही तेल आपकी किस्मत भी चमका सकता है। हमारे जीवन में आने वाले सभी उतार-चढ़ाव के पीछे ग्रह-नक्षत्र होते हैं। यदि ग्रहों की स्थिति शुभ ना हो तो हमारा जीवन कष्टों से भरा रहता है। इसके लिए कुछ ज्योतिष्य उपाय किए जा सकते हैं।


हिमाचल और देश-दुनिया की ताजा अपडेट के लिए join करें हिमाचल अभी अभी का Whats App Group

तेल की बात करें तो यह कई तरह के होते हैं और हर तेल अलग-अलग ग्रहों से जुड़ा होता है। यदि आपकी कुंडली में कोई ग्रह ठीक नहीं है और उससे आपको अशुभ फल की प्राप्ति हो रही है तो उससे जुड़ा तेल इस्तेमाल करके आप उसके दुष्प्रभाव से बच सकते हैं। तेल का रंग भी बहुत महत्वपूर्ण होता है। रंग के अनुसार ये ग्रहों से जुड़े होते हैं। अगर आप नियम का पालन करके इसका उपयोग करते हैं तो आपकी किस्मत चमक उठेगी। हम आपको बताते हैं तेल से जुड़े कुछ उपाय …

चंदन का तेल: राहु या चंद्रमा यदि अशुभ फल दे रहा है तो चंदन तेल का उपयोग करें। इससे ये ग्रह शांत हो जाएंगे।

नीम का तेल: राहु के कारण यदि आपकी सेहत खराब रहती है तो आप नीम के तेल का इस्तेमाल करें।

नारियल तेल: यदि आपकी कुंडली में चंद्रमा की स्थिति अशुभ है और आपको शारीरिक कष्ट है तो ऐसे में आप नारियल के तेल को अपने शरीर पर लगाएं।

तिल का तेल: पैसों की तंगी को दूर करने के लिए आप रोजाना घर में तिल के तेल का दीपक जलाएं। इससे देवी लक्ष्मी प्रसन्न होती हैं और आपके सुख और समृद्धि में वृद्धि होती है।

बादाम का तेल: हम सभी जानते हैं कि रोजाना बादाम खाने से हमारी बुद्धि तेज होती है लेकिन क्या आप ये जानते हैं कि ऐसा इसलिए कहा जाता है क्योंकि इस तेल का संबंध बुद्ध ग्रह से है। केवल बुद्ध ही नहीं बादाम का तेल शुक्र से भी जुड़ा हुआ है। इस तेल से आपको बुद्धि और सुंदरता का वरदान मिलता है।

चमेली का तेल: यह तेल मंगल से जुड़ा है। अगर आपके वैवाहिक जीवन में कलह कलेश रहता है तो आप इस तेल का प्रयोग करें। इसके अलावा अविवाहित जातकों के विवाह में यदि विलंब हो रहा है या विवाह में कोई बाधा आ रही है तो इस तेल को आप हनुमान जी को रोजाना अर्पित करें। युवावस्था में चमेली के तेल का प्रयोग न करें।

सरसों तेल: सरसों का तेल शनि देव से जुड़ा हुआ है। अगर आपकी कुंडली में शनि की स्थिति अशुभ है तो ऐसे में आपको इस तेल का प्रयोग करना चाहिए। अगर आपको शनि के कारण शारीरिक कष्ट हो रहा है तो सरसों तेल को आप अपने पूरे शरीर और बालों पर लगाएं निश्चित रूप से आपको फायदा मिलेगा। इसके अलावा अगर आप पर शनि की साढ़े साती चल रही है तो रोजाना पीपल के पेड़ में सरसों तेल का दीपक जरूर दिलाएं। इससे शनि देव शांत रहेंगे और आपके कष्ट भी कम होंगे। अगर आपका मंगल मजबूत है तो इस तेल का प्रयोग आप भूलकर भी न करें। आप बेरोजगार हैं और नौकरी पाने के लिए काफी संघर्ष कर रहे हैं तो सरसों के तेल का दान करें। आपकी मनोकामना जरूर पूरी होगी। कुंडली में बृहस्पति के गड़बड़ होने पर भी सरसों के तेल का इस्तेमाल करना लाभदायक होता है।

- Advertisement -

Facebook Join us on Facebook Twitter Join us on Twitter Instagram Join us on Instagram Youtube Join us on Youtube

हिमाचल अभी अभी बुलेटिन

Download Himachal Abhi Abhi App Himachal Abhi Abhi IOS App Himachal Abhi Abhi Android App

टेक्नोलॉजी / गैजेट्स / ऑटो

Himachal Abhi Abhi E-Paper


विशेष




सब्सक्राइब करें Himachal Abhi Abhi अलर्ट
Logo - Himachal Abhi Abhi

पाएं दिनभर की बड़ी ख़बरें अपने डेस्कटॉप पर

अभी नहीं ठीक है