Covid-19 Update

2,06,027
मामले (हिमाचल)
2,01,270
मरीज ठीक हुए
3,505
मौत
31,655,824
मामले (भारत)
198,557,259
मामले (दुनिया)
×

ये राजा था इतिहास का सबसे अमीर आदमी, इसकी संपत्ति का अंदाजा लगाना भी मुश्किल

उसके राज में एक साल में लगभग 1000 किलो सोने का होता था उत्पादन

ये राजा था इतिहास का सबसे अमीर आदमी, इसकी संपत्ति का अंदाजा लगाना भी मुश्किल

- Advertisement -

आपने कभी सोचा है इस दुनिया में सबसे अमीर आदमी कौन है या कौन रहा होगा। कई लोगों के मन में ये सवाल तो आता ही होगा। आज हम इतिहास के सबसे अमीर आदमी (Richest man in history) के बारे में आपको बताते हैं। टिम्बकटू का राजा मनसा मूसा इतिहास का सबसे अमीर आदमी था। आज के समय में टिम्बकटू अफ्रीकी देश माली का एक शहर है। कहते हैं कि उसके पास इतनी संपत्ति थी, जिसका अंदाजा लगाना भी मुश्किल था। मूसा ने माली की सल्तनत (kingdom) पर उस समय हुकूमत किया था, जब वहां सोने के भंडार हुआ करते थे। कहते हैं कि उसके राज में एक साल में लगभग 1000 किलो सोने का उत्पादन होता था।

यह भी पढ़ें:  दुनिया के ऐसे शहर जहां भूतों का है डेरा, रात में जाने के नाम से घबराते हैं लोग

मनसा मूसा का असली नाम मूसा कीटा प्रथम (Moses Keita-I) था, लेकिन राजा बनने के बाद उनको मनसा कहा जाने लगा। मनसा का मतलब बादशाह होता है। मूसा की सल्तनत इतनी बड़ी थी कि इसके अंतिम छोर के बारे में अंदाजा नहीं लगाया जा सकता था। आज के मॉरीटानिया, सेनेगल, गांबिया, गिनिया, बुर्किना फासो, माली, नाइजर, चाड और नाइजीरिया तब मूसा की सल्तनत का हिस्सा हुआ करते थे। 1312 ईस्वी में मनसा मूसा माली साम्राज्य का शासक बना था।


यह भी पढ़ें: आज तक नहीं हुआ इस पुल का उद्घाटन, इससे जुड़े हैं कई रोचक किस्से

 

करीब 25 साल के अपने शासनकाल में उसने कई मस्जिदों का निर्माण कराया था, जिनमें से कई तो आज भी मौजूद हैं। टिम्बकटू का जिंगारेबेर मस्जिद मनसा मूसा के दौर में बनी उन्हीं मस्जिदों में से एक है।

 


मनसा मूसा से जुड़ी एक कहानी काफी मशहूर है। कहा जाता है कि 1324 ईस्वी में मनसा मूसा मक्का की यात्रा पर निकला था। इस दौरान उसके काफिले में करीब 60 हजार लोग शामिल थे, जिनमें से 12 हजार तो केवल उसके निजी अनुयायी थे। इसके अलावा मनसा मूसा जिस घोड़े पर सवार थे, उससे आगे 500 लोगों का एक दस्ता था और सबके हाथ में सोने की एक-एक छड़ी थी। कहते हैं कि मनसा मूसा के काफिले में 80 ऊंटों का एक जत्था भी था और हर ऊंट पर 136 किलो सोना लदा था। कहा जाता है कि मनसा मूसा इतने उदार थे कि जब वो मिस्र की राजधानी काहिरा से गुजरे तो वहां उन्होंने गरीबों को इतना दान दे दिया कि उस इलाके में बड़े पैमाने पर महंगाई बढ़ गई थी।

 

 

हिमाचल और देश-दुनिया की ताजा अपडेट के लिए join करें हिमाचल अभी अभी का Whats App Group 

- Advertisement -

Facebook Join us on Facebook Twitter Join us on Twitter Instagram Join us on Instagram Youtube Join us on Youtube

हिमाचल अभी अभी बुलेटिन

Download Himachal Abhi Abhi App Himachal Abhi Abhi IOS App Himachal Abhi Abhi Android App

टेक्नोलॉजी / गैजेट्स / ऑटो

Himachal Abhi Abhi E-Paper


विशेष




सब्सक्राइब करें Himachal Abhi Abhi अलर्ट
Logo - Himachal Abhi Abhi

पाएं दिनभर की बड़ी ख़बरें अपने डेस्कटॉप पर

अभी नहीं ठीक है