हिमाचल प्रदेश चुनाव परिणाम 2022

BJP

0

INC

0

अन्य

0

हिमाचल प्रदेश चुनाव परिणाम 2022 लाइव

3,12, 506
मामले (हिमाचल)
3, 08, 258
मरीज ठीक हुए
4190
मौत
44, 664, 810
मामले (भारत)
639,534,084
मामले (दुनिया)

दो करोड़ में बिकी ये भेड़, मालिक भी हैरान, जानिए क्या है इस नस्ल में खासियत

इस नस्ल की भेड़ पर फर की नहीं होती है मोटी परत

दो करोड़ में बिकी ये भेड़, मालिक भी हैरान, जानिए क्या है इस नस्ल में खासियत

- Advertisement -

आपको जानकार हैरानी (Surprise) होगी कि एक भेड़ ( Sheep) दो करोड़ में बिकी है। अब आपके जेहन में यह सवाल भी आता होगा कि आखिरकार इस भेड़ में ऐसी क्या खासियत है जो इसकी इतनी कीमत लगी है। तो आइए आपको बताते हैं कि इसमें ऐसी क्या ऐसी खासियत है जो इसकी कीमत दो करोड़ रुपए लगी है। दरअसल इस प्रकार की नस्ल में फर की पतर मोटी नहीं होती है। इससे पहले पिछले वर्ष इसी नस्ल की भेड़ 1.35 करोड़ रुपए (Rs 1.35 crore) में बिकी थी। मगर इस साल इस भेड़ की कीमत दो करोड़ रुपए लगी है जो अपने आप में एक रिकॉर्ड है।

यह भी पढ़ें- 5जी प्लान कितना महंगा होगा और क्या इसके लिए बदलनी पड़ेगी सिम, जानिए विस्तार से

आपको बता दें कि यह एक ऑस्ट्रेलियन भेड़ है। इसको करीब दो करोड़ रुपए में एलीट ऑस्ट्रेलिया व्हाइट सिंडिकेट (Australia White Syndicate) ने खरीदा है। इस सिंडिकेट में न्यू साउथ (New south) में चार लोग शामिल है। इस सिंडीकेट के एक सदस्य ने इस संबंध में बताया कि यह एक एलीट भेड़ है। हम इस भेड़ के जेनेटिक्स का इस्तेमाल दूसरी भेड़ों को मजबूत बनाने के लिए करेंगे। इसकी ग्रोथ बहुत ही शानदार है और साथ ही इस भेड़ को बड़ा होने में बहुत ही कम समय लगता है। वहीं इस संबंध में इसके मालिक ग्राहम गिलमोर (Graham Gilmore) ने बताया कि उसे यह उम्मीद ही नहीं थी कि उसकी यह भेड़ दो करोड़ रुपए में बिकेगी। उसने बताया कि ऐसा होना मेरे लिए एक हैरानी की बात है। ऑस्ट्रेलिया में ऊन और भेड़ के मीट की इंडस्ट्र बहुत ज्यादा ग्रोथ कर रही है। मीट की कीमत बढ़ती जा रही है और इसके विपरीत ऊन के फर निकालने वाले लोग अपेक्षाकृत घटते जा रहे हैं। इसका कारण यह है कि ऊन निकालने की प्रक्रिया बहुत ही महंगी है। ग्राहम गिलमोर ने बताया कि यही कारण है कि ऑस्ट्रेलियन भेड़ों (Australian Sheep) की कीमत बहुत ही ज्यादा है। वहीं स्टीव पेडरिक (Steve Pedrick) ने कहा कि शरीर पर फर कम होने की वजह से वह ऑस्ट्रेलियन कंडीशन्स के लिए ज्यादा फिट हैं। उन्होंने कहा. इनको पालना काफी सस्ता हैए इनका देखभाल करना आसान है और प्रोडक्टिविटी बहुत ज्यादा है, ये हमारे बहुत काम के हैं।

हिमाचल और देश-दुनिया की ताजा अपडेट के लिए join करें हिमाचल अभी अभी का Whats App Group

- Advertisement -

Facebook Join us on Facebook Twitter Join us on Twitter Instagram Join us on Instagram Youtube Join us on Youtube

हिमाचल अभी अभी बुलेटिन

Download Himachal Abhi Abhi App Himachal Abhi Abhi IOS App Himachal Abhi Abhi Android App


विशेष \ लाइफ मंत्रा


Himachal Abhi Abhi E-Paper



सब्सक्राइब करें Himachal Abhi Abhi अलर्ट
Logo - Himachal Abhi Abhi

पाएं दिनभर की बड़ी ख़बरें अपने डेस्कटॉप पर

अभी नहीं ठीक है