Covid-19 Update

2,17,615
मामले (हिमाचल)
2,12,133
मरीज ठीक हुए
3,643
मौत
33,563,421
मामले (भारत)
230,985,679
मामले (दुनिया)

First Hand: दलाई लामा की Virtual Teachings पर अंगुली उठाने वाले Lama को तिब्बतियों ने लताड़ा

First Hand: दलाई लामा की Virtual Teachings पर अंगुली उठाने वाले Lama को तिब्बतियों ने लताड़ा

- Advertisement -

मैक्लोडगंजतिब्बती धार्मिक गुरु दलाई लामा (Dalai Lama) की वर्चुअल टीचिंग पर अंगुली उठाने वाले वरिष्ठ लामा को तिब्बतियों ने जमकर लताड़ा है। तिब्बती संसद के पूर्व सदस्य टुल्कु उगेन टोपग्याल ने वर्चुअल टीचिंग (Virtual Teachings) को धार्मिक मूल्यों में होने वाली गिरावट का संकेत बताया था। इसके बाद से निर्वासित तिब्बती समुदाय आग-बाबूला होने लगा तो केंद्रीय तिब्बती प्रशासन को भी सामने आकर टुल्कु उगेन टोपग्याल के इस तरह के बयान की निंदा करनी पड़ी।

यह भी पढ़ें: वीरभद्र बोले, Bindal का इस्तीफा BJP की अंतर्कलह से ध्यान हटाने मात्र का एक असफ़ल प्रयास

 

अवलोकितेश्वरा सशक्तिकरण पर होगी टीचिंग

दलाई लामा के इसी माह में दो दिवसीय अवलोकितेश्वरा सशक्तिकरण-चेंन्रेसिग वांग (Avalokiteshvara Empowerment -chenresig wang) पर ऑनलाइन टीचिंग देने जा रहे हैं। टुल्कु उगेन टोपग्याल (Tulku Ugen Topgyal) का इस तरह का बयान ठीक उससे पहले आया है। इस पर केंद्रीय तिब्बती प्रशासन (Central Tibetan Administration) के धर्म और संस्कृति विभाग (Department of Religion and Culture) ने टुल्कु उगेन टोपग्याल की टिप्पणी की निंदा की है। उधर, कई तिब्बतियों ने टोपग्याल के खिलाफ सोशल मीडिया पर अभियान शुरू कर रखा है। विवाद को बढ़ता देख केंद्रीय तिब्बती प्रशासन के राष्ट्रपति डॉ लोबसांग सांग्ये (Dr. Lobsang Sangay) ने वरिष्ठ लामा के बयान को खारिज करते हुए, दलाई लामा के खिलाफ की गई टिप्पणी पर निराशा व्यक्त की है।

अभी आमने-सामने बैठकर टीचिंग संभव नहीं

कोरोना वायरस (Coronavirus) के बढ़ते प्रकोप के बीच दुनियाभर में ठहराव आ गया है। लोगों को अपने घरों के अंदर रहने की सलाह दी गई है और अधिकांश देशों में लॉकडाउन (Lockdown) के चलते ट्रांसपोर्ट व्यवस्था बंद पड़ी है। ऐसे संकट के समय में, भक्त अपने आध्यात्मिक गुरुओं के दिखाए रास्ते पर चलना चाहते हैं। दुनिया भर में अनुयायियों के अनुरोध पर, दलाई लामा ने आध्यात्मिक शिक्षाओं को ऑनलाइन देने की सहमति दी है। वह चंद रोज पहले भी वर्चुअल टीचिंग दे चुके हैं। चूंकि, अभी तक ये संभव नहीं है कि आमने-सामने बैठकर टीचिंग दी जा सके।

- Advertisement -

Facebook Join us on Facebook Twitter Join us on Twitter Instagram Join us on Instagram Youtube Join us on Youtube

हिमाचल अभी अभी बुलेटिन

Download Himachal Abhi Abhi App Himachal Abhi Abhi IOS App Himachal Abhi Abhi Android App


विशेष \ लाइफ मंत्रा


Himachal Abhi Abhi E-Paper



सब्सक्राइब करें Himachal Abhi Abhi अलर्ट
Logo - Himachal Abhi Abhi

पाएं दिनभर की बड़ी ख़बरें अपने डेस्कटॉप पर

अभी नहीं ठीक है